Breaking News

कुमाऊंं से बड़ी खबरः अनजान व्यक्ति से लिफ्ट लेना छात्राओं को पड़ा भारी, कार से कूदकर बचाई जान.. जानें पूरा मामला

स्थानीय लोगों ने अपहरण के प्रयास का लगाया आरोप, पुलिस ने नकारा

इंडिया भारत न्यूज डेस्क: कुमाऊंं मंडल के बागेश्वर जिले से एक बड़ी खबर सामने आ रही है। जहां स्कूल की छुट्टी के बाद घर को लौट रही छात्राओं को एक अनजान कार चालक से लिफ्ट लेना भारी पड़ गया। नशे में धुत चालक ने कुछ दूर जाकर कार को दूसरी सड़क पर ले जाने लगा। इसके बाद छात्राओं ने चिल्लाना शुरू कर दिया। जैसे ही कार की स्पीड कम हुई तो छात्राएं कार से नीचे कूद गई। इस घटना के बाद इलाके में हड़कंप मच गया। सूचना पर पहुंची पुलिस ने कार को सीज कर दिया है। पुलिस आरोपित के खिलाफ आवश्यक कार्यवाही में जुट गई है।

ये है मामला-

प्राप्त जानकारी के मुताबिक गुरुवार 4 अगस्त को जीजीआइसी की 3 छात्राएं स्कूल में छुट्टी के बाद लगभग 1.20 बजे मंडलसेरा बाइपास पर खड़ी हो गई। उन्हें मनकोट गांव जाना था। सभी छात्राएं 11 वीं में पढ़ती हैं। उन्होंने आल्टो कार यूके-02ए-9378 को रोका। वह उसमें सवार हो गई। आरोप है कि वाहन चालक शराब के नशे में था। जब वाहन चालक ने पुराने आरटीओ के पास कार को चंडिका लाइन की तरफ मोड़ दिया। इस पर बालिकाओं ने आपत्ति जताई शोर मचाया औऱ गाड़ी रोकने को बोला। कार की स्पीड कम होने पर बालिकाओं ने कार का दरवाजा खोला और कूद गईं।

इसके बाद मौके पर लोगों की भीड़ जुट पड़ी। सूचना पर लोगों में हड़कंप मच पड़ा। स्कूल के शिक्षका व छात्राओं के अभिभावक भी मौके पर पहुंचे। जिसके बाद छात्राएं अपने अभिभावकों के साथ घर को गए।

इधर घटना के बाद स्थानीय लोगों में आक्रोश बना हुआ है। स्थानीय लोग जहां इस मामले को अपहरण के प्रयास से जोड़कर देख रहे है। वही, पुलिस ने इसे सिरे से नकार दिया है। कोतवाल जगदीश ढकरियाल ने बताया कि वाहन चालक नशे में धुत था और उसके सुनने में गड़बड़ हुई। बालिकाओं ने मनकोट कहा और उसने बनकोट सुना। वह बनकोट की तरफ कार ले जा रहा था। अपहरण का प्रयास नहीं है।

Check Also

अल्मोड़ा-(बिग ब्रेकिंग): गीतकार के मकान में लगी आग… 6 लाख से अधिक कीमत का सामान चढ़ा आग की भेंट

🔊 इस खबर को सुने मकान में आग लगने से मची अफरा तफरी, ग्रामीणों ने …