Breaking News
Jageshwar seat

Uttarakhand election 2022: जागेश्वर सीट पर बीजेपी-कांग्रेस में चुनावी जंग, प्रत्याशियों ने झोंकी ताकत

अल्मोड़ा। मतदान की तारीख नजदीक आने के साथ प्रदेश की 70 विधानसभा क्षेत्रों के साथ जागेश्वर विधानसभा में भी चुनावी जंग चरम पर पहुंच गई है। जागेश्वर विधानसभा में बीजेपी, कांग्रेस, आप, यूकेडी सहित तमाम प्रत्याशियों ने चुनाव प्रचार में पूरी ताकत झोंक दी है। विषम भौगोलिक क्षेत्र की जागेश्वर विधानसभा में मुख्य मुकाबला कांग्रेस के गोविन्द सिंह कुंजवाल और बीजेपी के मोहन सिंह मेहरा में है।

पूरे प्रदेश के साथ अल्मोड़ा जिले की जागेश्वर विधानसभा में भी प्रचार जोरों पर है। बीजेपी, कांग्रेस सहित तमाम राजनैतिक दल वोटरों को अपने पाले में लाने के लिए डोर टू डोर कैम्पेनिंग कर रहें हैं।

कांग्रेस प्रत्याशी गोविंद सिंह कुंजवाल का कहना है कि आज पूरा माहौल कांग्रेस के पक्ष में दिखाई दे रहा है। लोगों में बीजेपी के खिलाफ गुस्सा देखने को मिल रहा है। वह अपने विधानसभा क्षेत्र के प्रति हमेशा से समर्पित रहे हैं। ऐसे में उनका दावा है कि उनकी एक तरफा जीत संभव है।


वहीं, बीजेपी प्रत्याशी मोहन सिंह मेहरा ने कहा इस बार जागेश्वर सीट में परिवर्तन होना निश्चित है। वह जहां-जहां भी जा रहे हैं। पूरा माहौल उनके पक्ष में दिखाई दे रहा है। उनका दावा है कि इस बार इस सीट पर उनकी एक तरफा जीत होगी।

जागेश्वर विधानसभा पर नजर डाले तो इस विधानसभा क्षेत्र में गोविन्द सिंह कुंजवाल पांच बार के विधायक रह चुके हैं। सरल व्यक्तित्व के धनी गोविन्द सिंह कुंजवाल कुमाऊँ के बड़े नेताओं में शुमार हैं। गोविन्द सिंह कुंजवाल को कांग्रेस ने एक बार फिर प्रत्याशी बनाया है। ऐसे में कुंजवाल जागेश्वर विधानसभा में जीत के प्रबल दावेदारों में हैं।

राज्य बनने के बाद जागेश्वर सीट में गोविन्द सिंह कुंजवाल की बादशाहत अब तक कायम है। यहां बीजेपी अब तक जीत का स्वाद नहीं चख पाई है। हालांकि 2017 विधानसभा चुनाव में बीजेपी प्रत्याशी सुभाष पांडे ने गोविन्द सिंह कुंजवाल को कड़ी टक्कर दी। 2017 विधानसभा चुनाव में कांग्रेस के गोविन्द सिंह कुंजवाल महज 399 मतों से जीत दर्ज कर पाये थे। सांसों को रोक देने वाले इस मुकाबले में गोविन्द सिंह कुंजवाल को 24 हजार 132 जबकि सुभाष पांडे को 23 हजार 733 मत मिले थे।

2022 विधानसभा चुनाव में इस बार बीजेपी ने सुभाष पांडे की जगह पूर्व जिला पंचायत अध्यक्ष मोहन सिंह मेहरा को टिकट दिया है। मोहन सिंह मेहरा जमीन से जुड़े नेता हैं। मोहन सिंह मेहरा पूर्व में कांग्रेस प्रत्याशी गोविन्द सिंह कुंजवाल के खास हुआ करते थे। मेहरा पूर्व में गोविन्द सिंह कुंजवाल की जीत की रणनीति पर काम करते थें। लेकिन कांग्रेस के विवाद के बाद मेहरा ने बीजेपी ज्वाइन कर ली। 2022 विधानसभा चुनाव में बीजेपी के मोहन सिंह मेहरा कांग्रेस के कद्दावर नेता गोविन्द सिंह कुंजवाल को कड़ी टक्कर देते दिखाई दे रहें हैं।

Check Also

विस सत्र 2 दिन में खत्म करने पर बिफरे विधायक मनोज तिवारी, सरकार पर लगाये यह आरोप

🔊 इस खबर को सुने अल्मोड़ा: उत्तराखंड का शीतकालीन विधानसभा सत्र 2 दिन में खत्म …