Breaking News

हिन्दी साप्ताहिक अख़बार ‘वंचित स्वर’ के 12 वर्ष पूरे होने पर विशेषांक का विमोचन, विचार गोष्ठी का हुआ आयोजन

अल्मोड़ा: नगर के रैमजे इंटर कॉलेज में साप्ताहिक अख़बार वंचित स्वर के 12 साल पूरे होने व 13वें वर्ष में प्रवेश करने पर विशेषांक का विमोचन किया गया। साथ ही विचार गोष्ठी का आयोजन किया गया।

सर्वप्रथम बाबा साहेब डाॅ. भीम राव आंबेडकर की प्रतिमा पर पुष्प अर्पित किये गए उसके बाद वक्ताओं ने गोष्ठी में अपने विचार रखें। विचार गोष्ठी का विषय ‘सामाजिक जागरूकता में वंचित स्वर की भूमिका’ था।

विचार गोष्ठी में अपने विचार रखते हुए अनुसूचित जाति, जनजाति शिक्षक एसोसिएशन के प्रांतीय अध्यक्ष संजय कुमार टम्टा ने साप्ताहिक अखबार वंचित स्वर के 12 वर्ष पूर्ण होने पर वंचित स्वर के संपादक और पूरी टीम को बधाई दी और कहा कि सामाजिक परिवर्तन में अखबारों की महत्वपूर्ण भूमिका है। उन्होंने अखबारों की ऐतिहासिक पृष्ठ भूमि पर अपने विचार रखते हुए कहा की जब से अखबारों का चलन हुआ, तब से समाज में परिवर्तन होते रहा। उन्होंने कहा कि वंचित स्वर भी उसी परंपरा को आगे बढ़ाते हुए वंचित, मजबूर, किसान, गरीबमहिलाओं की समस्याओं को प्रमुखता से उठा रहा है, जो सामाजिक परिवर्तन की दिशा में ऐतिहासिक कार्य कर रहा है।

वंचित स्वर के संपादक एडवोकेट डाॅ. प्रमोद कुमार ने कहा कि जब वह कॉलेज में थे तब से उन्हें पढ़ने—लिखने का शौक रहा है उनके द्वारा बहुत से अखबारों को लेख कविता और विभिन्न सामाजिक मुद्दों पर ज्ञापन भेजे जाते थे तो अखबारों द्वारा उन मुद्दों को पूर्ण रूप से प्रकाशित नहीं किया जाता था। बाद में उन्होंने स्वयं कई अखबारों में काम किया और जब अखबार बंद होने लगे तो 17 जुलाई 2011 को वंचित स्वर हिन्दी साप्ताहिक अख़बार का प्रकाशन शुरू किया, जो विषम आर्थिक स्थिति के बाद आज 12 वर्ष पूर्ण करके 13 वें वर्ष पर प्रवेश कर रहा है। उन्होंने अखबार को अलग—अलग माध्यमों से सहयोग करने वाले लोगों का आभार प्रकट किया। साथ ही अखबार के सफल संचालन के लिए भविष्य में भी सभी से सहयोग की अपील की।

इस दौरान वंचित स्वर के संपादक एडवोकेट डाॅ. प्रमोद कुमार को ऑल इंडिया संपादक संघ का राष्ट्रीय सलाहकार नियुक्त किये जाने पर वंचित स्वर की टीम द्वारा शॉल ओढ़ाकर उनको सम्मानित किया गया।

गोष्ठी में किशन लाल, एडवोकेट कुंवर राम, प्यारे लाल, मनदीप टम्टा, प्रमोद कुमार टम्टा, बब्लू कुमार, प्रोफेसर नीता भारती, डाॅ. विनोद कुमार सिंह, छात्र नेता कामेश कुमार, भगवत कुमार द्वारा विचार रखे।

कार्यक्रम का संचालन ब्यूरो चीफ वंचित स्वर प्रकाश चंद्र आर्या व संजय कुमार ने संयुक्त रूप से किया।

गोष्ठी में वंचित स्वर पोर्टल संचाल प्रकाश आगरी, हरीश लाल, पूर्व सैनिक राजेन्द्र प्रसाद, नयन तारा, गुड्डी भोज, प्रदीप कुमार, मनीषा अटियाल, राहुल कुमार, दिनेश राज, प्रकाश चंद्र, इंद्र कुमार समेत कई लोग मौजूद रहे।

 

हमसे whatsapp पर जुड़े

हमसे youtube पर जुड़ें

Check Also

Almora-(big breaking): बीच सड़क पर पलटा बोलेरो वाहन, पढ़ें पूरी खबर

  अल्मोड़ा: जिले में आज एक बड़ा सड़क हादसा होने टल गया। सेराघाट के पास …