Breaking News
crime

उत्तराखंड: पुलिस की मुखबिरी की शक में युवक को उतारा मौत के घाट, यह है मामला

डेस्क। पुलिस की मुखबिरी की शक में तीन युवकों ने अपने ही दोस्त से मारपीट कर उसकी हत्या कर दी। मामले में पीड़ित के पिता की तहरीर पर पुलिस ने तीन आरोपियों के खिलाफ मुकदमा दर्ज कर लिया है। पुलिस मामले की जांच में जुट गई है।

मामला उधम सिंह नगर जिले के काशीपुर का है। आइटीआइ थाना क्षेत्र के हेमपुर इस्माइल निवासी वीर सिंह चौधरी पुत्र स्वर्गीय ओम प्रकाश ने पुलिस को तहरीर देकर बताया कि करीब एक वर्ष पूर्व उनके पुत्र मोनू चौधरी का उसके दोस्त मनीष सैनी पुत्र मोहन सैनी, हरनेक सिंह पुत्र बलवंत सिंह से किसी बात को लेकर झगड़ा हो गया था। उसके कुछ समय बाद चुनाव के वक्त काशीपुर पुलिस ने हरनेक सिंह को तमंचे के साथ पकड़ कर जेल भेज दिया था।

हरनेक सिंह को मोनू चौधरी पर शक था कि उसने ही पुलिस को तमंचे की सूचना दी है। जिसके बाद हरनेक सिंह मोनू चौधरी से रंजिश रखने लगा। बताया कि बीती 10 जून की देर शाम हरनेक सिंह, मनीष सैनी, व एक अन्य युवक मोनू चौधरी को घर से बुलाकर ले गए। जिसके बाद उन तीनों ने बहल्ला पुल के पास ले जाकर उसकी लाठी-डंडों से पीटकर हत्या कर दी और हत्या कर मौके से फरार हो गए।

सूचना पर पहुंची पुलिस ने शव को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया। पुलिस ने तहरीर के आधार पर तीनों आरोपियों के खिलाफ नामजद मुकदमा दर्ज किया है। पुलिस ने आरोपित देवकीनंदन उर्फ मनीष सैनी को गिरफ्तार कर लिया गया है। पुलिस फरार दोनों आरोपितों की तलाश कर रही है।

Check Also

विस सत्र 2 दिन में खत्म करने पर बिफरे विधायक मनोज तिवारी, सरकार पर लगाये यह आरोप

🔊 इस खबर को सुने अल्मोड़ा: उत्तराखंड का शीतकालीन विधानसभा सत्र 2 दिन में खत्म …