Breaking News
suicide

Uttarakhand: एम्बुलेंस चालक ने की आत्महत्या, सुसाइड नोट में सीनियर डॉक्टर पर लगाया यह आरोप

डेस्क। सरकारी अस्पताल में तैनात एक एम्बुलेंस चालक ने आत्महत्या कर ली। मृतक के पास से पुलिस को एक सुसाइड नोट मिला है। जिसमे उसने कई माह से वेतन नहीं मिलने व एक वरिष्ठ चिकित्सक पर उत्पीड़न का आरोप लगाया है। पुलिस मामले की जांच कर रही है।

मृतक यशवंत सिंह गुसाई, फ़ाइल फ़ोटो

ग्राम रखूण, महेशगाव, पौड़ी गढ़वाल निवासी यशवंत सिंह गुसाई सरकारी अस्पताल, प्रेमनगर देहरादून में एम्बुलेंस चालक के पद पर तैनात थे। बीते मंगलवार देर शाम उन्होंने
आवासीय बिल्डिंग में अपने कमरे में फांसी लगा ली। सूचना पर थाना प्रेमनगर पुलिस घटनास्थल पहुंची। पुलिस ने व्यक्ति को नीचे उतारकर अस्पताल पहुंचाया, जहां चिकित्सकों ने उसे मृत घोषित कर दिया।

पुलिस ने बताया कि मृतक की जेब से एक सुसाइड नोट बरामद हुआ, जिसमें प्रेमनगर सरकारी अस्पताल के एक वरिष्ठ चिकित्सक पर उत्पीड़न का आरोप लगाया गया है। सुसाइड नोट में कई माह से वेतन न मिलने और आवास के किराया भुगतान का दबाव बनाने से परेशान होने की बात लिखी है।

मुख्य चिकित्सा अधिकारी मनोज उप्रेती ने आरोपों को नकारते हुए कहा कि एंबुलेंस चालक यशवंत को वेतन न मिलने की बात उनके संज्ञान में है, लेकिन उत्पीड़न जैसी कोई बात नहीं है। मकान का किराया जमा करने के लिए उन्हें कहा गया था। वहीं, आडिट में उन्हें लाग बुक के साथ उपस्थित होना था, लेकिन वह नहीं हुए

 

Check Also

Good news:: अल्मोड़ा मेडिकल कॉलेज में जल्द शुरू होगा ब्लड बैंक… ब्लड के साथ प्लाज्मा, प्लेटलेट्स की भी मिलेगी सुविधा

अल्मोड़ा: अल्मोड़ा मेडिकल कालेज के अधीन बेस अस्पताल में जल्द ब्लड बैंक शुरू होने की …