Breaking News

नगरपालिका के सीमा विस्तार के प्रस्ताव का विरोध शुरू, ग्रामीणों ने दी यह चेतावनी, पढ़ें पूरी खबर

अल्मोड़ा। नगरपालिका का सीमा विस्तार हुआ भी नहीं कि विरोध के स्वर उभरने लगे हैं। नगर क्षेत्र के आस पास के 25 गांवों को पालिका क्षेत्र में शामिल करने के विरोध में रविवार यानि 12 जून को ग्राम पंचायत खत्याड़ी के पंचायत घर में बैठक आयोजित की गई। ​इस दौरान बैठक में मौजूद सभी लोगों ने एक स्वर में नगर पालिका के सीमा विस्तार के फैसले का विरोध किया। इस दौरान ग्रामीणों ने आगामी चुनावों का ​बहिष्कार करने के साथ ही आंदोलन की चेतावनी दी है।

दरअसल, नगर पालिका परिषद सीमा विस्तार कर 25 गांवों को पालिका में शामिल करने जा रही है। मामले में पालिका द्वारा प्रस्ताव तैयार किया जा चुका है। बीते दिनों हुई नगर पालिका परिषद की बैठक में यह प्रस्ताव पास हो गया है। जिसके बाद स्वीकृति के लिए यह प्रस्ताव शासन को भेज दिया गया है। लेकिन पालिका क्षेत्र में शामिल होने वाले संभावित गांवों के लोगों ने इसका विरोध करना शुरू कर दिया है। पालिका में गांवों को शामिल करने पर ग्रामीणों ने कड़ी नाराजगी जताई है।

बैठक में जनप्रतिनिधियों ने कहा कि यह नगर पालिका का एकतरफा प्रस्ताव है। पालिका द्वारा प्रस्ताव तैयार करने से पहले ग्रामीणों को विश्वास में ​नहीं लिया गया। उन्होंने कहा कि ग्रामीण पालिका के इस प्रस्ताव को प्रबल विरोध करेंगे। इस दौरान बैठक में तय हुआ कि मामले को लेकर जल्द ही ग्रामीण जिलाधिकारी के माध्यम से मुख्यमंत्री को ज्ञापन भेजेंगे।

आंदोलन व चुनाव बहिष्कार की चेतावनी

जनप्रतिनिधियों ने कहा कि पालिका क्षेत्र में शामिल होने से ग्रामीणों के जंगल, कृषि, पशुपालन, जल, स​हित मूलभूत आवश्यकताओं का हनन होगा। इसलिए वह किसी भी कीमत पर गांवों को पालिका में शामिल नहीं होने देंगे। इस दौरान जनप्रतिनिधियों व ग्रामीणों ने कहा कि अगर उनकी मांग नहीं ​मानी गई तो वह आगामी चुनावों का बहिष्कार करेंगे। कहा कि जरूरत पड़ी तो ग्रामीण क्रमिक अनशन, आमरण अनशन व उग्र आंदोलन करने से भी पीछे नहीं हटेंगे।

ये रहे मौजूद

बैठक में ग्राम प्रधान खत्याड़ी राधा देवी, ग्राम प्रधान गोलनाकरड़िया हंसा मर्तोलिया, ग्राम प्रधान सरसो पिंकी, ग्राम प्रधान बख देवेंद्र सिंह बिष्ट, ग्राम प्रधान तलाड़बाड़ी किशन सिंह बिष्ट, ग्राम प्रधान बर्शिमी ममता रावत, ग्राम प्रधान गरगूंठ मुकेश कुमार, ग्राम प्रधान रैखोली हेम भंडारी, ग्राम प्रधान फलसीमा, जसवंत सिंह, ग्राम प्रधान सैकुड़ा प्रशांत पवार, पूर्व प्रधान सरसो नवीन बिष्ट, पूर्व ज्येष्ठ प्रमुख हवालबाग आनंद कनवाल, पूर्व प्रधान खत्याड़ी हरीश कनवाल, हर्ष कनवाल, राजेंद्र सिंह खोलिया, पूरन सिंह कनवाल, उमेश सिंह, नवीन कनवाल, बसंत कनवाल, गोपाल सिंह, मनोज आर्या, भूपेंद्र सिंह कनवाल, सुंदर सिंह, गोपाल सिंह कनवाल, नरेंद्र सिंह, कुंदन सिंह जीना, भोला सिंह, प्रताप कनवाल समेत अन्य कई ग्रामीण मौजूद रहे।

 

Check Also

नियमों की अनदेखी: गणतंत्र दिवस पर अल्मोड़ा के इस सरकारी स्कूल में नहीं हुआ ध्वजारोहण… पढें पृरी खबर

🔊 इस खबर को सुने अल्मोड़ा: गणतंत्र दिवस के दिन शिक्षा विभाग से एक बड़ी …