Breaking News

अल्मोड़ाः नंदा देवी मेले का श्रीगणेश, 200 से अधिक साल से हो रहा आयोजन.. पढ़ें पूरी खबर

अल्मोड़ाः प्रसिद्ध नंदा देवी मेले का गुरुवार को विधिवत रूप से आगाज हो गया है। मुख्य अतिथि विधायक मनोज तिवारी, सांसद अजय टम्टा, नगर पालिका अध्यक्ष प्रकाश चंद्र जोशी, विशिष्ट अतिथि पूर्व विधानसभा उपाध्यक्ष रघुनाथ सिंह चैहान, पूर्व विधायक कैलाश शर्मा ने दीप जलाकर मेले का शुभारंभ किया। यह मेला आगामी 7 सितंबर तक आयोजित किया जाएगा।

मंदिर समिति के पदाधिकारियों ने सभी अतिथियों को प्रतीक चिन्ह देकर व शाॅल ओढ़ाकर सम्मानित किया। इस दौरान मुख्य अतिथि विधायक मनोज तिवारी ने नंदा देवी पर्व के शुभारंभ अवसर पर सभी को बधाई देते हुए कहा कि भारत विविधताओं से भरा हुआ देश है यहां की संस्कृति देखने लायक है। उन्होंने कहा कि हम सभी का कर्तव्य बनता है हम सभी संस्कृति के उन्नयन व संरक्षण के लिए प्रयास करे। उन्होंने कहा कि इस तरह मेले के माध्यमों से नई पीढ़ी़ को अपनी संस्कृति, पारंपरिक रीतिरिवाज, वेशभूषा, वाद्य यंत्र समेत गौरवशाली इतिहास को आत्मसात करने व जानने का अवसर मिलता है।

सांसद अजय टम्टा ने कहा कि अल्मोड़ा का ऐतिहासिक नंदा देवी मेला सालों से मनाया जा रहा है। यह मेला अब राष्ट्रीय स्तर पर अपनी पहचान बना चुका है। उन्होंने कहा कि नंदा देवी मेले के माध्यम से देशभर में आज कुमाउं की संस्कृति का भी प्रचार प्रसार हो रहा है। संस्कृति के संरक्षण व संवर्द्धन में इस मेले का काफी महत्व है।

इस मौके पर जहां एक ओर एसएसबी के जवानों ने बैंड वादन की मनमोहक प्रस्तुति दी। वही, कई रंगारंग कार्यक्रमों ने कार्यक्रम में चार चांद लगा दिए। संस्कृति लोक कला समिति रामनगर की टीम ने चंदन सिंह नेगी के नेतृत्व में राधा-कृष्ण झांकी की सुंदर प्रस्तृति दी।

200 से अधिक साल से हो रहा मेले का आयोजन

माना जाता है कि अल्मोड़ा में मां नंदा देवी का मेला 1671 से शुरू हुआ था। बाद में कुमाउं के तत्कालीन कमीश्नर ट्रेल ने मां नंदा की प्रतिमा को मल्ला महल से हटाकर दीप चंदेश्वर मंदिर वर्तमान में मां नंदा देवी मंदिर में स्थापित कराया था। कहा जाता है कि वर्तमान में स्थित इस मंदिर में 1816 से मेले का आयोजन होते आ रहा है।

डांस व फैंसी ड्रेस प्रतियोगिता का आयोजन

इससे पहले दिन में डांस व फैंसी ड्रेस प्रतियोगिता का आयोजन किया गया। जिसमें कई बच्चों ने हिस्सा लिया। डांस प्रतियोगिता के जूनियर वर्ग में नैना प्रकाश ने पहला, रिधिमा ने दूसरा व अर्णिमा ने तीसरा स्थान हासिल किया। सीनियर वर्ग में मानसी महरा, शिवानी आर्या व नेहा पांडे क्रमशः प्रथम, द्वितीय व तृतीय स्थान पर रहे। निर्णायक की भूमिका में नीरज सिंह बिष्ट व हर्ष टम्टा मौजूद रहे।

फैंसी ड्रेस प्रतियोगिता में किरन पंत प्रथम, यशस्वी द्वितीय एवं सिद्दी जोशी तृतीय स्थान पर रही। तमन्ना पंत को सांत्वना पुरस्कार से सम्मानित किया गया। निर्णायक की भूमिका गीता मेहरा व रीता दुर्गापाल ने निभाई। अतिथियों द्वारा दोनों प्रतियोगिता के विजयी प्रतिभागियों को प्रतीक चिन्ह देकर पुरस्कृत किया गया।

ये रहे मौजूद

इस मौके पर चंद वंशज युवराज नरेंद्र चंद्र सिंह, मंदिर समिति के अध्यक्ष मनोज वर्मा, भाजपा जिलाध्यक्ष रवि रौतेला, जिलाध्यक्ष कांग्रेस पीतांबर पांडे, नगर व्यापार मंडल अध्यक्ष सुशील साह, पूर्व पालिकाध्यक्ष शोभा जोशी, कैलाश गुरुरानी, केवल सती, विनीत बिष्ट, मनोज जोशी, संजय साह, मनोहर नेगी, पूरन रौतेला, नवीन बिष्ट, मुख्य संयोजक व सचिव मनोज सनवाल, मुख्य सांस्कृतिक संयोजक तारा चंद्र जोशी, अमित साह मोनू, अर्जुन बिष्ट, मीडिया प्रभारी अमरनाथ नेगी, नरेंद्र वर्मा, एल.के. पंत, हरीश बिष्ट, धन सिंह, किशन गुरुरानी, दिनेश गोयल, हिमांशु परगाईं, जीवन नाथ वर्मा, अंजली बाणी समेत कई लोग मौजूद रहे।

 

 

Check Also

नियमों की अनदेखी: गणतंत्र दिवस पर अल्मोड़ा के इस सरकारी स्कूल में नहीं हुआ ध्वजारोहण… पढें पृरी खबर

🔊 इस खबर को सुने अल्मोड़ा: गणतंत्र दिवस के दिन शिक्षा विभाग से एक बड़ी …