Breaking News

पिथौरागढ़ में बारिश ने मचाई आफत, थल-मुनस्यारी समेत 16 ग्रामीण सड़कें बंद, ये क्षेत्र सबसे अधिक प्रभावित

पिथौरागढ़। सीमांत जिले में लगातार हो रही भारी बारिश (Heavy rain in Pithoragarh) लोगों के लिए परेशानी का सबब बन रही है। बारिश के चलते जगह-जगह भूस्खलन हो रहा है, जिसकी वजह से तमाम सड़कें बंद है तो वही ज़िले में सभी नदिया भी पूरे उफान पर बह रही है।

जिले में भारी बारिश लोगों के लिए मुसीबत बनकर बरस रही है। भारी बारिश के बाद जहां जिले से बहने वाली काली, गोरी, धौली और सरयू नदियां भी पूरे उफान पर है तो वही लगातार हो रहे भूस्खलन की वजह से जिले की तमाम ग्रामीण सड़कें भी बंद पड़ी है।

जिले में थल मुनस्यारी सड़क के साथ ही 16 ग्रामीण सड़कें पूरी तरह बंद पड़ी है। जिसके चलते ग्रामीण क्षेत्रों का संपर्क जिला मुख्यालय से पूरी तरह कट गया है। ऐसे में ग्रामीण अपनी जान हथेली में रखकर नदी और नालों को पार कर आवाजाही करने को मजबूर है। ग्रामीणों ने जिला प्रशासन से सभी ग्रामीण संपर्क मार्गों को जल्द से जल्द ठीक करने के साथ ही प्रभावित क्षेत्रों में राहत पहुंचाने की मांग की है।

ये भी पढ़ें

बड़ी खबर: टिहरी में रोप-वे ठप होने से हलक में अटकी लोगों की जान, 40 मिनट तक विधायक समेत 70 लोग हवा में लटके रहे

जिले के धारचूला, मुनस्यारी और बंगापानी तहसील (Dharchula, Munsiyari and Bangapani tehsils most affected by rain) बारिश से सबसे ज्यादा प्रभावित इलाकों में से हैं। इन इलाकों में लगातार भूस्खलन से जहां आबादी वाले इलाकों में खतरा उत्पन्न हो गया है तो वही सड़कें भी लगातार बंद हो रही है। हालांकि प्रशासन के साथ ही सेना और बीआरओ द्वारा भी लगातार सड़कों को खोलने के प्रयास किए जा रहे हैं।

पिथौरागढ़ के अपर जिलाधिकारी फिंचा राम चौहान ने बताया कि भारी बारिश को देखते हुए जिले के सभी विभागों के अधिकारियों और कर्मचारियों को अलर्ट रखा गया है। साथ ही सड़कों को खोलने का काम भी लगातार जारी है ताकि ग्रामीण इलाकों का संपर्क बहाल किया जा सके।

Check Also

Featured Video Play Icon

बिग ब्रेकिंग: मेले में जा रहे परिवार की कार खेत में गिरी, बच्चे समेत 3 लोग घायल.. रेफर

🔊 इस खबर को सुने प्राथमिक उपचार के बाद घायलों को हायर सेंटर किया रेफर …