Breaking News
Big news
Big news logo

अल्मोड़ा-(बड़ी खबर):: बारातियों पर हमला, मुकदमा दर्ज, सीओ ने किया घटनास्थल का निरीक्षण… जानिए पूरा मामला

अल्मोड़ा: जिले के लमगड़ा थाना क्षेत्र में कुछ असामाजिक तत्वों ने बारातियों पर हमला कर दिया। आरोप है कि बारातियों पर लाठी-डंडों से वार कर कर उन्हें जख्मी कर दिया और जातिसूचक शब्दों का प्रयोग किया गया। हमले में कई बारातियों को चोटें आई हैं। शिकायत के बाद पुलिस ने मामले में एससी-एसटी एक्ट समेत अन्य धाराओं में मुकदमा दर्ज किया है। पुलिस मामले की तफ्तीश में जुट गई है। इस घटना के बाद इलाके में हड़कंप मचा हुआ है।

मामला बीते 7 मई की देर शाम का है। जानकारी के मुताबिक, ग्राम सल्ला, कपड़खान निवासी कमलेश पुत्र सुंदर लाल की बारात लमगड़ा थाने से करीब 13 किमी की दूरी पर स्थित बघाड़ गांव गई थी। बारात के वापस लौटते समय शाम करीब 7 बजे गांव की सड़क में कुछ असामाजिक तत्वों ने बारातियों का रास्ता रोक कर उन्हें घेर लिया और लाठी-डंडों से उनके साथ मारपीट की। किसी तरह बाराती अपनी जान बचाकर वहां से भागे। इस मामले में घटना की देर शाम को ही दूल्हे के चाचा ललित कुमार ने लमगड़ा थाने में तहरीर सौंपी। शिकायत के छह दिन बाद पुलिस ने अज्ञात के खिलाफ एससी-एसटी एक्ट व अन्य धाराओं में मुकदमा दर्ज किया है।

सूचना के बाद भी नहीं पहुंची पुलिस

दूल्हे के चाचा ललित कुमार का आरोप है कि घटना के दिन डायल 112 में फोन कर पुलिस को घटना की सूचना दी गई। करीब दो घंटे तक विवाद हुआ था। लेकिन पुलिस मौके पर नहीं पहुंची। किसी तरह वह लोग अपनी जान बचाकर वहां से भागे। जिसके बाद उन्होंने लमगड़ा थाने में जाकर शिकायत दर्ज कराई। उनका यह भी आरोप है कि पुलिस ने शिकायत के बाद मुकदमा काफी देर में दर्ज किया और इस बीच पीड़ित परिवार से संपर्क भी नहीं किया। हमलावरों पर अब तक कोई कार्रवाई भी नहीं की है। हालांकि, सीओ विमल प्रसाद ने इन सभी आरोपों को सिरे से खारिज करते हुए बताया कि पुलिस घटनास्थल के दिन मौके पर पहुंची थी और पीड़ित परिवार से संपर्क भी किया गया है।

 

ये भी पढ़ें

लमगड़ा मारपीट मामला: कफल्टा कांड दोहराने की धमकी देने समेत लगाए कई गंभीर आरोप, भीम आर्मी ने दिया 10 दिन का अल्टीमेटम

 

दूल्हे के चाचा व अन्य के खिलाफ मुकदमा दर्ज

बारातियों से मारपीट मामले में थाना लमगड़ा में एक और मुकदमा दर्ज किया गया है। सिलखोड़ा थाना लमगड़ा निवासी अर्जुन कुमार पुत्र डुंगर राम ने घटना की शाम पुलिस को तहरीर सौंपी थी। उनका आरोप है कि दूल्हे के चाचा संतोष कुमार व अन्य बारातियों ने उनसे व जेसीबी के ड्राइवर से मारपीट की गई। प्रभारी थानाध्यक्ष थाना लमगड़ा रमेश कुमार ने बताया कि शिकायत के बाद मामले की जांच की गई। तथ्य सही पाए जाने पर 13 मई को संतोष कुमार व अन्य के खिलाफ धारा 323, 504, 506 व 427 के तहत मुकदमा दर्ज किया गया है। मामले की तफ्तीश की जा रही है।

सीओ ने किया घटनास्थल का निरीक्षण

मामले की विवेचना कर रहे सीओ विमल प्रसाद ने मंगलवार को बघाड़ गांव जाकर घटनास्थल का मौका मुआयना किया। इस दौरान कई लोगों से पूछताछ की। पुलिस के साथ शिकायतकर्ता भी मौजूद रहे। सीओ ने बताया कि वादी समेत अन्य कई लोगों के बयान दर्ज किए गए है। मामले की हर एंगल से जांच की जा रही है। जो भी तथ्य सामने आएंगे आगे उसी आधार पर कार्रवाई की जाएगी।

उपपा ने की कार्रवाई की मांग

उत्तराखंड परिवर्तन पार्टी के केंद्रीय महासचिव नारायण राम ने अनुसूचित जाति के लोगों की बारात पर हमले की कड़ी भर्त्सना की है। उन्होंने बारातियों के साथ मारपीट व गाली गलौज करने वालों के खिलाफ कड़ी कार्रवाई करने की मांग की है। उन्होंने कहा कि यह घटना केवल बारातियों के साथ दुर्व्यवहार ही नहीं बल्कि सवर्ण मानसिक विकृति का प्रतीक है और संपूर्ण शिल्पकार समाज का भी अपमान है। यह घटना आतंक तथा भय का माहौल पैदा करती है। उन्होंने जिला व पुलिस प्रशासन से ऐसे असामाजिक तत्वों के साथ सख्ती से निपटने की मांग की है।

Check Also

बिनसर हादसा अपडेट:: पल भर में खत्म हुई 4 जिंदगियां, ऐसे आग की चपेट में आए कर्मचारी.. जानिए अफसरों ने क्या कहा

अल्मोड़ा: बिनसर वन्य जीव विहार में गुरुवार शाम हुई दर्दनाक हादसे ने लोगों को झकझोर …