Breaking News

ओपन माइक, किस्सागोई सीजन-2 में सजी कविताओं, कहानियों और किस्सों की महफिल

अल्मोड़ा: ईजा स्टूडियो की ओर से उदय शंकर संगीत और नृत्य एकेडमी में आयोजित ‘किस्सागोई’ सीजन-2 के कार्यक्रम में कवियों, शायरों, कहानीकारों, हास्य कलाकारों ने विविध रस की रचनाएँ सुनाकर दर्शकों को मंत्रमुग्ध कर दिया। कार्यक्रम में देर शाम तक कविताओं, कहानियों, किस्सों की महफिल जमी। कार्यक्रम में उत्तराखण्ड के विभिन्न जनपदों से आये प्रतिभागियों ने अपनी रचनाएँ सुनाकर श्रोताओं की वाहवाही लूटी।

कार्यक्रम में हर्षवर्धन जोशी ने ‘दाज्यू मि पहाड़ छूं’, त्रिभुवन गिरि ने क्या ‘पहचान प्रिया की होगी’, मुकेश सुंदरियाल ने ‘मां’, विनोद सिजवाली ने ‘म्यर पहाड़ छु म्यर पैंली प्यार’ कविताएँ व अन्य रचनाओं के माध्यम से पहाड़ की पीड़ा को बयां किया।

इसके अलावा लोकेश जोशी, गौरव पंत, प्रीति जोशी, गरिमा तिवारी, मुकेश बिष्ट, मनीष ममगाई, नेहा भंडारी, प्रेमा गड़कोटी, श्याम चंद्र भट्ट, सुमन बिष्ट, धर्मेंद्र उनियाल, रवींद्र कुमार, पीयूष सिंह नगरकोटी, मुकेश सुंदरियाल, विरेंद्र सिंह सिजवाली, भास्कर भौर्याल, अंकित बिष्ट, कृपाल सिंह शीला, डॉ. दीपा गुप्ता, मीनू जोशी, विनोद सिजवाली, हिमानी बिष्ट, हेमलता रावत, श्याम चंद्र भट्ट, खुशनुमा परवीन, पीयूष नगरकोटी, गरिमा तिवारी, शगुफ्ता हारून आदि ने कविताओं की सुंदर प्रस्तुति दी।

कार्यक्रम में डॉ. ममता पंत, अंजू पालीवाल, ज्योति भट्ट, भूमिका पांडे ने कहानी पाठ करके दर्शकों को भावविभोर किया। गोपाल चम्याल और देवेंद्र सिंह नेगी की कॉमेडी ने सबका मन मोहा।

कार्यक्रम में लगाई गई उत्तराखण्ड के साहित्य पर केंद्रित पुस्तकों की प्रदर्शनियां आकर्षण का केंद्र रहीं।

कार्यक्रम में ईजा स्टूडियो के क्रियेटिव डायरेक्टर मनीष मेहता ने बताया कि शहर में रचनात्मक माहौल बनाने हेतु आगामी समय में इस तरह के कार्यक्रम में और तेजी लाई जायेगी। उन्होंने कहा कि कार्यक्रमों का उद्देश्य पहाड़ के युवाओं को आगे लाना है। हम आने वाले समय में अल्मोड़ा में ‘युवा महोत्सव’ का आयोजन करने जा रहे हैं।

कार्यक्रम के संयोजन में अंकित जोशी, डॉ. पवनेश ठकुराठी, विरेंद्र सिजवाली, चंदन पांडे, राजेंद्र रावत, ललित बिष्ट, नीरज मिश्रा, रवींद्र नाथ पाठक, डॉ. संतोष बिष्ट, राज मेहता, जयमित्र सिंह बिष्ट आदि ने सहयोग किया।

कार्यक्रम का संचालन नीरज पांगती और रश्मि सेलवाल ने किया। इस दौरान डॉ. हयात सिंह रावत, शिवराज सिंह, किशोर जोशी, कमलेश कुमार, अमर बोरा, त्रिभुवन बिष्ट, प्रमोद जोशी, डॉ. दीपक मेहता, पी.सी. तिवारी, प्रो. एस.ए. हामिद, हिमानी जोशी, मनमोहन चौधरी, डॉ. वसुधा पंत, वैभव जोशी, रमेश सिंह रावत, गणेश चंद्र शर्मा, पान सिंह बोरा, अंकिता पंत, भावना नयाल, कुलदीप रावत, डॉ. पूरन जोशी, कल्याण मनकोटी, भगवती प्रसाद जोशी आदि मौजूद रहे।

Check Also

विस सत्र 2 दिन में खत्म करने पर बिफरे विधायक मनोज तिवारी, सरकार पर लगाये यह आरोप

🔊 इस खबर को सुने अल्मोड़ा: उत्तराखंड का शीतकालीन विधानसभा सत्र 2 दिन में खत्म …