Breaking News

अल्मोड़ा: कांग्रेस ने गिनाई धामी सरकार के एक साल के कार्यकाल की विफलताएं, कहा- सरकार हर मोर्चे पर हुई फेल

अल्मोड़ा: उत्तराखंड में धामी सरकार एक साल पूरा होने पर जश्न मना रही है वही विपक्ष ने सरकार के एक साल के कार्यकाल को विफल बताते हुए सवाल खड़े किए हैं। विधायक मनोज तिवारी ने पत्रकार वार्ता कर कहा कि भाजपा सरकार का एक साल का कार्यकाल झूठ का पुलिंदा व आंकड़ों के हेरफेर के सिवाय और कुछ नहीं है। रोजगार, शिक्षा, स्वास्थ्य, विकास हर मुद्दें पर धामी सरकार झूठ बोल रही है।

विधायक मनोज तिवारी ने प्रदेश की भाजपा सरकार पर कड़ा प्रहार करते हुए कहा कि गैरसैंण में धामी सरकार द्वारा बजट सत्र में संसदीय नियमावली का उल्लंघन किया है। बजट सत्र 15 दिन तक चलना चाहिए था लेकिन सरकार ने बजट सत्र को चार दिन में समाप्त कर दिया। सरकार ने नियमों के विपरीत सदन में बजट पेश किया।

विधायक तिवारी ने कहा कि सरकार ने बजट 2023 में विकास कार्यों के लिए कम जबकि वेतन-भत्तों के लिए अधिक राशि रखी है। जब विकास कार्यों के लिए बजट ही नहीं होगा तो प्रदेश में विकास कार्य कैसे होंगे यह सोचनीय विषय है। उन्होंने कहा कि विपक्षी विधायकों को दो दिन ही सदन में बोलने का मौका दिया गया। जिसमें बेरोजगारी, महंगाई, पेपर लीक, विकास कार्यों व शिक्षा जैसे महत्वपूर्ण विषयों को उठाया। कहा कि देहरादून में शांतिप्रिय ढंग से धरना दे रहे युवाओं को धरना स्थल से उठाने व बेरोजगार नौजवानों पर लाठीचार्ज के मुद्दे को कांग्रेस ने जोर शोर के साथ सदन में उठाया और बेरोजगार युवाओं पर दर्ज हुए मुकदमों को वापस लेने के लिए सरकार पर दबाब बनाने का काम किया। जिसके ​बाद धामी सरकार ने दबाव में आकर नौजवानों पर दर्ज मुकदमों को वापस लेने का फैसला लिया।

मनोज तिवारी ने कहा कि राज्य में बेरोजगारी की दर तेजी से बढ़ रही है। उत्तराखंड में बेरोजगारी किस कदर बढ़ रही है, ​अल्मोड़ा जिले में आंकड़ों से इसे देखा जा सकता है। विधायक ने कहा कि जिले में सेवायोजन कार्यालय में 72 हजार से अधिक पंजीकृत बेरोजगार युवा है, जो बेरोजगारी का दंश झेल रहे है। राज्य का युवा आज खुद को ठगा महसूस कर रहा है। विधायक ने कहा कि कांग्रेस भर्ती घोटालों पर​ लगातार हाईकोर्ट के सीटिंग जच की निगरानी में सीबीआई जांच की मांग कर रही है। लेकिन सरकार नकल विरोधी कानून के माध्यम से पिछली मांगों को छुपाने का काम कर रही है।

विधायक मनोज तिवारी ने कहा कि भाजपा के पिछले 6 साल के कार्यकाल में दलितों पर अत्याचार की घटनाएं तेजी से बढ़ी हैं। सोमेश्वर में दलित छात्राओं को मंदिर में प्रवेश करने से रोका जाता है। सवर्ण युवती से शादी करने पर सामाजिक कार्यकर्ता व दलित नेता जगदीश की निर्मम हत्या कर दी जाती है। उत्तरकाशी में दलित युवक के मंदिर में प्रवेश पर सवर्ण युवकों द्वारा उसके साथ मारपीट कर उसे गंभीर रूप से घायल कर दिया जाता है। विधायक ने आरोप लगाते हुए कहा कि भाजपा सरकार ने हमेशा समाज में लोगों को बांटने का काम किया है। जिससे इन घटनाओं को बल मिल रहा है।

जिला कांग्रेस कमेटी ​के जिलाध्यक्ष भूपेंद्र भोज गुड्डू ने कहा कि भाजपा अपने अब तक के कार्यकाल में महंगाई, बेरोजगारी, शिक्षा, स्वास्थ्य, रोजगार, विकास सभी मोर्चों पर फेल साबित हुई है। धामी सरकार का पिछला एक साल भी नाकामी भरा रहा है। इस दौरान कई भर्ती घोटाले सामने आए है। जिसमें भाजपा नेताओं की संलिप्तता पाई गई जिससे भाजपा का संरक्षण मिलना प्रतीत होता है। उन्होंने कहा कि भाजपा इस मामले में श्वेत पत्र जारी करे।

भोज ने कहा कि पिछले एक साल में अंकिता, केदार, जगदीश जैसे कई जघन्य हत्याकांड प्रदेश में हुए। जिसने राज्य की जनता को हिला के रख दिया। अंकिता हत्याकांड में भाजपा नेता व उसके पाल्य की संलिप्तता पाई गई। जिसमें सरकार अभी किसी निर्णय पर नहीं पहुंच पाई है। भर्ती परीक्षा धांधली में जिन पर मुकदमें दर्ज हुए थे और जेल गए थे। सरकार की कमजोर पैरवी के कारण आज उन्हें जमानतें मिल रही हैं।

जिलाध्यक्ष भूपेंद्र भोज ने सरकार पर तंज कसते हुए कहा कि भाजपा सरकार प्रदेश में स्वास्थ्य सुविधाएं सुधारने का दावा करते नहीं थकती लेकिन अल्मोड़ा मेडिकल कॉलेज सफेद हाथी बनकर रह गया है, जहां न डॉक्टर है न मरीजों के लिए अन्य स्वास्थ्य सुविधाएं। राज्य में शिक्षा लगातार महंगी होती जा रही है, पानी के मूल्यों में हर साल वृद्धि हो रही है। महंगाई ने आम आदमी की कमर तोड़ दी है। भोज ने कहा कि भाजपा की कथनी व करनी में अंतर है जिसे राज्य की जनता अच्छी तरह समझ चुकी है। आगामी चुनावों में जनता भाजपा को इसका जवाब देगी।

पत्रकार वार्ता में नगरपालिका अध्यक्ष प्रकाश चंद्र जोशी, नगर अध्यक्ष तारा चंद्र जोशी, किशन लाल, त्रिलोचन जोशी, पूरन रौतेला, निर्मल रावत, विपुल कार्की आदि मौजूद रहे।

 

 

हमसे व्हाट्सएप पर जुड़ें

https://chat.whatsapp.com/IZeqFp57B2o0g92YKGVoVz

हमसे यूट्यूब पर जुड़ें

https://youtube.com/channel/UCq06PwZX3iPFsdjaIam7DiA

 

Check Also

धौलछीना हादसा अपडेट: हादसे में जान गंवाने वाली महिला व घायलों के नाम सामने आएं, पढ़ें पूरी खबर

-प्राथमिक उपचार के बाद तीनों घायलों को हायर सेंटर रेफर किया, पूजा पाठ के लिए …