Breaking News

अल्मोड़ा: भुगतान रोकने व पेनाल्टी लगाने पर भड़के ठेकेदार… लेखाधिकारी पर लगाया यह आरोप

अल्मोड़ा: लंबे समय से बिलों का भुगतान नहीं होने, पेनाल्टी लगाने समेत अन्य मुद्दों के विरोध में पर्वतीय ठेकेदार संघ ने बुधवार को निर्माण खंड के अधिशासी अभियंता कार्यालय के बाहर जोरदार प्रदर्शन किया। ठेकेदारों ने अधिकारियों की मनमानी पर कड़ा आक्रोश जताते हुए अधिकारियों के खिलाफ मुर्दाबाद के नारे लगाए। इस दौरान ठेकेदारों ने लेखाधिकारी कार्यालय का घेराव किया। बिलों का भुगतान नहीं होने पर ठेकेदारों की लेखाधिकारी से तीखी बहस हुई।

ठेकेदारों ने कहा कि उनके द्वारा किए कार्यों का लंबे समय से भुगतान नहीं किया जा रहा है। जिससे ठेकदारों को आर्थिक संकट का सामना करना पड़ रहा है। उन्होंने निर्माण खंड में तैनात लेखाधिकारी पर अपने कार्यालय से अक्सर गायब रहने और जानबूझकर उनके बिलों को लटकाने का आरोप लगाया।

 

ठेकेदारों ने कहा किने कहा कि पत्थर, रेता, रोड़ी की क्वारी बंद होने के चलते कार्य बाधित हो रहा है। जिस कारण कार्य करने में देरी हो रही है। लेकिन पीडब्ल्यू के अधिशासी अभियंता द्वारा ठेकेदारों पर 10 प्रतिशत की अतिरिक्त पेनाल्टी लगाई जा रही है और अनुबंध में लगाई गई अतिरिक्त धरोहर धनराशि भी जब्त की जा रही है। उन्होंने कहा कि अधिशासी अभियंता, सहायक अभियंता, खंडीय लेखाधिकारी द्वारा अनाश्वयक रूप से ठेकेदारों को परेशान किया जा रहा है।

पर्वतीय ठेकेदार संघ के महासचिव सुरेद्र सिंह बेलवाल ने कहा कि ​लंबित भुगतान नहीं होने से ठेकेदार मानसिक व आर्थिक रूप से परेशान है। अगर अधिकारी अपनी मनमर्जी से बाज नहीं आए तो पर्वतीय ठेकेदार संघ कार्यालय में तालाबंदी करने के साथ ही धरना प्रदर्शन व उग्र आंदोलन करने को बाध्य होगा।

इस दौरान पर्वतीय ठेकेदार संघ के जिलाध्यक्ष प्रयाग सिंह बिष्ट, महासचिव सुरेंद्र सिंह ​बेलवाल, उपाध्यक्ष अकरम खान, जगदीश भट्ट, देवेंद्र सिंह बिष्ट, अरविंद बिष्ट, पूरन पालीवाल, जीवन सिंह मेहरा, जितेंद्र सिंह सिंग्वाल, बब्बर खान समेत अन्य कई ठेकेदार मौजूद रहे।

 

हमसे व्हाट्सएप पर जुड़ें

https://chat.whatsapp.com/IZeqFp57B2o0g92YKGVoVz

हमसे यूट्यूब पर जुड़ें

https://youtube.com/channel/UCq06PwZX3iPFsdjaIam7DiA

 

Check Also

कुमाउं में बड़ा सड़क हादसा, पर्यटकों की कार गहरी खाई में गिरी, मची चीख-पुकार

-हादसे की जांच में जुटी पुलिस, घायलों की स्थिति गंभीर   नैनीताल: उत्तराखंड के नैनीताल …