Breaking News

Almora: जूनियर हाईस्कूल शिक्षक संघ की बैठक, निजी विद्यालयों को प्रोत्साहित करने की नीति का किया विरोध

अल्मोड़ा। उत्तराखंड जूनियर हाईस्कूल शिक्षक संघ की जनपदीय कार्यकारिणी की बैठक आज संघ भवन में आयोजित की गई। बैठक की अध्यक्षता जिलाध्यक्ष संजय बिष्ट व संचालन जिला मंत्री युगल मठपाल ने किया। इस दौरान विभिन्न बिंदुओ पर चर्चा की गई।

शैक्षिक उन्नयन पर विकास खंडवार समीक्षा की गई। जिसमें वक्ताओं द्वारा शिक्षण की नई तकनीकों व विधियों का प्रयोग कर शिक्षण को रोचक बनाने की बात कही गई। इस दौरान पदाधिकारियों ने सरकार द्वारा निजी विद्यालयों को प्रोत्साहित करने की नीति का विरोध किया गया। विद्यालयों में रिक्त पदों में नियुक्ति के साथ ही अन्य आधुनिक संसाधनों को उपलब्ध कराने की मांग की गयी। जिससे राजकीय विद्यालयों के छात्र—छात्राओं को भी आधुनिक तकनीक का लाभ मिल सके।

बैठक में पदाधिकारियों ने कहा कि नया शिक्षण सत्र शुरू होने के बाद कई विद्यालयों में कई विषयों की पुस्तकें नहीं पहुंची है। जिससे छात्रों की पढ़ाई प्रभावित हो रही है। सदस्यों ने सभी विषयों की पाठ्य पुस्तकें उपलब्ध कराने की मांग की है।

समग्र शिक्षा अभियान के अन्तर्गत कार्यरत शिक्षकों के जीपीएफ अभिलेखों में अंकना पूर्ण नहीं है। उन्हें विकासखंड स्तर पर शीघ्र पूरा कराये जाने तथा शिक्षकों के अवशेष लंबित देयकों का शीघ्र भुगतान किए जाने की मांग की है। वही, विकासखंड स्तर पर चयन वेतनमान प्रकरणों का शासनादेश के अनुसार वर्ष में दो बार निस्तारण किया जाए। जिससे की प्रकरण लंबित न रहे।

बैठक में पूर्व प्रान्तीय अध्यक्ष जगत सिंह नेगी, प्रान्तीय उपाध्यक्ष पंकज पाण्डे, जिला वरिष्ठ उपाध्यक्ष जगदीश उपाध्याय, कोषाध्यक्ष ख्याली दत्त रिखाड़ी, पुष्कर सिंह कुंवर, राजेश जोशी, डा. महेन्द्र मिराल, पूरन चन्द्र पांडे, भगवंत सिंह रावत, शोभा नेगी, कमलेश जोशी, नीलिमा पाण्डे, लालित जोशी, पंकज पन्त, महेन्द्र सिंह बोरा आदि पदाधिकारी मौजूद थे।

Check Also

नियमों की अनदेखी: गणतंत्र दिवस पर अल्मोड़ा के इस सरकारी स्कूल में नहीं हुआ ध्वजारोहण… पढें पृरी खबर

🔊 इस खबर को सुने अल्मोड़ा: गणतंत्र दिवस के दिन शिक्षा विभाग से एक बड़ी …