Breaking News
Oplus_131072

Kathua Terrorist Attack: उत्तराखंड पहुंचे पांचों बलिदानियों के पार्थिव शरीर, श्रद्धांजलि देते वक्त भावुक हुए सीएम धामी

देहरादून: जम्मू कश्मीर के कठुआ में हुए आतंकी हमले में उत्तराखंड ने अपने पांच लाल खो दिए। पांचों जवानों के सर्वोच्च बलिदान के बाद देवभूमि में गम का माहौल है। शहीदों के पार्थिव शरीर मंगलवार शाम जौलीग्रांट एयरपोर्ट पहुंचाए गए। जौलीग्रांट एयरपोर्ट पर बलिदानियों को गार्ड ऑफ ऑनर दिया गया। सीएम धामी ने नम आंखों से शहीदों को श्रद्धांजलि दी। साथ ही उनके बलिदान को याद कर भावुक हो गए।

सीएम पुष्कर सिंह धामी और सेना के अधिकारियों ने बलिदानियों के पार्थिव शरीर पर पुष्प अर्पित कर श्रद्धांजलि दी। इसके बाद जवानों के पार्थिव शरीर उनके पैतृक निवास स्थान भेजे जाएंगे। पूर्व सीएम व सांसद त्रिवेंद्र सिंह रावत, कैबिनेट मंत्री प्रेमचंद अग्रवाल, गणेश जोशी, विधायक बृज भूषण गैरोला, डीएम, एसएसपी ने भी जवानों को श्रद्धांजलि दी।

सीएम धामी ने कहा कि मां भारती की रक्षा करते हुए आतंकियों के खिलाफ वीर जवानों का यह सर्वोच्च बलिदान व्यर्थ नहीं जाएगा। इस कायरतापूर्ण हमले के दोषी और मानवता के दुश्मन आतंकियों को किसी भी कीमत पर बख्शे नहीं जाएंगे। साथ ही इनको पनाह देने वाले लोगों को भी इसका परिणाम भुगतना होगा।

गौर हो कि बीती रोज यानी 8 जुलाई को जम्मू कश्मीर के कठुआ में आतंकियों ने घात लगाकर सेना पर ताबड़तोड़ हमला कर दिया था। सेना ने भी काउंटर अटैक कर जवाबी फायरिंग की, लेकिन आतंकी जंगल की तरफ भाग गए।

 

इन जवानों ने दी शहादत

बता दें कि आतंकी हमले में कीर्तिनगर ब्लॉक के थाती डागर निवासी राइफलमैन आदर्श नेगी, रुद्रप्रयाग निवासी नायब सूबेदार आनंद सिंह, लैंसडौन निवासी हवलदार कमल सिंह, टिहरी गढ़वाल निवासी नायक विनोद सिंह, रिखणीखाल निवासी राइफलमैन अनुज नेगी बलिदान दिया।

 

Check Also

Road accident:: अल्मोड़ा-हल्द्वानी हाईवे में चौसली के पास KMOU बस दुर्घटनाग्रस्त, यात्रियों की मची चीख पुकार

अल्मोड़ा: अल्मोड़ा-हल्द्वानी हाइवे में चौसली के पास एक सड़क हादसा हो गया। बागेश्वर से हल्द्वानी …