Breaking News

landscape of kumaon: नेचर फोटोग्राफ्स को देख अभिभूत हुए प्रशासनिक अधिकारी

अल्मोड़ा: उदय शंकर नाट्य एवम संगीत अकादमी में ‘लैंडस्केप ऑफ कुमाऊं’ विषय पर स्लाइड शो व व्याख्यान कार्यक्रम आयोजित किया गया। व्याख्यान को प्रकृतिविद् एवं लैंडस्केप फोटोग्राफर जयमित्र सिंह बिष्ट द्वारा प्रस्तुत किया गया।

डॉ. रघुनंदन सिंह टोलिया, उत्तराखंड प्रशासन अकादमी, नैनीताल द्वारा आयोजित इस कार्यक्रम में मध्य प्रदेश के राज्य प्रशासनिक सेवा के अधिकारियों ने कुमाऊं के प्राकृतिक फोटोग्राफ्स देखें। जयमित्र सिंह बिष्ट ने स्लाइड शो और व्याख्यान के दौरान कुमाऊं के अलग—अलग स्थानों से दिखने वाले हिमालय की पर्वत श्रृंखलाओं के अलावा उच्च हिमालय की व्यास, दारमा, रालम, चौंदास घाटियों की जानकारी अपने द्वारा खींचे गए चित्रों के माध्यम से दी। फोटोग्राफ्स को देख प्रतिभागियों ने कुमाऊं के हिमालय, लैंडस्केप और प्रकृति को बहुत नज़दीक से जाना।

जयमित्र​ पिछले 25 वर्षों से ज्यादा समय से कुमाऊं और उत्तराखंड के लैंडस्केप एवं प्रकृति को कवर कर रहे है। उनके द्वारा अपने कैमरे में कैद किए गए फोटोग्राफ्स से अधिकारी इतने प्रभावित हुए की उन्होंने बिष्ट को अपने साथ मध्यप्रदेश से लाए वहां के लोकल क्राफ्ट में बनाए हुए अंगवस्त्र को पहना कर सम्मानित किया।

मध्यप्रदेश के ये सभी अधिकारी इन दिनों कुमाऊं भ्रमण के साथ ही साथ प्रशिक्षण कार्यक्रम में हैं जो कि कुमाऊं के अप्रतिम सौन्दर्य से काफी प्रभावित दिखे।

कार्यक्रम की परिकल्पना संयुक्त निदेशक उत्तराखंड प्रशासन अकादमी नैनीताल (प्र.) प्रकाश चंद्र द्वारा की गई। इस मौके पर प्रतिभागियों के साथ उत्तराखंड प्रशासनिक अकादमी नैनीताल के एसोसिएट प्रोफेसर ओमप्रकाश, पुरातत्व अधिकारी चंद्र सिंह चौहान, उदय शंकर संगीत एवं नृत्य अकादमी की ममता जीना समेत अन्य लोग मौजूद रहे।

 

 

Check Also

Uttarakhand Forest Fire:: उत्तराखंड के सुलगते जंगलों पर सुप्रीम कोर्ट सख्त, केंद्र और राज्य सरकार को लगाई फटकार, चीफ सेक्रटरी तलब

नई दिल्ली: उत्तराखंड के सुलगते जंगलों (Uttarakhand Forest Fire) ने हर किसी को गंभीर कर …