Breaking News

Uttarakhand: ‘कुदरत का इंंतकाम’, भाई के साथ मिलकर प्रेमी को मार डाला, वजह जानकर रह जाएंगे हैरान

होम स्टे में गला रेतकर बेरहमी से की गई हत्या

देहरादून: मसूरी के होम स्टे में हुई युवक की हत्या मामले का पुलिस ने खुलासा कर दिया है। इस हत्याकांड को भाई-बहन ने मिलकर अंजाम दिया था। पुलिस ने हत्यारोपियों को गिरफ्तार कर लिया है। दोनों को कोर्ट पेशी के बाद जेल भेज दिया है।

10 सितंबर को भट्टा गांव के एक होमस्टे के कमरे में युवक का शव मिला था, मृतक की पहचान कपिल निवासी रुड़की के रूप में हुई। एक दिन पहले कपिल अपनी प्रेमिका कुदरत पुत्री अबुल बशर (20) और उसके भाई अब्दुल्ला पुत्र अबुल बशर(18) निवासी-अबुल फजल एन्क्लेव नगर सनम विहार शाहीन बाग दिल्ली के साथ आकर ठहरा था।

कुदरत और कपिल काफी समय से एक दूसरे से प्यार करते थे। कुदरत का कहना है कि कपिल ने उससे शादी का वादा किया था, लेकिन कुछ समय पहले ही उसने कुदरत को मना कर दिया। कहने लगा कि शादी गह घरवालों की मर्जी से करेगा।

गहरी नींद में सोया तो रेत दिया गला

इस पर कुदरत गुस्सा हो गई और उसने अपने भाई को यह बात बताई। दोनों ने कपिल को मारने की योजना बना ली। 9 सितंबर को दोनों भाई बहन कपिल को हरिद्वार से उसकी गाड़ी में लेकर आए। तीनों एक कमरे में सो गए। सुबह करीब 4 बजे जब कपिल गहरी नींद में सो गया तो अब्दुल्ला ने चाकू से उसकी गर्दन काट दी। इसके बाद दोनों कपिल की कार लेकर हरिद्वार आ गए। यहां कार खड़ी करने के बाद वे दिल्ली चले गए।

कलाई में गुदवाया है प्रेमी का नाम

पुलिस की पूछताछ में आरोपी कुदरत ने बताया गया कि अब्दुल्ला मेरा सगा भाई है। कपिल चौधरी निवासी न्यू आदर्श नगर रूड़की मुझे दिल्ली में करोलबाग मार्केट में पहली बार करीब 2 साल पहले मोबाईल की दुकान में मिला था। जहां से हमारी बातचीत शुरू हुई । हमारी फोन पर काफी बातें होने लगी व हम एक दूसरे को चाहने लगे। कपिल अक्सर दिल्ली आकर मुझ से मिलता रहता था। कपिल ने मुझसे शादी करने का वादा किया था लेकिन अब वह अपने घरवालों के कहने पर कहीं और शादी करने जा रहा था और कह रहा था कि जहां मेरे घरवाले मेरी शादी करेंगे मैं वही शादी करेगा।

मैं कपिल से बहुत प्यार करती थी तथा उसके द्वारा कही और शादी किये जाने की बात मैंने अपने छोटे भाई अब्दुल्ला को बताया तो वह बहुत गुस्सा हुआ। इस पर हम दोनो भाई बहन ने कपिल चौधरी को जान से मारने की योजना बनाई योजना के तहत मैने कपिल को फोन कर मिलने को कहा तो वह तैयार हो गया था हमे हरिद्वार आने को कहा हम दोनों भाई बहन 6 सितंबर की शाम को बस से हरिद्वार आ गये थे, जहां पर हमने ऋषिकुल में एक फेरी वाले से घटना को अंजाम देने के लिए एक चाकू खरीदा व अपने पास छुपाकर रख लिया। कुछ देर बाद कपिल अपनी कार लेकर आया तो मैंने कपिल से मसूरी घूमने के लिए बोला। फिर हम लोग कपिल की कार से उसके साथ हरिद्वार से मसूरी आ गये।

हम लोग 9 सितंबर को सुबह के समय मसूरी से कुछ पहले भट्टा फॉल के पास होटल रोटी चाय सेवन नाईट होटल में रूम न0-106 में रूके। योजना के तहत मेरे भाई अब्दुल्ला ने रात को समय करीब 4 बजे के आस पास गहरी नींद में सोते समय कपिल का चाकू से गला काट दिया। कपिल के मरने के बाद हम दोनो ने उसके शव को बैड के नीचे छुपा दिया तथा खून से सनी चादर, तकिये के कवर व चाकू को हमने होटल के पीछे झाडियों में फेक दिया। इसके बाद हम लोग कपिल की कार लेकर बिना होटल वालों को बताये वहां से भाग गये। उसके बाद हमने कपिल की कार हरिद्वार मे खड़ी कर दी थी व हम लोग अपने घर दिल्ली चले गये थे।

मैं कपिल से बहुत प्यार करती थी, मैंने अपने हाथ की कलाई पर उसका नाम भी लिखा रखा है पर वह मुझे धोखा दे रहा था। जिस कारण गुस्से में आकर मैने अपने भाई के साथ मिलकर कपिल का चाकू से गला काटकर उसकी हत्या कर दी।

 

हमसे whatsapp पर जुड़े

हमसे youtube पर जुड़ें

https://youtube.com/channel/UCq06PwZX3iPFsdjaIam7DiA

Check Also

School Admission News: विवेकानंद इंटर कॉलेज में नए सत्र में प्रवेश प्रक्रिया शुरू, जल्द कराए पंजीकरण

  अल्मोड़ा: अगर आप भी नये सत्र में अपने बच्चों का एक अच्छे स्कूल में …