Breaking News

अपात्रों के राशन कार्ड बनाने पर ग्रामीण भड़के, एसडीएम कार्यालय के बाहर किया प्रदर्शन

सैकड़ों गरीब मजदूर पात्रों के सालों से बने राशन कार्डों को बिना जांच के बीपीएल से एपीएल कर दिया गया। उनके स्थान पर ग्राम प्रधान ने गांव के ही अपात्र लोगों के बिना किसी आदेश के राशन कार्ड बना दिये।

डेस्क। काशीपुर के फिरोजपुर मानपुर गांव में बिना जांच के बीपीएल सूची से नाम हटाने और अपात्रों का राशन कार्ड बनाने का आरोप लगाते हुए ग्रामीणों ने एसडीएम कार्यालय के बाहर धरना प्रदर्शन किया। साथ ही एसडीएम कार्यालय में ज्ञापन सौंपकर मामले की जांच कराकर निरस्त राशन कार्डों को पूर्व की भांति बहाल करने और दोषियों के खिलाफ कार्रवाई की मांग की।

कांग्रेसी नेता जय सिंह गौतम के नेतृत्व में ग्राम फिरोजपुर के ग्रामीणों ने एसडीएम कार्यालय के बाहर धरना प्रदर्शन किया। इस दौरान वक्ताओं ने कहा कि ग्राम पंचायत फिरोजपुर और मानपुर के सैकड़ों गरीब मजदूर पात्रों के सालों से बने राशन कार्डों को बिना जांच के बीपीएल से एपीएल कर दिया गया। उनके स्थान पर ग्राम प्रधान ने गांव के ही अपात्र लोगों के बिना किसी आदेश के राशन कार्ड बना दिये। तीन महीने पहले जब वह राशन विक्रेता के पास राशन लेने गये तो उन्हें पता चला कि उनके कार्ड एपीएल हुए हैं।

ग्रामीणों ने कहा कि जब इस संबंध में सर्वेयर आंगनबाड़ी कार्यकत्री से पूछा तो उसने बताया कि ग्राम प्रधान व उसके माता-पिता ने जांच के लिए फार्म नहीं दिये और न ही हमने कोई जांच की। जब एडीओ पंचायत से जानकारी ली गई तो उन्होंने बताया कि यहां से कोई राशन कार्ड नहीं कटा है और न ही उनके द्वारा सूची पर हस्ताक्षर किये गये हैं। जब खाद्य पूर्ति कार्यालय में जानकारी ली गई तो वहां से पता चला कि यह सूची ब्लॉक से आई है। इसके चलते पात्र लोगों को राशन और भारत सरकार द्वारा चलाई जा रही राशन योजना का लाभ नहीं मिल पा रहा है। जबकि जिनके नये राशन कार्ड बनाये गये हैं वह दूसरे स्थान पर भी लाभ प्राप्त कर रहे हैं।

Check Also

नियमों की अनदेखी: गणतंत्र दिवस पर अल्मोड़ा के इस सरकारी स्कूल में नहीं हुआ ध्वजारोहण… पढें पृरी खबर

🔊 इस खबर को सुने अल्मोड़ा: गणतंत्र दिवस के दिन शिक्षा विभाग से एक बड़ी …