Breaking News
Dushkarm
प्रतीकात्मक फोटो

शर्मनाक: अल्मोड़ा में 75 व 60 साल के दो बुजुर्गों की घिनौनी हरकत, नाबालिग के साथ 2 बार दुष्कर्म.. पीड़िता 6 माह की गर्भवती

अल्मोड़ा: जिले में दो बुजुर्गों की शर्मनाक हरकत सामने आई है। आरोपियों ने एक 16 साल की नाबालिग किशोरी से दुष्कर्म किया और परिजनों को बताने पर उसे जान से मारने की धमकी दी। दोनों हैवानों ने अलग-अलग दिन किशोरी से दरिंदगी की। पीड़िता करीब 6 माह की गर्भवती बताई जा रही है। पुलिस ने दोनों आरोपियों को गिरफ्तार कर जेल भेज दिया है।

मामला जिले के सल्ट तहसील, थाना भतरौजखान क्षेत्र के अतंर्गत एक गांव का है। बीते मंगलवार को एक महिला ने अपनी बहन के साथ दुष्कर्म करने की नामजद तहरीर थाना भतरौजखान में सौपी। पुलिस ने आरोपियों के खिलाफ तत्काल मुकदमा दर्ज किया। आरोपियों की गिरफ्तारी के लिए पुलिस टीम गठित की गई। मुकदमा दर्ज होने के 48 घंटे के भीतर पुलिस ने नाबालिग से दुष्कर्म के दोनों आरोपी हस राम व सद राम को बुधवार को चौड़ी घट्टी भतरौजखान से दबोच लिया। पुलिस ने दोनों आरोपियों को न्यायालय में पेशी के बाद जेल भेज दिया है।

 

दो सप्ताह में दो बार दुष्कर्म-

दरअसल, यह मामला बीते वर्ष का बताया जा रहा है। पीड़िता पुलिस को घटना के बारे में स्पष्ट तिथि नहीं बता पा रही है। पुलिस से मिली जानकारी के मुताबिक पीड़िता अपने गांव से लगे जंगल में मवेशियों को चुगाने गई थी। जहां 75 वर्षीय हस राम पुत्र धन राम ने उसके साथ दरिंदगी की। ठीक इस घटना के 14 दिन बाद दूसरे आरोपी 60 वर्षीय सद राम पुत्र हरिराम ने उस वक्त नाबालिग के साथ दुष्कर्म किया, जब वह अपने घर से ऊपर पानी भरने के लिए गई थी। दोनों आरोपियों ने पीड़िता को धमकी दी कि वह इस घटना के बारे में किसी को जानकारी देगी तो वह उसे जान से मार देंगे। डरी सहमी किशोरी ने अपने साथ हुई हैवानियत के बारे में अपने परिजनों को नहीं बताया।

 

ऐसे खुला मामला-

पुलिस के मुताबिक पीड़िता करीब 6 माह की गर्भवती है। बीते दिनों उसके पेट में अचानक दर्द हुआ। पीड़िता ने यह बात अपने सहेलियों को बताई तो उन्होंने कुछ समय में ठीक होने की बात कही। लेकिन जब बाद में दर्द बढ़ते गया तो पीड़िता ने यह बात अपनी चाची को बताई। परिजनों को किशोरी के गर्भवती होने का शक हुआ। जब परिजनों ने इस संबंध में पीड़िता से पूछा तो उसने घटना के बारे में उन्हें बताया। जिसके बाद परिजन भतरौजखान थाना पहुंचे। जहां पीड़िता की बड़ी बहन ने आरोपियों के खिलाफ तहरीर दी। वही, पुलिस ने पीड़िता के बयान दर्ज कर लिए है। साथ ही उसका मेडिकल भी करा लिया गया है।

पुलिस टीम में थानाध्यक्ष भतरौजखान निरीक्षक संजय पाठक, महिला उपनिरीक्षक व विवेचक मोनी टम्टा, हेड कांस्टेबल रविंद्र सिंह, कांस्टेबल हरेन्द्र तोमर आदि शामिल रहे।

 

हमसे व्हाट्सएप पर जुड़ें

https://chat.whatsapp.com/IZeqFp57B2o0g92YKGVoVz

हमसे यूट्यूब पर जुड़ें

https://youtube.com/channel/UCq06PwZX3iPFsdjaIam7DiA

Check Also

दर्दनाक सड़क हादसा:: फिर खून से सनी उत्तराखंड की सड़कें, एक झपकी ने ली 14 लोगों की जान, पढ़ें पूरी खबर

रुद्रप्रयाग: उत्तराखंड में सड़क हादसों का ग्राफ तेजी से बढ़ रहा है। ताजा मामला रुद्रप्रयाग …