Breaking News

Almora: किसान नेता जगतार सिंह बाजवा बोले- तानाशाही की पराकाष्ठा पार कर चुकी केंद्र सरकार

 

-16 फरवरी के बाद उत्तराखंड तराई के किसान दिल्ली के लिए होंगे रवाना

अल्मोड़ाः किसान नेता जगतार सिंह बाजवा ने अपनी विभिन्न मांगों को पूरा करने की मांग को लेकर दिल्ली जा रहे किसानों को तानाशाही तरीके से रोकने का कड़ा विरोध किया है। उन्होंने कहा कि किसान अपनी वाजिव मांगो के लिए संघर्ष कर रहे हैं। लेकिन सरकार अपने वायदों को भूल उनके संघर्ष को कुचलने की साजिश रच रही है।

मंगलवार को अल्मोड़ा पहुंचे संयुक्त किसान मोर्चा, उत्तराखंड के जगतार सिंह बाजवा ने केंद्र सरकार पर वादाखिलाफी का आरोप लगाते हुए कहा कि दिल्ली कूच कर रहे किसानों को रोकने लिए केंद्र सरकार व पुलिस द्वारा जो हथकंडे अपनाये जा रहे है उससे देखकर लगता है कि सरकार पूरी तरह तानाशाही में उतर आई है।

बाजवा ने कहा कि शंभू बाॅर्डर पर किसानों पर आंसू गैस के गोले दागे जा रहे है। सरकार सीमाओं पर सड़कों में लोहे की कीले, बैरिकेड्स लगाकर किसानों के लोकतांत्रिक तरीके से विरोध-प्रदर्शन को रोक रही है। उन्होंने कहा कि यह देखकर ऐसा लग रहा है जैसे सरकार अन्नदाताओं से युद्ध लड़ रही हो।

बाजवा ने कहा कि किसान पूर्व में हुए आंदोलन के बाद सरकार द्वारा किए गए वायदों को पूरा करने की मांग कर रहे है। लेकिन जिस तरह का दमन किसानों पर सरकार द्वारा किया जा रहा है वह जनता को अंग्रेजों का शासन याद दिला रहा है।

बाजवा ने कहा कि उत्तराखंड के किसान निरंतर इस आंदोलन से जुड़े है। पंजाब के किसानों ने यह काॅल दी है। लेकिन पूरी किसान बिरादरी इन मांगों के साथ है और सरकार को किसानों की मांगें माननी चाहिए। उन्होंने कहा कि आगामी 16 फरवरी के बाद उत्तराखंड तराई के किसान दिल्ली के लिए रवाना होंगे।

 

सरकार ने किसानों से किए वायदे पूरे नहीं किएः तिवारी

उत्तराखंड परिवर्तन पार्टी के अध्यक्ष पीसी तिवारी ने कहा कि सरकार ने किसानों से एमएसपी लागू करने, दर्ज मुकदमे वापस लेने समेत अनेक वायदे किए गए थे, लेकिन कोई भी पूरा नहीं किया गया। ऐसे में जब किसान न्याय मांगने दिल्ली कूच कर रहे हैं तो उनकी मांग को सुनने के बजाय उनके दमन की साजिश की जा रही है। जो देश के भविष्य के लिए अच्छे संकेत नहीं हैं। उन्होेंने कहा कि सरकार अलोकतांत्रित बातें न करे और किसानों की मांगों को स्वीकार करें।

इस दौरान पूर्व छात्र संघ अध्यक्ष बाजपुर कौशलेंद्र प्रताप सिंह, प्रगतिशील किसान समिति के उमेश चंद्र भट्ट, सूरज आदि मौजूद रहे।

 

हमसे whatsapp पर जुड़े

हमसे youtube पर जुड़ें

https://youtube.com/channel/UCq06PwZX3iPFsdjaIam7Di

 

Check Also

binsar accident

बिनसर हादसा:: मृतकों व घायलों के परिजनों से मिली कैबिनेट मंत्री रेखा आर्य, जानिए मंत्री ने क्या कहा

अल्मोड़ा: बिनसर में बीते दिनों हुए दर्दनाक हादसे के बाद मृतकों के गांव में मातम …