Breaking News

अल्मोड़ा में ‘पुस्तक प्रदर्शनी’ को लोगों ने सराहा, विद्यार्थियों व पुस्तक प्रेमियों ने खरीदी मनपसंद किताबें

अल्मोड़ा: उत्तराखंड छात्र संगठन व नेशनल हॉकर्स फेडरेशन द्वारा संयुक्त रूप से आयोजित दो दिवसीय पुस्तक प्रदर्शनी का मंगलवार को समापन हो गया है। चौघानपाटा गांधी पार्क में आयोजित इस पुस्तक प्रदर्शनी में गार्गी, संभव व अंतरराष्ट्रीय प्रकाशन से आए देश विदेश के साहित्य में लोगों के काफी रुचि दिखाई। वही, लोगों ने उत्तराखंड छात्र संगठन की इस पहल को सरहाते हुए प्रदर्शनी में रखी पुस्तकों का अवलोकन किया तथा मनपसंद विषयों पर आधारित पुस्तकों की खरीद भी की।

प्रदर्शनी में उत्तराखंड छात्र संगठन द्वारा ‘किताबों से मुलाक़ात’ विषय पर एक गोष्ठी का आयोजन किया गया। जिसमें एसएसजे विश्वविद्यालय परिसर के छात्रों समेत अन्य लोगों ने भागीदारी की।

इस दौरान नगरपालिका अध्यक्ष प्रकाश चंद्र जोशी ने अपने संबोधन में कहा कि पुस्तकें इंसान की सच्ची मित्र होती है और ज्ञान की खिड़की खोलती है। उन्होंने कहा कि किताब पढ़ने से इंसान के विचार बदलते है। वर्तमान इंटरनेट के दौर में जहां लोग किताबो से दूर भाग रहे है ऐसे समय मे उत्तराखंड छात्र संगठन व नेशनल हॉकर्स फेडरेशन द्वारा लोगों का किताबों से मुलाकात कराने का यह प्रयास सराहनीय है। उन्होंने इस प्रयास के लिए आयोजकों का आभार जताया।

इस दौरान उपपा के केंद्रीय महामंत्री नरेश चन्द्र नौड़ियाल, किरन आर्या, गार्गी प्रकाशन के अमित, पान सिंह बोरा, महेश आर्या, कुमाऊनी भाषा के युवा साहित्यकार ललित तुलेरा, उछास के राहुल ने गोष्ठी में अपने विचार रखे। संचालन उछास की भारती पांडे ने किया।

इस अवसर पर गार्गी प्रकाशन व उछास से सदस्यों ने नगरपालिका अध्यक्ष प्रकाश चंद्र जोशी को पुस्तकें भेंट की।

प्रदर्शनी व गोष्ठी को सफल बनाने में उपपा के केंद्रीय अध्यक्ष पी. सी. तिवारी, आनंदी वर्मा, गोपाल राम, रश्मि, नाजिम, भास्कर तिवारी समेत अन्य लोगों ने अपना योगदान दिया।

 

 

हमसे व्हाट्सएप पर जुड़ें

https://chat.whatsapp.com/IZeqFp57B2o0g92YKGVoVz

हमसे यूट्यूब पर जुड़ें

https://youtube.com/channel/UCq06PwZX3iPFsdjaIam7DiA

Check Also

अल्मोड़ा में कांग्रेस कार्यकर्ताओं ने प्रचार में झोकी ताकत, घर-घर पहुंचे कार्यकर्ता, भाजपा राज से मुक्ति के लिए मांगा वोट

अल्मोड़ा: लोकसभा चुनाव में पहले चरण की वोटिंग का वक्त नजदीक आ गया है। सबसे …