Breaking News
Featured Video Play Icon

अल्मोड़ा सड़क हादसा: पलक झपकते ही मौत की नींद सो गए एक ही परिवार के 4 लोग, फौजी दूल्हे के पिता, बहन समेत 2 अन्य स्वजनों की मौत से मचा कोहराम

अल्मोड़ा: जिले के नौगांव के पास हुई हृदयविदारक घटना ने हर किसी को झकझोर कर ​रख दिया। बारात विदा होने के करीब एक घंटे बाद ही शादी की खुशियां मातम में बदल गई। कुछ घंटों पहले जहां शहनाई की मधुर आवाज गूंज रही थी, वहीं अब मातमी सन्‍नाटा पसरा हुआ है। दूल्हे के घर में कोहराम मचा हुआ है, स्वजनों में चीख पुकार मची हुई है।

बागेश्वर जिले के ग्राम मटेला, काफलीगैर निवासी दिनेश उर्फ विक्की पुत्र जयंत सिंह की बीते शुक्रवार को बारात बेरीनाग गई थी। शनिवार यानि आज सुबह करीब सवा 8 बजे हंसी खुशी बारात वापस लौटी। लेकिन दूल्हे के घर पहुंचने से पहले कुछ ऐसा घटित हुआ की बारात वाले परिवार की खुशियां मातम में तब्दील हो गई। सुबह करीब साढ़े 9 बजे बखरिया व जमराड़ी के बीच नौगांव के पास दूल्हे के बड़े भाई की कार संख्या- यूके 18H 6578 अनियंत्रित होकर करीब 200 मीटर गहरी खाई में जा गिरी। कार में सवार लोगों की चीख पुकार मच पड़ी। हादसे के दौरान कार में दूल्हे के ​पिता, भाई, भाभी, बहन व अन्य परिजन सवार थे।

ये भी पढ़ें

अल्मोड़ा-(बिग ब्रेकिंग): खाई में गिरा बारात का वाहन, 4 लोगों की मौत, 2 लोग घायल

 

पिता, बहन समेत 4 स्वजनों की मौत

इस दर्दनाक हादसे में दूल्हे के पिता जयंत सिंह पुत्र बच्चे सिंह 65 निवासी मटेला, काफलीगैर, दूल्हे की भाभी अनीता 35 पत्नी मंगल सिंह, दूल्हे की बहन सीमा 36 पत्नी जगदीश भाकुनी, निवासी डोटियाल गांव, ताकुला तथा दूल्हे का भतीजा समर 10 पुत्र मंगल सिंह की मौके पर ही दर्दनाक मौत हो गई। जबकि कार चला रहा दूल्हे का बड़ा भाई मंगल सिंह 36 पुत्र जयंत सिंह निवासी मटेला, काफलीगैर, अक्षिता रौतेला 7 पुत्री मंगल सिंह, योगिता 8 पुत्री जगदीश सिंह, निवासी डोटियाल गांव, ताकुला गंभीर रूप से घायल हो गए।

नींद की झपकी बताई जा रही हादसे की वजह

दिनेश उर्फ विक्की आर्मी में तैनात है। जबकि उसका भाई मंगल सिंह मर्चेंट नेवी में कार्यरत है। हादसे की वजह नींद की झपकी आना बताया जा रहा है। पुलिस व प्रशासन की टीम हादसे की जांच में जुट गई है। एसडीएम गोपाल सिंह चौहान ने बताया कि हादसे की स्पष्ट वजह जांच के बाद ही सामने आ सकेगी।

पीएचसी धौलछीना में हुआ पोस्टमार्टम

हादसे की सूचना के बाद जिला प्रशासन से एसडीएम गोपाल सिंह चौहान, सीओ विमल प्रसाद, तहसीलदार कुलदीप पांडे, नायब तहसीलदार बालम सिंह, दन्या पुलिस, एसडीआरएफ मौके पर पहुंचे। स्थानीय लोगों की मदद से पुलिस ने शवों व घायलों को खाई से बाहर निकाल कर प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र, धौलछीना पहुंचाया। प्राथमिक उपचार के बाद सभी घायलों को हायर सेंटर रेफर कर दिया है। वही, मृतकों का पीएचसी धौलछीना में ही पोस्टमार्टम कराया गया। जिसके बाद शव परिजनों को सौंप दिए गए है।

ये भी पढ़ें

Almora: क्षेत्रीय जनप्रतिनिधियों ने नहीं सुनी तो 70 किमी दूर से CM से मिलने पहुंचा युवक, पुलिस ने धक्के देकर किया बाहर!

 

हमसे व्हाट्सएप पर जुड़ें

https://chat.whatsapp.com/IZeqFp57B2o0g92YKGVoVz

हमसे यूट्यूब पर जुड़ें

https://youtube.com/channel/UCq06PwZX3iPFsdjaIam7DiA

 

Check Also

अल्मोड़ा-(बिग ब्रेकिंग): गीतकार के मकान में लगी आग… 6 लाख से अधिक कीमत का सामान चढ़ा आग की भेंट

🔊 इस खबर को सुने मकान में आग लगने से मची अफरा तफरी, ग्रामीणों ने …