Breaking News

अल्मोड़ा-(बड़ी खबर): ‘आप‘ ने बीजेपी विधायक के खिलाफ सौंपी तहरीर, कार्यकर्ताओं की पुलिस से तीखी नोकझोंक

अल्मोड़ाः बहुचर्चित अंकिता भंडारी हत्याकांड मामला तूल पकड़ते जा रहा है। गुरुवार को आम आदमी पार्टी प्रदेश मीडिया प्रभारी अमित जोशी के नेतृत्व में आम आदमी पार्टी कार्यकर्ताओं द्वारा अल्मोड़ा कोतवाली पहुंच कर भारतीय जनता पार्टी भारतीय जनता पार्टी के यमकेश्वर विधायक रेनू बिष्ट के खिलाफ तहरीर सौंपी है। तहरीर में आप कार्यकर्ताओं ने विधायक पर अनाधिकृत रूप से अंकिता भंडारी की हत्या के स्थल वनंत्रा रिजॉर्ट पर बुलडोजर चलाकर सबूत खुर्द बुर्द करने के आरोप लगाया है तथा मामले में प्राथमिकी दर्ज करने की मांग की है। इस दौरान एफआईआर दर्ज करने को लेकर आप कार्यकर्ताओं की पुलिस अधिकारियों से तीखी नोकझोंक हुई।

आप के प्रदेश मीडिया प्रभारी अमित जोशी ने बताया की जिलाधिकारी पौड़ी द्वारा पूर्व यह स्पष्ट कर दिया गया है कि यह बुलडोजर प्रशासन के द्वारा नहीं चलाया गया और मीडिया के माध्यम से यमकेश्वर से विधायक रेनू बिष्ट द्वारा बुलडोजर चलाने का मामला प्रकाश में आया है। कहा कि बुलडोजर कार्यवाही के समय विधायक रेणु बिष्ट मौके पर मौजूद थी। रिजॉर्ट के जिस कमरे में बुलडोजर चलाया गया एवं सबूत मिटाए गए वहां पर अंकिता हत्याकांड एवं वेश्यावृत्ति के सबूत मिल सकते थे। साथ ही उस व्यक्ति का पता चल सकता था। जिसके लिए स्पेशल सर्विस देने का दबाव अंकिता पर डाला गया।

जोशी ने कहा कि जघन्य अपराध में अपराध स्थल पर प्रशासन की अनुमति के बिना छेड़छाड़ करना एक गंभीर अपराध है। इस दौरान भाजपा विधायक रेनू बिष्ट पर जीरो फिर कराने की मांग को लेकर आप कार्यकर्ताओं की पुलिस अधिकारियों से तीखी नोकझोंक हुई। अमित जोशी ने आरोप लगाते हुए कहा कि पुलिस द्वारा आप पार्टी के कार्यकर्ताओं को डराने हेतु उनके रजिस्टर में सभी कार्यकर्ताओं के नाम और नंबर नोट कर उन्हें दबाव में लाने का प्रयास किया गया।

अमित जोशी ने बताया कि प्रभारी निरीक्षक कोतवाली राजेश कुमार यादव द्वारा उन्हें बताया गया कि इस मामले की जांच एसआईटी कर रही है। इसलिए यह प्रार्थना पत्र एसआईटी की डीआईजी को प्रेषित किया जाएगा एवं उनके स्तर पर मुकदमा दर्ज कराया जाएगा।

आम आदमी पार्टी के जिला अध्यक्ष आनंद सिंह बिष्ट ने कहा कि हम अंकिता भंडारी को न्याय मिलना चाहिए उसके दोषियों को दंड मिलना चाहिए। ताकि दोबारा इस तरह की घटना क पुनरावृत्ति न हो। उन्होंने कहा कि अगर एसआईटी की तरफ से सबूतों को खुर्द बुर्द करने वाले जिम्मेदार लोगों के प्रति कार्रवाई नहीं की जाएगी तो आम आदमी पार्टी न्याय की मांग हेतु उग्र आंदोलन एवं न्यायालय की शरण में जाएगी।

इस मामले में कोतवाल राजेश कुमार यादव से दूरभाष पर संपर्क किया गया। लेकिन उनकी ओर से कॉल रिसीव नहीं की गई। संपर्क होने पर उनका पक्ष इस खबर में लिखा जाएगा।

इस दौरान जिला अध्यक्ष अल्पसंख्यक मोर्चा मुमताज खान, संगठन महासचिव मनोज गुप्ता, युवा मोर्चा प्रदेश उपाध्यक्ष शमशेर आर्यन, जिला अध्यक्ष युवा मोर्चा दानिश कुरेशी, जिला सचिव नवीन चंद्र आर्य, जिला सचिव योगेंद्र अधिकारी, विधानसभा अध्यक्ष अल्पसंख्यक मोर्चा रेशमा अंसारी, जिला सचिव दिनेश कुमार, जिला सचिव एसआर बेग, सोशल मीडिया प्रभारी विधानसभा मुकेश कुमार टम्टा, अफसान खान, किरण आर्य, मेहनाज खान, अंकिता भंडारी एवं अन्य कार्यकर्ता मौजूद रहे।

 

 

हमसे व्हाट्सएप पर जुड़ें

https://chat.whatsapp.com/IZeqFp57B2o0g92YKGVoVz

हमसे यूट्यूब पर जुड़ें

https://youtube.com/channel/UCq06PwZX3iPFsdjaIam7DiA

Check Also

विस सत्र 2 दिन में खत्म करने पर बिफरे विधायक मनोज तिवारी, सरकार पर लगाये यह आरोप

🔊 इस खबर को सुने अल्मोड़ा: उत्तराखंड का शीतकालीन विधानसभा सत्र 2 दिन में खत्म …