Breaking News

अल्मोड़ाः प्रगति के पथ पर जिला सहकारी बैंक, 5.19 करोड़ के शुद्ध लाभ की घोषणा

अल्मोडाः अल्मोड़ा-बागेश्वर जिला सहकारी बैंक लिमिटेड की 51 वीं वार्षिक निकाय की बैठक (51st Annual Body Meeting of District Co-operative Bank Ltd.) मंगलवार को संपन्न हुई। इस दौरान मुख्य अतिथि उत्तराखंड में कैबिनेट मंत्री धन सिंह रावत ने वुर्चुअल माध्यम से प्रतिभाग किया। उन्होंने बैठक को संबोधित करते हुए बैंक में संचालित पंडित दीनदयाल उपाध्याय ऋण योजना की जानकारी दी।

अल्मोड़ा मालरोड स्थित एक होटल सभागार में आयोजित वार्षिक निकाय बैठक में बैंक अध्यक्ष ललित मोहन सिंह लटवाल ने 2021.22 बैंक का लेखा जोखा रखा। उन्होंने बताया कि वर्ष 2020-21 में बैंक की निजी पूंजी 672.94 लाख थी। जिसमें 44.80 लाख की बढ़ोत्तरी होकर वर्ष 2021-22 में 717.74 लाख हो गई है। जबकि डिपोजिट 712.84 करोड़ से बढ़कर 781.28 करोड़ हो गया है। बैंक के डिपोजिट में 68.45 से अधिक की बढ़ोत्तरी हुई है। बैंक को वर्ष 2021-22 में 5 करोड़ 19 लाख का शुद्ध लाभ हुआ है। जबकि साल 2020-21 में यह 3 करोड़ 80 लाख था।

डीसीबी अध्यक्ष ललित लटवाल ने कहा कि वर्तमान में बैंक अपनी 31 शाखाओं के माध्यम से जनपद अल्मोड़ा एवं बागेश्वर के सुदूरवर्ती ग्रामीण क्षेत्रों में बैंकिंग सुविधाएं उपलब्ध करा रहा है। 95 बहुद्देशीय समितियों के माध्यम से ग्रामीण अंचल में कृषकों की आय दोगुनी करने के उद्देश्य से विभिन्न तरह की योजनाऐं संचालित की जा रही हैं जिसमें मुख्य रूप से कृषकों की आय दोगुनी करने के उद्देश्य से दीनदयाल उपाध्याय सहकारिता किसान कल्याण योजना के अन्तर्गत शून्य प्रतिशत ब्याज दर पर कृषि कार्य हेतु 1 लाख रुपये तक अल्पकालीन ऋण एवं कृषियेत्तर कार्यों हेतु 3 लाख रुपये तक का ऋण एवं स्वयं सहायता समूहों के माध्यम से 5 लाख रुपये तक का ऋण शून्य प्रतिशत ब्याज दर पर उपलब्ध कराया जा रहा है।

लटवाल ने बताया कि बैंक द्वारा व्यवसाय में वृद्धि करने हेतु 5 सरकारी विभागों. डिप्लोमा फार्मेसिस्ट एसोसिएशन जनपद. अल्मोडा, एजूकेशनल मिनिस्ट्रीयल आफिसर्स एसोसिएशन जनपद. अल्मोडा, राजकीय जूनियर हाईस्कूल शिक्षक संघ, बागेश्वर, राजकीय प्राथमिक शिक्षक संघ जनपद. बागेश्वर, राजकीय प्राथमिक शिक्षक संघ, जनपद, अल्मोडा से कर्मचारी ऋण सीमा बनाने हेतु अनुबन्ध किया गया है।

अध्यक्ष ललित लटवाल ने कहा कि बैंक के दूरस्थ क्षेत्र रीमा, भराड़ी कांडा, मौलेखाल, स्यालदे आदि शाखाओं से डाक के माध्यम से ऋण पत्रावलियां पहुचने में करीब एक सप्ताह का समय एवं दोबारा स्वीकृत पत्र प्रेषित करने में एक सप्ताह का समय लग जाता था। बैंक द्वारा प्रधानमंत्री के ड्रीम प्रोजेक्ट डिजिटल डंडिया कार्यक्रम से प्रेरित होकर डिजीटल सेवा का प्रयोग करते हुए सभी पत्रावलियों की पीडीएफ फाईल मुख्यालय स्वीकृत हेतु मंगाई गयी। जिससे ऋण पत्रावलियां प्राप्ति के दिन ही स्वीकृत हो रही हैं। पत्रावली स्वीकृत होने का औसत समय 10-14 दिवसों से कम होकर 1 दिवस हो गया।

उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री टी.बी मुक्त अभियाान के तहत 95 समिति एवं 31 बैंक शाखा के निकटतम टीबी मरीजों को स्वास्थ विभाग से सम्पर्क कर गोद लेने की कार्यवाही की जायेगी। साथ ही उन्होने समितियों के कम्प्यूटरीकरण में तेजी लाने के निर्देश दिये।

ये रहे मौजूद-

बैठक में बैंक के उपाध्यक्ष विक्रम सिंह, निदेशक नरेन्द्र सिंह, रघुवीर सिंह, गणेश सिंह, विनीत बिष्ट, गोविन्द सिंह, मोहन चौहान, कमला बहुगुणा, अनीला पन्त, मधुबाला, पुष्पा बिष्ट, उपनिबन्धक, एम.एस मर्तोलिया, जिला सहायक निबन्धक बागेश्वर एम.एल वर्मा, जिला सहायक निबन्धक दलीप बिष्ट, भाजपा जिलाध्यक्ष रवि रौतेला, पूर्व बैंक अध्यक्ष पान सिंह मावड़ी, सचिव महाप्रबन्धक मनोहर सिंह भण्डारी, उपमहाप्रबन्धक डी.एस नपलच्याल, अनुभाग अधिकारी भूपेन्द्र बिष्ट, श्वेता उपाध्याय, लता तिवारी, सैनू तितियाल, संजय गुप्ता, आदित्य जोशी, पीयूष गुणवन्त, धीरज बिष्ट, भगवान सिंह, महेन्द्र बिष्ट, सुरेश बोरा, निशा बिष्ट, निहारिका, कार्तिक गैडा, विक्रम बिष्ट, महेन्द्र बिष्ट, भोपाल सिंह एवं अन्य कर्मचारी तथा सदस्य मौजूद रहे।

 

हमसे व्हाट्सएप पर जुड़ें

https://chat.whatsapp.com/IZeqFp57B2o0g92YKGVoVz

हमसे यूट्यूब पर जुड़ें

https://youtube.com/channel/UCq06PwZX3iPFsdjaIam7DiA

Check Also

अल्मोड़ा-(बिग ब्रेकिंग): गीतकार के मकान में लगी आग… 6 लाख से अधिक कीमत का सामान चढ़ा आग की भेंट

🔊 इस खबर को सुने मकान में आग लगने से मची अफरा तफरी, ग्रामीणों ने …