Breaking News

शिल्प उन्नयन संस्थान का निर्माण कार्य रोकने पर कुंजवाल ने दिया धरना, पूर्व सीएम हरीश रावत भी हुए शामिल

अल्मोड़ाः पूर्व विधानसभा अध्यक्ष गोविंद सिंह कुंजवाल ने बीजेपी सरकार पर गरुड़ाबांज में स्थित मुंशी हरिप्रसाद टम्टा पारंपरिक शिल्प उन्नयन संस्थान का निर्माण कार्य रोकेने का आरोप लगाया है। जिसको लेकर कुंजवाल ने बुधवार को निर्माण स्थल पर धरना दिया। जिसमें पूर्व सीएम हरीश रावत भी शामिल हुए। साथ ही पूर्व राज्यसभा सांसद प्रदीप टम्टा, पूर्व विधानसभा अध्यक्ष गोविंद सिंह कुंजवाल, अल्मोड़ा विधायक मनोज तिवारी समेत, पूर्व विधायक ललित फर्स्वाण कई कांग्रेस कार्यकर्ता मौजूद रहे।

पूर्व विधानसभा अध्यक्ष कुंजवाल ने कहा कि कांग्रेस सरकार के समय मुंशी हरिप्रसाद टम्टा पारंपरिक शिल्प उन्नयन संस्थान निर्माण को स्वीकृति मिली थी। लेकिन भाजपा सरकार ने कार्य को रोक दिया। इसके निर्माण का उद्देश्य स्थानीय हस्तशिल्प, कला को बढ़ावा देना है। ताकि परंपरागत शिल्प को बचाया जा सके। इससे स्वरोजगार तो बढ़ता ही साथ ही पहाड़ी क्षेत्र से हो रहा पलायन भी रुकता। इसके निर्माण में करोड़ों रुपये भी खर्च किए जा चुके है। डबल इंजन की सरकार क्षेत्रवासियों की प्रमुख मांग को अनदेखा कर रही है। जिस कारण मजबूरन आंदोलन करना पड़ रहा है।

हरीश रावत ने सरकार को दिया अल्टीमेटम

धरने स्थल पर पहुंचे पूर्व सीएम हरीश रावत ने कहा कि भाजपा सरकार को प्रदेश में सत्ता में आए 6 साल पूरे हो गए है। इन सालों में भाजपा सरकार किस तरह का प्रदेश में विकास कर रही है, इसका जीता जागता उदाहरण अधर में लटका यह मुंशी हरिप्रसाद टम्टा पारंपरिक शिल्प उन्नयन संस्थान है।
कहा कि मुंशी प्रसाद टम्टा ने समाज के तमाम शिल्पियों को एक जुटकर कर उनको शिल्पकार नाम दिया। ऐसे शख्स के नाम पर कांग्रेस सरकार ने यहां संस्थान बनाने की शरूआत की। लेकिन भाजपा की सरकार आने के बाद इस संस्थान का निर्माण कार्य आधे में ही रोक दिया गया, जो कि शिल्पकार समाज का अपमान है।

हरीश रावत ने प्रदेश सरकार को अल्टीमेटम देते हुए कहा कि वह संस्थान को लेकर प्रदेश सरकार को एक साल का समय देते है। अगर सरकार कार्य नहीं करती तो अगले साल मुंशी हरिप्रसाद टम्टा के जन्मदिन पर ही अनशन शुरू करेंगे और लंबा अनशन किया जाएगा।

ये रहे मौजूद-

जिलाध्यक्ष पीताम्बर पाण्डेय, ब्लाक अध्यक्ष जागेश्वर विशन सिंह, ब्लाक अध्यक्ष धौलादेवी अंकुर काण्डपाल, अनुसूचित जाति जिलाध्यक्ष महिपाल प्रसाद, नगर अध्यक्ष पूरन सिंह रौतेला, युवा कांग्रेस जिलाध्यक्ष निर्मल रावत, पूर्व ब्लाक अध्यक्ष लमगड़ा दीवान सिंह सतवाल, प्रदेश सचिव गोपाल सिंह चौहान, पूर्व डीसीबी अध्यक्ष प्रशान्त सिंह भैसोड़ा, पूर्व डीसीबी अध्यक्ष दीवान सिंह भैसोड़ा, पूर्व पीसीसी सदस्य शेर राम आर्या, आनन्द प्रसाद आर्या, नरेन्द्र बनौला, रमेश काण्डपाल, पूरन सिंह बिष्ट, मनोज रावत, राजेन्द्र सिंह टंगड़िया, हरीश ऐठानी, आनन्द प्रसाद, दिनेश जोशी, राजेन्द्र सिंह बिष्ट, हरीश जोशी, संतोष आर्या, हरीश गैलाकोटी, धन सिंह, रमेश बिष्ट, पूरन पाण्डेय, चन्दन बोरा, विनीत बोरा, पीसीसी सदस्य भूपेन्द्र भोज, ललित सतवाल, कुन्दन रौतेला, हरिमोहन भट्ट, नारद भट्ट, कुन्दन कुंजवाल, मदन कुंजवाल, गिरधर रौतेला, देवेन्द्र बिष्ट, दिनेश रावत सहित कई कांग्रेस कार्यकर्ता व स्थानीय लोग मौजूद रहे।

 

Check Also

Featured Video Play Icon

अल्मोड़ा से बड़ी खबर: गुलदार ने दिनदहाड़े 3 लोगों पर किया जानलेवा हमला, लोगों में दहशत

🔊 इस खबर को सुने अल्मोड़ा: उत्तराखंड के पर्वतीय जिलों में गुलदार का आतंक इस …