Breaking News

भाजपा प्रदेश उपाध्यक्ष कैलाश शर्मा ने नकल विरोधी कानून को बताया धामी सरकार का ऐति​हासिक कदम, CBI जांच को लेकर कही यह बात

अल्मोड़ा: भारतीय जनता पार्टी के प्रदेश उपाध्यक्ष कैलाश शर्मा ने नकल विरोधी कानून(anti-copying law) को धामी सरकार का ऐतिहासिक कदम बताया है। उन्होंने कहा कि भाजपा अपने घोषणापत्र के अनुरूप कार्य कर रही है। इसी क्रम में प्रदेश की भाजपा सरकार ने युवाओं के हित के अनुरूप एक बड़ा कदम उठाया है। उन्होंने नकल विरोधी अध्यादेश लाने पर प्रदेश सरकार को बधाई दी है।

नगर के एक होटल में पत्रकार वार्ता के दौरान बीजेपी प्रदेश उपाध्यक्ष व पूर्व विधायक कैलाश शर्मा(BJP State Vice President and former MLA Kailash Sharma) ने नकल विरोधी काननू की खूबियां गिनाते हुए कहा कि उत्तराखंड में होने वाली प्रतियोगी परीक्षाओं में लगातार धांधली की शिकायतें सामने आ रही थीं। जिस पर सरकार ने कार्रवाई कर 60 से अधिक नकल माफियाओं को जेल भेजने का काम किया और युवाओं व राज्य की जनता की मांग को देखते हुए सरकार अब नकल विरोधी कानून लेकर आई है। जो नकल माफियाओं की कमर तोड़ने का काम करेगा। उन्होंने कहा कि इस कानून में नकल करने वालों व नकल कराने वालों के लिए सख्त सजा का प्रावधान है। शर्मा ने कहा कि नकल विरोधी कानून लागू होने से प्रदेश में भविष्य में होने वाली सभी प्रतियोगी परीक्षाओं में अब पारदर्शिता आएगी और योग्य व पात्र अभ्यर्थियों का चयन होगा।

 

परीक्षाओं में हुई धांधली के बाद उठ रही CBI जांच की मांग के सवाल पर शर्मा ने कहा कि सरकार युवाओं के भविष्य को लेकर सजग है। युवाओं के हित के लिए सरकार को जो भी कदम उठाना पड़ेगा वह उठायेगी, ऐसा उन्हें विश्वास है।

कई विभागों में आउटसोर्सिंग व ठेका प्रथा के तहत नियुक्तियों में हो रही गड़बड़ियों के सवाल पर कैलाश शर्मा ने कहा कि मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी के नेतृत्व में सरकार पूरी पारदर्शिता के साथ काम कर रही है। किसी भी क्षेत्र में गड़बड़ी क्षम्य नहीं होगी। दोषियों को उचित दंड दिया जाएगा। उन्होंने कहा कि वह विश्वास दिलाते है कि जनता के हितों को सर्वोपरि रखते हुए उनके लिए काम किया जा रहा है और आगे भी किया जाएगा।

पत्रकार वार्ता में जिला महामंत्री धर्मेन्द्र बिष्ट, जिला उपाध्यक्ष कैलाश गुरूरानी, नगर उपाध्यक्ष जगत भट्ट, मीडिया प्रभारी राजेन्द्र बिष्ट, मनोज जोशी, अर्जुन बिष्ट समेत अन्य लोग मौजूद रहे।

 

हमसे व्हाट्सएप पर जुड़ें

https://chat.whatsapp.com/IZeqFp57B2o0g92YKGVoVz

हमसे यूट्यूब पर जुड़ें

https://youtube.com/channel/UCq06PwZX3iPFsdjaIam7DiA

Check Also

Uttarakhand Forest Fire:: उत्तराखंड के सुलगते जंगलों पर सुप्रीम कोर्ट सख्त, केंद्र और राज्य सरकार को लगाई फटकार, चीफ सेक्रटरी तलब

नई दिल्ली: उत्तराखंड के सुलगते जंगलों (Uttarakhand Forest Fire) ने हर किसी को गंभीर कर …