Breaking News
Featured Video Play Icon

जगदीश हत्याकांड में सरकार की चुप्पी पर लोगों में आक्रोश, सीएम, सांसद व मंत्री का फूंका पुतला

अल्मोड़ाः उपपा के युवा दलित नेता जगदीश चंद्र की हत्या के बाद लोगों में काफी आक्रोश है। बुधवार को कैप्टन सतीश चंद्र पार्क स्थित बाबा साहेब भीमराव आम्बेडकर की प्रतिमा के पास शिल्पकार वेलफेयर सोसाइटी के बैनर तले कई संगठनों से जु़ड़े लोगों ने जोरदार प्रदर्शन किया और प्रदेश सरकार व पुलिस प्रशासन के खिलाफ जमकर नारेबाजी की।

इस दौरान सभा में वक्ताओं ने कहा कि जातिवादी मानसिकता से ग्रसित कुछ लोगों ने भिकियासैंण में दलित नेता जगदीश की निर्मम हत्या कर दी। इससे पता चलता है कि समाज में जातिवाद की जड़े कितनी गहरी और अंदर तक धंसी हुई है। देश को आजाद होने के सात दशक बाद भी दलितों को सामाजिक भेदभाव और अपने ही देश में बहिष्कृत और उपेक्षित होने का दंश महसूस करना पड़ रहा है।

इस दौरान प्रदेश सरकार पर हमला बोलते हुए वक्ताओं ने कहा कि जगदीश हत्याकांड को आज 21 दिन बीत चुके है लेकिन प्रदेश के मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी व उनके मंत्रियों ने इस मामले में चुप्पी साधी है। यही नही सांसद अजय टम्टा व मंत्री रेखा आर्य जो खुद दलित वर्ग से आते है, दोनों ने इस हत्याकांड में एक शब्द नहीं बोला, जो इनकी जातिवादी मानसिकता को दर्शाता है। कहा कि चुनाव के समय इन्हीं नेताओं को दलित, वंचित व आम आदमी की याद आती है। लेकिन संसद व विधानसभा पहुंचने के बाद यही नेता आम आदमी की समस्याओं से मुंह फेरने लगते है।

वक्ताओं ने कहा कि जगदीश हत्याकांड में प्रदेशभर में धरना-प्रदर्शन हो रहे है। राजनीतिक, सामाजिक संगठनों द्वारा जगदीश की पत्नी व उसके परिवार के किसी सदस्य को सरकारी नौकरी दिए जाने व मुआवजे की मांग सरकार से लगातार की जा रही है। लेकिन घटना के इतने दिन बाद जाने के बाद भी सरकार ने नौकरी व मुआवजे के लिए कोई घोषणा नहीं की है। जो कि सरकार की मंशा पर भी सवाल खड़े करता है।

प्रदर्शन में शिल्पकार वेलफेयर सोसायटी के अलावा मूलनिवासी संघ, छात्र संगठन ब्लू आर्मी व अखिल भारतीय जनवादी महिला समिति के सदस्य मौजूद रहे।

पुलिस व जिला प्रशासन की कार्यप्रणाली पर उठाए सवाल

इस दौरान प्रदर्शनकारियों ने पुलिस व जिला प्रशासन को कठघरे में खड़े करते हुए कहा कि जगदीश हत्याकांड में पुलिस व जिला प्रशासन की लापरवाही साफ तौर पर सामने आई है। लेकिन अभी तक जिम्मेदार अधिकारियों पर कोई कार्रवाई नहीं की गई। उन्होंने प्रदेश सरकार से सवाल पूछते हुए कहा कि आखिर किसके संरक्षण में जिम्मेदार अधिकारियों को बचाया जा रहा है?

सीएम, सांसद व कैबिनेट मंत्री का फूंका पुतला

आक्रोशित प्रदर्शनकारियों ने सभा के बाद गांधी पार्क के सामने चौघानपाटा में सीएम पुष्कर सिंह धामी, अल्मोड़ा-पिथौरागढ़ संसदीय सीट से सांसद अजय टम्टा व कैबिनेट मंत्री व सोमेश्वर सीट से विधायक रेखा आर्य का पुतला दहन कर जबर्दस्त नारेबाजी की। कहा कि जगदीश हत्याकांड मामले में सीएम धामी व मंत्रियों की चुप्पी कई सवाल खड़े कर रही है। अगर सरकार समय रहते नहीं चेती तो आंदोलन को और उग्र किया जाएगा।

ये रहे मौजूद

इस दौरान अखिल भारतीय जनवादी महिला समिति की केन्द्रीय सदस्य सुनीता पाण्डे, एडवोकेट नारायण राम, पी.के टम्टा, गौरव जसवाल बजेला, प्रकाश चंद्र आर्या, सौरभ कुमार, अशोक सिंह, पवन कुमार, भगवत आर्या, पवन आर्या, करन आगरी, मंदीप कुमार, मनीष कुमार, अंकित आर्या, विजय आर्या, भरत कुमार, गोकुल कुमार, अभिषेक, राहुल राज, नीलिमा कोहली, प्रियंका, खुशी, निकिता, हंसी, नीलम, पूनम त्रिपाठी समेत कई लोग मौजूद रहे।

 

हमसे व्हाट्सएप पर जुड़ें

https://chat.whatsapp.com/IZeqFp57B2o0g92YKGVoVz

हमसे यूट्यूब पर जुड़ें

https://youtube.com/channel/UCq06PwZX3iPFsdjaIam7DiA

Check Also

नियमों की अनदेखी: गणतंत्र दिवस पर अल्मोड़ा के इस सरकारी स्कूल में नहीं हुआ ध्वजारोहण… पढें पृरी खबर

🔊 इस खबर को सुने अल्मोड़ा: गणतंत्र दिवस के दिन शिक्षा विभाग से एक बड़ी …