Breaking News

अल्मोड़ा: गुरिल्लों ने लिया बड़ा फैसला… कैलाश मानसरोवर यात्रा को रोकने की चेतावनी

अल्मोड़ा: एसएसबी स्वयं सेवकों ने विभिन्न मांगों को लेकर शुक्रवार को चौघानपाटा गांधी पार्क में जोरदार प्रदर्शन किया। इस दौरान गुरिल्लों ने अपने मांगों के पक्ष व सरकार के ​खिलाफ जमकर नारेबाजी की। साथ ही गुरिल्लों ने सरकार को बड़ी चेतावनी दे डाली है। गुरिल्लों ने कहा कि अगर उनकी मांगों पर कार्यवाही नहीं हुई तो वह कैलाश मानसरोवर यात्रा को रोकने का काम करेंगे।

इस दौरान आयोजित सभा में वक्ताओं ने कहा कि एसएसबी गुरिल्लों के मामले में निर्णय लेने में केन्द्र सरकार ने निश्चित ही बहुत देर कर दी है। जिससे हजारों गुरिल्ले अपने हक से वंचित है। सीमा की सुरक्षा जैसे संवेदनशील मुद्दे पर केन्द्र सरकार की बेरूखी उचित नहीं है।

केन्द्र सरकार ने जहां 9 मई 2011 को भेजी एसएसबी विभाग की सिफारिशों को नजरंदाज कर दिया है वही, गृहमंत्री स्तर लिए गये निर्णयों पर भी कार्यवाही नहीं की है। कहा कि उत्तराखंड सरकार ने केन्द्र सरकार से दो कदम आगे बढ़ते हुए स्वयं जारी शासनादेशों पर भी कार्यवाही अपने अधिकारियों से नहीं करा पा रही है। स्वैच्छिक आपदा प्रबंधन बल के गठन के शासनादेश को राज्यपाल की मंजूरी के बावजूद जहां पुलिस विभाग ने लटका रखा है वही, सड़कों के रख रखाव हेतु मेट और बेलदार पदों में नियुक्ति के लिए लोक निर्माण विभाग के अधिशासी अभियंता स्तर पर कार्यवाही नहीं हो रही है। होम गार्ड तथा पीआरडी के माध्यम से गुरिल्लों को विभिन्न विभागों में कार्य पर रखे जाने के निर्णय भी फाइलों से आगे नहीं निकल पाये हैं।

सभा के बाद गांधी पार्क से शहीद स्थल तक रैली निकाली गई। गुरिल्लों की मांगों व सरकार द्वारा लिए गये निर्णयों पर शीघ्र कार्यवाही की मांग करते हुए चेतावनी दी है। कहा कि जिस तरह गुरिल्लों ने गढ़वाल मंडल मे चार धाम यात्रा में चक्का जाम लगाने की चेतावनी दी है ऐसे ही कुमाऊं में कैलाश मानसरोवर यात्रा रोकने जैसे निर्णय लेने के लिए गुरिल्लें मजबूर होंगे।

इस दौरान गुरिल्ला संगठन के केंद्रीय अध्यक्ष ब्रह्मानंद डालाकोटी, जिलाध्यक्ष शिवराज बनौला, रतन सिंह, अर्जुन सिंह नैनवाल, बिशन सिंह नेगी, लक्ष्मण सिंह, विजय जोशी, भुवन चौधरी, कैलाश साह, चंदू उपाध्याय, देवी दत्त बुधानी, सुरेश चन्द्र भट्ट, ध्यान सिंह, प्रकाश चन्द्र, ललित मोहन सनवाल, संजय सिंह, डुंगर सिंह, गिरीश जोशी, गंगा सिंह बनौला, भगवंत सिंह, दीवान सिंह, जगदीश सिंह, भगवत भोज, नरेन्द्र सिंह मेहरा, जीवन अधिकारी, हीरा सिंह, गोपाल सिंह राणा, पनी राम, खड़क सिंह, आनंदी महरा, रेखा बगड़वाल, ममता मेहता, पूनम जोशी, आशा फर्त्याल, अनीता आर्या, हेमा बिष्ट, लछिमा आर्या, प्रेमा देवी, कविता साह, दीपा साह, भानु पाण्डेय, नीमा, चम्पा, सरुली देवी, बसन्ती देवी, मनेता देवी, प्रताप सिंह, राजेन्द्र सिंह समेत सैकड़ो गुरिल्लें मौजूद रहे।

 

हमसे व्हाट्सएप पर जुड़ें

https://chat.whatsapp.com/IZeqFp57B2o0g92YKGVoVz

हमसे यूट्यूब पर जुड़ें

https://youtube.com/channel/UCq06PwZX3iPFsdjaIam7DiA

Check Also

कुमाउं में बड़ा सड़क हादसा, पर्यटकों की कार गहरी खाई में गिरी, मची चीख-पुकार

-हादसे की जांच में जुटी पुलिस, घायलों की स्थिति गंभीर   नैनीताल: उत्तराखंड के नैनीताल …