Breaking News

मासी की समस्याओं को लेकर हुई चिंतन बैठक, ITI की दशा सुधारने समेत कई मुद्दों पर हुई चर्चा

अल्मोड़ा: गेवाड़ विकास समिति की अगुवाई में तमाम जनप्रतिनिधियों व लोगों की मासी आईटीआई परिसर व रामगंगा के तट पर बैठक आहूत की गई। बैठक में आईटीआई में तीन ट्रेड शुरू करने व तटबंध निर्माण के साथ ही मासी क्षेत्र की विभिन्न समस्याओं को लेकर चर्चा की गई।

वक्ताओं ने कहा कि मासी में 2008 में आईटीआई शुरू हुआ था, जो 2017 से अपने नए भवन में स्थानान्तरित हो गया। लेकिन भवन की सुरक्षा के लिए तटबंध न होने से भवन के लिए खतरा बना रहता है। साथ ही संस्थान में फीटर ट्रेड के अलावा अन्य कोई ट्रेड नही है। बैठक में आईटीआई की समस्याओं के निदान को लेकर चिंतन मनन किया। इस दौरान रामगंगा से होने वाले खतरे आदि का जायजा लिया तथा सुरक्षा के लिए तटबंध बनाने की मांग की।

इसके अलावा कोरोनाकाल से बंद हो चुकी मासी दिल्ली बस सेवा शुरू करने, मासी महाविद्यालय का भवन निर्माण करने, स्वास्थ्य केंद्र का उच्चीकरण करने, रामपादुका का पर्यटन विकास सहित कई समस्याओं पर चर्चा हुई। सभी ने दलीय राजनीति से ऊपर उठकर क्षेत्र के विकास को नई ऊंचाईयों पर ले जाने का संकल्प लिया।

बैठक की अध्यक्षता जिला पंचायत उपाध्यक्ष कांता रावत व संचालन हेम कांडपाल व हीरासिंह बिष्ट ने संयुक्त रूप से किया।

इस दौरान बैठक में गेवाड़ विकास समिति के अध्यक्ष गजेंद्र सिंह नेगी, ब्लाक प्रमुख किरन बिष्ट, प्रधान दीपा मासीवाल, गिरधर बिष्ट, कमला फुलोरिया, व्यापार संघ अध्यक्ष गिरीश आर्या, रामस्वरूप मासीवाल, विजय गोरखा, शंकर सिंह रावत, हर्ष फुलोरिया, भगवत सिंह बिष्ट, रमेश चतुर्वेदी, चंदन सिंह बिष्ट, गणेश नायक, किशोर शर्मा, अशोक कुमार आदि ने अपने विचार रखे।

बैठक में खीमानंद मासीवाल, मोहन सिंह, दिनेश मनराल, जमन मनराल, शंकर बिष्ट, नंदन मेहरा, गोपाल मैनाली, भगवत राम, गोपाल सिंह, दीवान सिंह, राम सिंह, चंदन कुमार, महेंदर सिंह, बिशन सिंह, लक्ष्मण सिंह, चंदन रावत, हेम गौड़, गोपाल मासीवाल, महेश वर्मा, नायब तहसीलदार सुनील थपलियाल सहित कई लोग मौजूद रहे।

 

हमसे whatsapp पर जुड़े

हमसे youtube पर जुड़ें

https://youtube.com/channel/UCq06PwZX3iPFsdjaIam7DiA

Check Also

breaking

Road accident:: अल्मोड़ा में सड़क हादसा, यात्रियों में मची चीख पुकार, पढ़ें पूरी खबर

-आमने-सामने टक्कर में दोनों वाहनों के आगे का हिस्सा हुआ क्षतिग्रस्त अल्मोड़ा: नगर से लगे …