Breaking News

कुमाऊं: होटल में चल रहा था जिस्मफरोसी का धंधा, अल्मोड़ा के युवक समेत 5 लोग गिरफ्तार

हल्द्वानी: एंटी ह्यूमन ट्रैफिकिंग सेल टीम ने हल्द्वानी एक होटल में चल रहे जिस्मफरोसी के धंधे का भंडाफोड़ किया है। टीम ने मौके से एक महिला समेत पांच लोगों को गिरफ्तार किया है। जिसमें दो ग्राहक, एक महिला व दो होटल संचालक शामिल है। प्रशासन की मदद से पुलिस ने वेश्यावृत्ति में प्रयुक्त होटल को सीज कर दिया है। जबकि होटल मालिक की तलाश शुरू कर दी है।

पुलिस से मिली जानकारी के मुताबिक एंटी ह्यूमन ट्रैफिकिंग सेल टीम ने रामपुर रोड टीपीनगर में स्थित मां गायत्री होटल में चेकिंग की। होटल के प्रवेश रजिस्टर में दो कमरे बुक थे। टीम ने कमरे कमरा दिखाने के लिए बोला तो होटल संचालक नारायण राम सकपकाने लगा। इसी दौरान एक और व्यक्ति जो होटल की तरफ आ रहा था टीम को देख सीढ़ियों के पास से भागने लगा। लेकिन टीम ने उसे दबोच लिया। पूछने पर युवक ने अपना नाम गिरीश चंद्र (23) पुत्र धरम राम निवासी लमगड़ा, अल्मोड़ा बताया, जो होटल में रिशेप्सनिस्ट है।

सख्ती से पूछताछ करने पर दोनों होटल संचालकों ने टीम को बताया कि होटल के एक कमरे में एक महिला व 2 अन्य व्यक्ति है। जिसके बाद एंटी ह्यूमन ट्रैफिकिंग सेल टीम ने होटल के एक कमरे में छापेमारी की तो वहां चंदन सिंह डसीला, निवासी गोलापार काठगोदाम व अमर बाबू, निवासी बरेली, उत्तर प्रदेश के साथ नैनीताल जिले की रहने वाली एक महिला पाई गई। पुलिस ने मौके से महिला समेत पांचों लोगों को गिरफ्तार किया।

चेकिंग के दौरान पुलिस को होटल के कमरे में कई आपत्तिजनक सामग्री मिली। साथ ही महिला के पास से जिस्मफरोसी से कमाये गई 5 हजार से अधिक की नगदी बरामद की।

एंटी ह्यूमन ट्रैफिकिंग सेल द्वारा मामले में थाना हल्द्वानी में धारा 3/4/5/7/8 अनैतिक देह व्यापार निवारण अधिनियम बनाम चंदन सिंह डसीला के तहत मुकदमा दर्ज किया। पुलिस टीम द्वारा प्रशासन के सहयोग से वेश्यावृत्ति में प्रयुक्त होटल गायत्री को सीज किया गया। होटल के लाइसेंस निरस्तीकरण की कार्यवाही की जा रही है।

पुलिस मां गायत्री होटल के मालिक रमेश सिंह नेगी की तलाश में जुट गई है।

 

हमसे whatsapp पर जुड़े

हमसे youtube पर जुड़ें

https://youtube.com/channel/UCq06PwZX3iPFsdjaIam7DiA

Check Also

Big news

उत्तराखंड-(बड़ी खबर): 46 महाविद्यालयों के लिए 5 करोड़ की धनराशि स्वीकृत

  देहरादून: प्रदेश के 46 राजकीय महाविद्यालयों में संचालित विभिन्न विषयों की प्रयोगशालाएं नवीन उपकरणों …