Breaking News

Uttarakhand: प्रदेश में 449 सड़कें बंद, संपर्क कटने से ग्रामीण मुसीबत में, कई जिलों में बारिश का रेड अलर्ट

इंडिया भारत न्यूज़ डेस्क: उत्तराखंड में पिछले कई दिनों से बारिश लोगो पर कहर बनकर टूट रही है। बारिश के चलते पर्वतीय क्षेत्रों में जनजीवन पटरी से उतर गया है। इसके चलते चारधाम यात्रा मार्ग पर तीर्थ यात्रियों के साथ गंगाजल भरने जाने वाले कांवड़ियों को भी दिक्कत हो रही है।

प्रदेश में 449 सड़कें बंद

प्रदेश में बारिश के चलते 449 सड़कें बंद है। इस मानसून सीजन में सड़कों के बंद होने की यह पहली बड़ी संख्या है। इससे पर्वतीय क्षेत्रों की यात्रा पर निकले लोग और तीर्थयात्री जगह-जगह फंसे हुए हैं। ग्रामीण सड़कों का बुरा हाल है। सैकड़ों गांवों का संपर्क जिला मुख्यालयों से कट गया है। इधर, सरकार ने लोगों से भारी बारिश में पहाड़ों की यात्रा नहीं करने की सलाह दी है।

पानी से भरे गड्ढे में डूबकर बच्चे की मौत

सुल्तानपुर में पानी से भरे गड्ढे में डूबकर एक 8 साल के मासूम की मौत हो गई। करीब तीन घंटे बाद शव को गड्ढे से बाहर निकाला गया। बच्चे की मौत से परिजनों में कोहराम मच गया है। वहीं, हादसे की सूचना पुलिस को नहीं दी गई है।

मदद के लिए हेल्पलाइन नंबर जारी

प्रदेश के विभिन्न स्थानों एवं हिमाचल प्रदेश में फंसे उत्तराखंड के नागरिकों की सहायता के लिए सरकार ने आपदा राहत नंबर जारी किए हैं। किसी भी मदद हेतु के लिए लोग इन नंबरों 9411112985, 01352717380, 01352712685 पर संपर्क कर सकते हैं। साथ ही 9411112780 नंबर पर व्हाट्सएप मैसेज कर सकते हैं। सीएम धामी ने ट्वीट कर इसकी जानकारी दी है।

कई जिलों में रेड अलर्ट

मौसम विभाग ने चमोली, पौड़ी, पिथौरागढ़, बागेश्वर, अल्मोड़ा, चम्पावत, नैनीताल और ऊधमसिंह नगर में बारिश का रेड अलर्ट और उत्तरकाशी, रुद्रप्रयाग, टिहरी, देहरादून, हरिद्वार के लिए येलो अलर्ट जारी किया है।

 

 

हमसे whatsapp पर जुड़े

हमसे youtube पर जुड़ें

Check Also

School Admission News: विवेकानंद इंटर कॉलेज में नए सत्र में प्रवेश प्रक्रिया शुरू, जल्द कराए पंजीकरण

  अल्मोड़ा: अगर आप भी नये सत्र में अपने बच्चों का एक अच्छे स्कूल में …