Breaking News
News logo
News logo

26 मई को अल्मोड़ा पहुंचेगी सद्भावना यात्रा, उपपा ने लोगों से की यह अपील

अल्मोड़ा। उत्तराखंड परिवर्तन पार्टी ने 26 मई को अल्मोड़ा पहुंच रही सद्भावना यात्रा (sadbhavana yatra) का जनता से स्वागत करने की अपील की है। उपपा के केंद्रीय कार्यालय में आज हुई बैठक में पार्टी के केंद्रीय अध्यक्ष पी.सी. तिवारी ने कहा कि उत्तराखंड व देश में सामाजिक सौहार्द एवं सद्भावना के लिए विभिन्न संगठनों द्वारा आयोजित इस यात्रा का 26 मई की शाम साढ़े 4 बजे गांधी पार्क में स्वागत होगा। उन्होंने तमाम छात्र, युवा, महिला, श्रमिक संगठनों से कार्यक्रम में शामिल होने की अपील की।

8 मई को हल्द्वानी से प्रारंभ हुई 40 दिवसीय सद्भावना यात्रा उधमसिंह नगर, रामनगर, नैनीताल, जैंती, दन्या, पिथौरागढ़, मुनस्यारी, कपकोट से होते हुए 26 मई को अल्मोड़ा पहुंच रही है।

उपपा के केंद्रीय कार्यालय में पार्टी की केंद्रीय सचिव आनंदी वर्मा की अध्यक्षता में हुई बैठक में उपपा ने कहा कि देश में महंगाई, बेरोजगारी, अशिक्षा, प्राकृतिक संसाधनों की पूंजीपतियों के पक्ष में हो रही लूट एवं धार्मिक व जातीय उन्माद फैलाने की सुनियोजित साजिशों के खिलाफ़ एकजुट होने की ज़रूरत है।

बैठक में वक्ताओं ने कहा कि भारत विविधताओं, बहु संस्कृतियों, भाषाओं का देश है, यहां यदि नफ़रत फैलाकर राजनीतिक हित साधने की कोशिशें हुई तो उससे देश की एकता, अखंडता प्रभावित होगी।

बैठक में पार्टी ने सल्ट में दलित दूल्हे को घोड़े से उतारने, सूखीढांग (चंपावत) के एक विद्यालय में दलित भोजनमता के हाथों मध्याह्न भोजन न करने की दुबारा हुई घटनाओं को शर्मनाक बताते हुए इनकी निंदा करते हुए सरकार को ऐसे मामलों को गंभीरता से लेकर कार्यवाही करने की मांग की।

बैठक का संचालन एडवोकेट नारायण राम ने किया। बैठक में धीरेंद्र मोहन पंत, सरिता मेहरा, चंपा सुयाल, वसीम अहमद, प्रकाश चंद्र, राजू गिरी, एडवोकेट वंदना कोहली, भावना मनकोटी, हरीश लाल, भारती पांडे, दीक्षा सुयाल आदि लोग उपस्थित रहे।

Check Also

कुमाउं में बड़ा सड़क हादसा, पर्यटकों की कार गहरी खाई में गिरी, मची चीख-पुकार

-हादसे की जांच में जुटी पुलिस, घायलों की स्थिति गंभीर   नैनीताल: उत्तराखंड के नैनीताल …