Breaking News

Webinar: छात्र-छात्राओं को बताए जैव विविधता को संरक्षित करने उपाय

इंडिया भारत न्यूज डेस्क: गोविंद बल्लभ पंत राष्ट्रीय हिमालयी पर्यावरण संस्थान कोसी कटारमल, अल्मोड़ा के जैव विविधता संरक्षण एवं प्रबंधन केन्द्र द्वारा एक दिवसीय वेबीनार का आयोजन किया गया। जिसका मुख्य उद्देश्य बच्चों में पर्यावरण एवं उसके संरक्षण के प्रति जागरूकता फैलाना हैं।

इसी कार्यक्रम के तहत मंगलवार को चम्पावत जनपद के पाटी विकासखण्ड के विद्यालयों में जैव विविधता प्रबंधन एवं संरक्षण विषय पर एक दिवसीय वेबिनार का आयोजन किया गया। इस कार्यक्रम में में करीब 120 विद्यार्थियों एवं अध्यापकों ने प्रतिभाग किया। कार्यक्रम की शुरूआत संस्थान की शोधार्थी हिमानी तिवारी द्वारा की गई जिन्होने वेबीनार के विषय एवं उद्देश्यों पर संक्षिप्त में प्रकाश डाला।

कार्यक्रम में वरिष्ठ अतिथि खण्ड शिक्षा अधिकारी, पाटी भारत जोशी ने बच्चों से आग्रह किया कि वे इस तरह के कार्यक्रम में बढ़-चढ़कर प्रतिभाग करें तथा अपने ज्ञान के भण्डार में विभिन्न उपलब्धियों को जोड़ते चले जाए।

कार्यक्रम को आगे बढ़ाते हुए, संस्थान के वैज्ञानिक डा. आशीष पाण्डे द्वारा आज के विषय ‘जैव विविधता संरक्षण: आवश्यकता तथा उपाय’ पर विस्तृत प्रकाश डाला गया। उन्होंने बताया कि कैसे हम विभिन्न प्रक्रिया द्वारा हम अपनी जैव विविधता को संरक्षित कर सकते है। जिसमें मुख्यतः यथा स्थान तथा गैर स्थानिक सरंक्षण विधि है। उन्होनें यह भी बताया कि कैसे हम पारम्परिक बीजों को भविष्य हेतु संरक्षित कर सकते है तथा इसका हमारी दैनिक जीवन में क्या महत्व है। उन्होंने सरल उदाहरण देते हुए आज के विषय को रोचक एवं तथ्यमय बनाया।

संस्थान के वरिष्ठ वैज्ञानिक डा. के.सी. सेकर ने अपने संबोधन में कहा कि इस व्याख्यान से हमें सीख लेनी चाहिए और अपने निजी जीवन में इसके लाभों से प्रेरित होकर इसके संरक्षण में जोर देना चाहिए। अन्त में संस्थान के शोधार्थी डा. अमित बहुखण्डी द्वारा सभी प्रतिभागियों का वेबिनार में प्रतिभाग करने हेतु धन्यवाद ज्ञापित किया गया।

कार्यक्रम में संस्थान के शोधार्थी दीप चन्द्र तिवारी, बसन्त सिंह, हिमानी तिवारी एवं अन्य शोधार्थी मौजूद रहे।

 

हमसे व्हाट्सएप पर जुड़ें

https://chat.whatsapp.com/IZeqFp57B2o0g92YKGVoVz

हमसे यूट्यूब पर जुड़ें

https://youtube.com/channel/UCq06PwZX3iPFsdjaIam7DiA

Check Also

कुमाउं में बड़ा सड़क हादसा, पर्यटकों की कार गहरी खाई में गिरी, मची चीख-पुकार

-हादसे की जांच में जुटी पुलिस, घायलों की स्थिति गंभीर   नैनीताल: उत्तराखंड के नैनीताल …