Breaking News

जालौर घटनाः अल्मोड़ा तक पहुंची आक्रोश की आंच, वाल्मीकि समाज ने प्रदर्शन कर उठाई यह मांग

अल्मोड़ा। राजस्थान के जालौर में शिक्षक की पिटाई से दलित समुदाय के बच्चे की मौत के बाद लोगों में आक्रोश है। उत्तराखंड वाल्मीकि महासभा के प्रदेश अध्यक्ष एवं पूर्व दर्जा राज्य मंत्री ए.के. सिकंदर पवार व जिलाध्यक्ष यशवंत सिंभल के नेतृत्व में बुधवार को पंवार मार्केट, धारानौला में लोगों ने प्रदर्शन किया और गहलोत सरकार के खिलाफ जमकर नारेबाजी की।

महासभा के प्रदेश अध्यक्ष ए.के. सिकंदर पवार ने कहा कि जहां एक ओर देश आज आजादी की 75वीं वर्षगांठ मना रहा है। वही, दूसरी ओर आजादी के 75 साल भी देश में दलितों से भेदभाव की घटनाएं निंदनीय है। उन्होंने कहा कि दलितों पर बढ़ रहे अत्याचार को किसी भी सूरत में बर्दाश्त नहीं किया जाएगा।

इस दौरान वाल्मीकि महासभा की ओर से राष्ट्रपति को ज्ञापन फैक्स के माध्यम से भेजा गया। जिसमें उन्होंने मामले की सुनवाई फास्ट ट्रैक कोर्ट में चलाने व आरोपी को फांसी की सजा से दंडित करने की मांग की है। साथ ही गहलोत सरकार को बर्खास्त कर राष्ट्रपति शासन लगाने की भी मांग उठाई।

अंत में दो मिनट का मौन रखकर मृतक छात्र की आत्मा की शांति के लिए प्रार्थना की गई।

इस दौरान यशवंत, ज्वाला, अमित, आकाश, राज, जसवंत, आदर्श, बंटी, पवन, गोलू, मुकुल, साहिल, भानु, अनिल, मोहित, रामदास, हरी प्रसाद, आशा, बिमला, किरन, अनीता, सुशीला, नीतु, दया, विकास, दीपमाला, अनीता, सुशील समेत कई लोग मौजूद रहे।

Check Also

Featured Video Play Icon

Crime news: युवक की हत्या, नदी किनारे मिली लाश, जांच में जुटी पुलिस

🔊 इस खबर को सुने पुलिस को मिली कई महत्वपूर्ण जानकारियां इंडिया भारत न्यूज़ डेस्क(IBN): …