Breaking News

पंचतत्व में विलीन हुए वरिष्ठ पत्रकार डॉ. दीवान नगरकोटी

अल्मोड़ा। वरिष्ठ पत्रकार व जिला पत्रकार संघ के अध्यक्ष डॉ. दीवान नगरकोटी पंचतत्व में विलीन हो गए है। यहां स्थानीय विश्वनाथ घाट में उनका अंतिम संस्कार किया गया। इस दौरान लोगो ने उन्हें नम आंखों से विदाई दी।

सुबह साढ़े 10 बजे उनके निवास स्थान धार की तूनी से उनकी अंतिम यात्रा विश्वनाथ घाट के लिए निकली। उनके पुत्र शशांक ने उन्हें मुखाग्नि दी।

इस दौरान पत्रकार नवीन बिष्ट, पीसी तिवारी, राजेंद्र रावत, प्रकाश पांडे, डीके जोशी, नवीन उपाध्याय, चंद्रशेखर द्विवेदी, नवीन भट्ट, दीपक मनराल, चंदन नेगी, निर्मल उप्रेती, हरीश भंडारी, शिवेंद्र गोस्वामी, राजेंद्र धानक, यासिर खान, अनिल सनवाल, कमलेश कनवाल, देवेंद्र बिष्ट, संतोष बिष्ट, किशन जोशी, प्रमोद जोशी, प्रमोद डालाकोटी, दयाकृष्ण कांडपाल, सुरेश तिवारी, ललित भट्ट, सोनू सिजवाली, नसीम अहमद, अभिषेक साह, पवन नगरकोटी, अशोक पांडे, हिमांशु लटवाल सहित विधायक मनोज तिवारी, विनय किरौला, त्रिलोचन जोशी, राजेश बिष्ट, शिवराज बनौला, पीतांबर पांडे, तारा चंद्र जोशी, जयमित्र बिष्ट, ईश्वर दत्त जोशी आदि मौजूद थे।

उम्मीद नहीं थी वह यूं चले जाएगा: तिवारी

आज के बागेश्वर के ग्रामीण परिवेश से डॉ. दीवान नगरकोटी अपने भाइयों के साथ पहले अल्मोड़ा आए थे। हम सब लोग रामकृष्ण धाम में रहते थे। रामकृष्ण धाम, उत्तराखंड संघर्ष वाहिनी उन दिनों छात्र-युवा आंदोलन का मुख्य केंद्र था। तब से दिवान और उनके बड़े भाई सोबन सिंह नगरकोटी के साथ हम लोगों का भाइयों जैसा पारिवारिक रिश्ता रहा।

दीवान ने अपनी सामाजिक सक्रियता, अध्ययन और जनपक्षधरता से अपना अलग व्यक्तित्व विकसित कर लिया था। एक प्रखर पत्रकार समाज विज्ञानी और आंदोलनकारी होने के साथ उन्होंने उत्तराखंड सेवानिधि अध्ययन विकास संस्थान में रहते हुए उत्तराखंड के जल, जंगल, ज़मीन और पर्यावरणीय सवालों पर महारथ हासिल कर ली थी। चिपको, वन बचाओ, नशा नहीं रोज़गार दो आंदोलन में भी दिवान सक्रिय रहे। उत्तराखंड राज्य आंदोलन के दौरान डॉ. आर. एस. टोलिया जैसे दृष्टिवान, तेज़ तर्रार अधिकारी एवं जाने माने समाज विज्ञानी-कुमाऊं विश्वविद्यालय के पूर्व कुलपति डॉ. वी.के. जोशी के सानिध्य में उन्होंने उत्तराखंड राज्य निर्माण के लिए तत्कालीन उत्तर प्रदेश सरकार द्वारा मंत्रियों की मंत्रिमंडलीय रमाशंकर कौशिक समिति के लिए शोध, लेखन एवं रिपोर्ट तैयार करने में उल्लेखनीय योगदान किया था। ज्ञातव्य है इस समिति में गैरसैंण को राज्य की राजधानी बनाने की व्यवस्था भी थी।

दिवान के इस तरह चले जाने से हम सब दुखी हैं। कम से कम यह अभी जाने की उम्र नहीं थी। एक प्रखर पत्रकार, जनपक्षीय बुद्धिजीवी, स्पष्टता से अपनी बात रखने वाले साथी दीवान का अचानक चले जाना उनको जानने- समझने वाले तमाम लोगों तथा मेरे लिए बेहद दुखद है। दीवान को हार्दिक श्रद्धांजलि।

भाजपा ने जताया शोक

भारतीय जनता पार्टी द्वारा वरिष्ठ पत्रकार रहे डॉ. दीवान नगरकोटी के निधन पर शोक संवेदना व्यक्त की है। स्व. नगरकोटी के निधन पर भाजपा जिलाध्यक्ष रवि रोतेला, अल्मोडा पिथौरागढ़ सांसद अजय टम्टा, कैबिनेट मंत्री रेखा आर्य, जागेश्वर विधायक मोहन सिंह मेहरा, रानीखेत विधायक प्रमोद नैनवाल, सल्ट विधायक महेश जीना, भाजपा प्रदेश उपाध्यक्ष कैलाश शर्मा, पूर्व विधानसभा उपाध्यक्ष रघुनाथ सिंह चौहान, युवा मोर्चा प्रदेश अध्यक्ष कुंदन लटवाल, डीसीबी चेयरमैन ललित लटवाल, पूर्व राज्यमंत्री गोविंद पिलख्वाल, नगर अध्यक्ष कैलाश गुरुरानी, अरविंद बिष्ट, रमेश बहुगुणा, चंदन मेहरा, जिला महामंत्री महेश नयाल, महिपाल बिष्ट, दर्शन रावत, विनीत बिष्ट, घनश्याम भट्ट, नरेंद्र प्रसाद, शैलेंद्र साह, संदीप भोज, पूनम पालीवाल, मनोज जोशी, संजय साह, धर्मेंद्र बिष्ट, प्रकाश भट्ट, संजय डालाकोटी, ललित मेहता, राजीव गुरुरानी, सौरव वर्मा, मनीष जोशी, राजा खान, धर्मवीर आर्या, लता बोरा, किरन पंत, निर्मला जोशी, चंपा पांडे, लीला बोरा, रेखा आर्या, मीना भैसोड़ा, बीना नयाल, लक्की वर्मा आदि ने शोक जताया है।

डॉ. नगरकोटी को भुलाया नहीं जा सकता: सती

उत्तराखंड सरकार में पूर्व दर्ज़ा राज्य मंत्री एडवोकेट केवल सती ने वरिष्ठ पत्रकार दीवान सिंह नगरकोटी के आकस्मिक निधन पर गहरा दुःख व्यक्त किया है। सती ने कहा कि नगरकोटी सीधे सरल व सामाजिक व्यक्ति थे। जनसरोकार के मुद्दों को उन्होंने हमेशा प्रखर तरिके से रखा। उन्हें कभी भुलाया नहीं जा सकता है।

नगर पालिका अध्यक्ष ने जताया शोक

वरिष्ठ पत्रकार दीवान सिंह नगरकोटी के आकस्मिक निधन पर नगरपालिका अध्यक्ष प्रकाश चंद्र जोशी ने गहरा दुख व्यक्त किया है। जोशी ने कहा कि स्व. नगरकोटी बहुत ही शालीन व्यक्तित्व के धनी थे। उनके निधन से समाज को अपूर्णीय क्षति हुई है। उन्होंने ईश्वर से दिवंगत आत्मा की शांति व शोक संतप्त परिवार को इस दुख को सहन करने की शक्ति देने की प्रार्थना की है।

 

 

 

Check Also

Featured Video Play Icon

बिग ब्रेकिंग: मेले में जा रहे परिवार की कार खेत में गिरी, बच्चे समेत 3 लोग घायल.. रेफर

🔊 इस खबर को सुने प्राथमिक उपचार के बाद घायलों को हायर सेंटर किया रेफर …