Breaking News
Govind singh kunjwal
Govind singh kunjwal, file photo

पूर्व स्पीकर कुंजवाल का ऐलान, 2022 में कांग्रेस सरकार बनी तो बहाल होगी पुरानी पेंशन योजना

अल्मोड़ा। चुनाव मैदान में उम्मीदवार उतारने के बाद अब सियासी दलों की ओर से चुनावी वायदों की बयार बहने लगी है। सत्ता हासिल करने को लेकर राजनीतिक दलों द्वारा कई लोक लुभावने वायदे किये जा रहे है। पूर्व स्पीकर व कांग्रेस के वरिष्ठ नेता गोविंद सिंह कुंजवाल ने पुरानी पेंशन की बहाली का ऐलान कर एक बड़ा राजनीतिक दांव चल दिया है। ऐसा करके उन्होंने कर्मचारियों और शिक्षकों का दिल जीतने का प्रयास किया है।

कांग्रेस नेता गोविंद सिंह कुंजवाल ने अपने फेसबुक वॉल पर एक वीडियो पोस्ट किया है। जिसमें उन्होंने कहा कि 2022 में उत्तराखंड में अगर कांग्रेस की सरकार आती है तो कर्मचारियों की पुरानी पेंशन को दोबारा बहाल करने का पूरा प्रयास करेंगे। साथ ही कुंजवाल ने कहा कि पूर्व में अटल बिहारी वाजपेयी की सरकार में पुरानी पेंशन योजना को बंद कर दिया गया था। इसी को उत्तराखंड में भी लागू कर दिया गया। लेकिन अब कई राज्यों ने इस पर छूट दी है। उन्होंने कहा कि अगर 2022 में कांग्रेस की सरकार बनेगी तो पुरानी पेंशन व्यवस्था को बहाल किया जाएगा।

 

Video Post

बताते चले कि पुरानी पेंशन योजना को लेकर अधिकारी कर्मचारी लंबे समय से संघर्षरत है। यही नहीं, कर्मचारियों का कहना है कि इस बार वह उन्हीं को वोट देंगे, जो पुरानी पेंशन को बहाल करेगा। जिसको लेकर इन दिनों सोशल मीडिया में भी कर्मचारियों का कैम्पैन जोर शोर से चल रहा है।

 

क्या है पुरानी पेंशन योजना

केंद्र सरकार ने अप्रैल 2005 के बाद के नियुक्तियों के लिए पुरानी पेंशन को बंद कर दिया था और नई पेंशन योजना लागू की गई है। तत्कालीन प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेयी की सरकार में यह फैसला लिया गया था। तब उत्तराखंड में एन डी तिवारी की नेतृत्व वाली कांग्रेस सरकार थी। पिछले कुछ सालों से कर्मचारियों ने नई पेंशन योजना का विरोध करना शुरू कर दिया।

 

Check Also

Badrinath-Mangalore by-election:: विधानसभा उपचुनाव को लेकर BJP प्रवक्ता सुरेश जोशी ने किया यह बड़ा दावा, पढ़ें पूरी खबर

अल्मोड़ा: उत्तराखंड की बद्रीनाथ व मंगलौर सीट पर उपचुनाव की तारीख नजदीक आते ही सियासी …