Breaking News

डांडाकांडा में प्लीजेंट वैली स्कूल के बाहर ग्रामीणों का हल्लाबोल, प्रेमनाथ की अवैध संपत्ति पर बुलडोजर चलाने की मांग

अल्मोड़ाः दिल्ली में तैनात संयुक्त सचिव व प्लीजेंट वैली फाउंडेशन के फाउंडर मेंबर ए.वी प्रेमनाथ द्वारा नाबालिग से छेड़छाड़ व दुराचार के प्रयास का मामला अब लगातार तूल पकड़ते जा रहा है। गुरुवार को आस पास के ग्रामीण एक बार फिर प्लीजेंट वैली स्कूल में जा धमके। इस दौरान स्कूल गेट के बाहर ग्रामीणों ने प्रदर्शन किया।

इस दौरान आक्रोशित ग्रामीणों ने आरोपित तथा स्थानीय विधायक, उत्तराखंड सरकार में महिला एवं बाल विकास मंत्री रेखा आर्या के खिलाफ जमकर नारेबाजी की और रेखा आर्य मुर्दाबाद के नारे लगाए। ग्रामीणों ने आरोपित द्वारा कब्जाई गई अवैध संपत्ति पर बुलडोजर चलाकर उसे ध्वस्त करने की मांग की।

इस दौरान प्रदर्शनकारियों ने कहा कि बाहर के रसूखदार देवभूमि आकर यहां पर अवैध निर्माण कर रहे है। सरकार व प्रशासनिक अधिकारियों से मिलीभगत के चलते रसूखदारों द्वारा शिक्षण संस्थानों, एनजीओ व अन्य संस्थाओं की आड़ में पहाड़ की शांत वादियों में काला कारोबार व अवैध कार्यों को अंजाम दिया जा रहा है। लेकिन उत्तराखंड की सरकार व यहां के जिम्मेदार अधिकारी सोये हुए है।

प्रदर्शनकारियों ने आरोपित प्रेमनाथ द्वारा कब्जाई गई सरकारी जमीन व उस पर हुए अवैध निर्माण पर तत्काल कार्यवाही करने की मांग की। साथ ही अवैध निर्माण पर बुलडोजर चलाकर उसे ध्वस्त करने की मांग की।

तनाव की स्थिति को देखते हुए इस दौरान प्रशासन से कई आला अधिकारी भी मौके पर वहां पहुंचे और उनके द्वारा प्रदर्शनकारियों को समझाने का प्रयास किया गया। लेकिन प्रदर्शनकारी अपनी मांग को लेकर अड़े रहे। इस दौरान प्रदर्शनकारियों व अधिकारियों के बीच तीखी बहस हुई।

बता दें कि दिल्ली सचिवालय में तैनात संयुक्त सचिव ए.वी प्रेमनाथ पर दिल्ली निवासी एक नाबालिग छात्रा ने डांडाकांडा स्थित प्लीजेंट वैली फाउंडेशन में छेड़खानी करने और दुष्कर्म का प्रयास करने के आरोप लगाए थे। जिसके बाद राजस्व पुलिस ने मामले में मुकदमा दर्ज कर लिया था। जिसके बाद यह मामला रेगुलर पुलिस को स्थानांतरित कर दिया गया। ऐसे में पुलिस ने आरोपित ए.वी प्रेमनाथ को हल्द्वानी से गिरफ्तार कर न्यायालय में पेशकर जेल भेज दिया है। वही, गुरुवार को प्रभारी डीएम सी.एस मर्तोलिया ने मामले में राजस्व उपनिरीक्षक क्षेत्र गोविंदपुर के पटवारी पर लग रहे आरोपों को लेकर जांच के आदेश कर दिए है और पटवारी को तत्काल प्रभाव से तहसील कार्यालय सोमेश्वर में अटैच कर दिया है।

 

हमसे व्हाट्सएप पर जुड़ें

https://chat.whatsapp.com/IZeqFp57B2o0g92YKGVoVz

हमसे यूट्यूब पर जुड़ें

https://youtube.com/channel/UCq06PwZX3iPFsdjaIam7DiA

 

Check Also

जीआईसी लोधिया में PTA-SMC का हुआ गठन, राजेंद्र व हरीश अध्यक्ष पद पर हुए मनोनीत

अल्मोड़ा: नगर से लगे राजकीय इंटर कालेज लोधिया में विद्यालय प्रबंधन समिति (SMC) तथा शिक्षक-अभिभावक …