Breaking News

उछास ने कुलपति को सौंपा ज्ञापन.. मांग पूरी नहीं होने पर आंदोलन की चेतावनी

अल्मोड़ा। सोबन सिंह जीना विश्वविद्यालय परिसर में पठन-पाठन सुचारू रूप से संचालित करने, परिसर में अन्य अव्यवस्थाओं को दूर करने समेत विभिन्न मांगों को लेकर शुक्रवार को उत्तराखंड छात्र संगठन ने कुलपति को ज्ञापन सौंपा। इस दौरान छात्र नेताओं ने मांगों पर शीघ्र कार्यवाही की मांग की। ऐसा न होने पर छात्र हितों के लिए आंदोलन करने की चेतावनी दी है।

ज्ञापन में उत्तराखंड छात्र संगठन (उछास) ने कहा कि जिस उद्देश्य के साथ एसएसजे विवि की स्थापना की गई थी, वह वर्तमान में साकार होते नहीं दिखाई दे रहा है। कहा कि विवि का मुख्य परिसर एसएसजे परिसर न तो अब तक व्यवस्थित हो पाया है और न ही यहां पर पठन पाठन के लिए उचित वातावरण तैयार हो पाया है।

छात्र नेताओं ने कहा एसएसजे विवि परिसर में अल्मोड़ा समेत अन्य पर्वतीय जिलों के छात्र-छात्राएं भी यहां अध्ययन के लिए आते है। जिसमें अधिकतर निम्न व मध्यम वर्ग के परिवारों के बच्चे यहां पर पढ़ाई करते है। लेकिन वर्तमान में एसएसजे विवि परिसर में पुस्तकों की भारी कमी है। आर्थिक रूप से सक्षम नहीं होने के कारण छात्र-छात्राओं को पुस्तकों के अभाव में विषयों की परीक्षा के अलावा प्रतियोगी परीक्षाओं में भी दिक्कतों का सामना करना पड़ता है। उछास ने पुस्तकों की समस्याओं का शीघ्र निदान करने की मांग की है।

इसके अलावा विवि परिसर में विद्यार्थियों के सर्वांगीण विकास के लिए समय-समय पर अन्य शैक्षणिक गतिविधियां आयोजित करने, सेमिनार एवं समाज की ज्वलंत समस्याओं पर गोष्ठी व कार्यक्रम आयोजित करने की मांग की है ताकि छात्र-छात्राएं ऐसे कार्यक्रमों में प्रतिभाग कर समस्याओं को उठा सके और सामूहिक रूप से उन समस्याओं का निदान निकाला जा सके।

ज्ञापन में छात्र नेताओं ने कुलपति से छात्र हितों को देखते हुए उक्त समस्याओं पर शीघ्र कार्यवाही करने की मांग की है। मांगें पूरी नहीं होने पर उछास ने आंदोलन करने की चेतावनी दी है। ज्ञापन सौंपने वालों में उत्तराखंड छात्र संगठन की नेता दीक्षा सुयाल, भारती पांडेय, दीपांशु पांडेय, आरती रावत, बलवंत नगरकोटी आदि मौजूद थे।

Check Also

बेरोजगार संघ का CM आवास कूच, पुलिस व प्रदर्शनकारियों के बीच धक्का-मुक्की

  देहरादूनः उत्तराखंड बेरोजगार संघ के बैनर तले बेरोजगारों ने शनिवार केा सीएम आवास कूच …