Breaking News
Featured Video Play Icon

अल्मोड़ाः बेरोजगार युवाओं ने खोला सरकार के खिलाफ मोर्चा, पेपर लीक मामले में सरकार पर लगाए यह गंभीर आरोप

अल्मोड़ाः उत्तराखंड अधीनस्थ सेवा चयन आयोग के स्नातक स्तरीय परीक्षा समेत अन्य भर्ती परीक्षाओं में हुई धांधली व अनियमितताओं को लेकर बेरोजगार युवाओं ने सरकार के खिलाफ मोर्चा खोल दिया है। बेरोजगार युवाओं ने आज चौघानपाटा स्थित गांधी पार्क में धरना-प्रदर्शन किया। इस दौरान विभिन्न प्रतियोगी परीक्षाओं की तैयारी कर रहे युवा धरना स्थल पहुंचे। जहां उन्होंने सरकार के खिलाफ जमकर नारेबाजी की।

सरकार से नाराज युवाओं ने कहा कि उत्तराखंड आज घोटाला प्रदेश बन कर रह गया है। एक के बाद एक जिस तरह भर्तियों में धांधली व अनियमितताएं सामने आ रही है उससे प्रदेश के मेहनतकश युवाओं में हताशा व निराशा का माहौल है। इस दौरान युवाओं ने सरकार पर आरोप लगाते हुए कहा कि पेपर लीक मामले में कई सफेदपोश व बड़े मगरमच्छ भी शामिल है, जो कि सरकार या किसी राजनीतिक पार्टी से संबंध रखते है। लेकिन सरकार द्वारा जांच के नाम पर छोटे कर्मचारियों को पकड़कर इतिश्री की जा रही है। युवाओं ने सरकार पर सीबीआई जांच न कराकर अपने लोगों को बचाने का आरोप लगाया।

युवाओं ने सरकार से सवाल पूछते हुए कहा कि अगर सरकार वाकई में भर्ती परीक्षाओं में हुई अनियमितताओं की निष्पक्ष जांच व दोषियों को कड़ी सजा देने चाहती है तो वह सीबीआई जांच की संस्तुति क्यों नहीं कर रही है। उन्होंने कहा कि सीएम पुष्कर सिंह धामी एक युवा मुख्यमंत्री है और प्रदेश के युवाओं को उनसे काफी अपेक्षाएं है। इसलिए सरकार को चाहिए कि वह प्रदेश में परीक्षाओं में हो रही धांधलियों पर रोक लगाए और जो परीक्षाएं सवालों के घेरे में आई है उनकी सीबीआई जांच कराकर दोषियों पर कड़ी कार्रवाई की जाए। ताकि भविष्य में कोई भी व्यक्ति इस तरह के कृत्यों की पुनरावृत्ति न करें।

आक्रोशित युवाओं ने सरकार को सख्त चेतावनी देते हुए कहा कि अगर सरकार ने उनकी मांगों को अनसुना किया तो प्रदेश सरकार को इसका खामियाजा भुगतना पड़ेगा। उन्होंने कहा कि युवा अब चुप रहने वाला नहीं है। मांग पूरी नहीं होने पर आंदोलन को और उग्र किया जाएगा।

इस दौरान आम आदमी पार्टी से आनंद बगडवाल व अखिलेश टम्टा एवं धर्मनिरपेक्ष युवा मंच के संयोजक विनय किरौला युवाओं को समर्थन देने के लिए धरना स्थल पहुंचे।

युवाओं से एकजुट होने का किया आह्वान

धरना प्रदर्शन में पहुंचे युवाओं ने कहा कि अब समय आ गया है कि युवाओं को अपने हितों के लिए आगे आकर सरकार के खिलाफ यह लड़ाई लड़नी पड़ेगी। ताकि इस डबल इंजन की सरकार के कानों तक उनकी आवाज गंूज सके। उन्होंने जनपद के सभी युवाओं व अभिभावकों से आह्वान किया है कि वह इस लड़ाई को अंजाम तक पहुंचाने के लिए एकजुट हो। ताकि मजबूती के साथ इस आंदोलन को बड़ा रूप दिया जा सके।

जनगीत गाकर सरकार को चेताया

गांधी पार्क में धरने पर बैठे युवाओं ने नारेबाजी के साथ ही एक अलग अंदाज में सरकार को जगाने का काम किया। इस दौरान जहां एक ओर कई युवाओं ने अपने विचार व्यक्त किए वही, युवाओं ने हुड़के की थाप पर कई जनगीत गाकर सरकार को चेताने का काम किया।

प्रदर्शन में ये रहे मौजूद-

आशीष पंत, ज्योति भट्ट, प्रदीप, लीला देवी, नीरज पांगती, संदीप नयाल, अजय कुमार, भाष्कर भौर्याल, प्रेम कुमार, आनंद बिष्ट, भावना कांडपाल, अमित भट्ट, गरिमा, पूजा तिवारी, विवेक सुयाल, पूजा लटवाल, हिमांशी बिष्ट, उत्तराखंड छात्र संगठन से भारती पांडे समेत कई युवा मौजूद रहे।

 

Check Also

कुमाऊं में दिल दहला देने वाली वारदात, 12वीं के छात्र को चाकू से गोदा, जान बचाने को दौड़ता रहा छात्र

🔊 इस खबर को सुने इंडिया भारत न्यूज डेस्क: देवभूमि उत्तराखंड में आपराधिक घटनाओं में …