Breaking News
Kotwali
Kotwali almora

Almora Breaking: चिटफंड कंपनियों से सावधान, ग्रामीणों के लाखों रुपये लेकर कंपनी फरार

36 निवेशकों से 8 लाख रुपये से अधिक की ठगी, शिकायत लेकर कोतवाली पहुंची महिलाएं

अल्मोड़ा: जिले में चिटफंड कं​पनिया लोगों को लाखों करोड़ों रूपये की चपत लगा चुकी है। इसके बाद भी कई चिटफंड कंपनिया ऐसी हैं जो डबल पैसों के लालच में लोगों से निवेश करा रही है। हैरत की बात यह है कि इस तरह धोखाधड़ी के कई मामले सामने आ चुके है बावजूद इसके लोग संभल नहीं रहे हैं।

शिकायत लेकर अल्मोड़ा कोतवाली पहुंची महिलाएं, फोटो-इंडिया भारत न्यूज

शनिवार को नगर से लगे खत्याड़ी की दर्जनों महिलाएं उनके साथ धोखाधड़ी होने की शिकायत लेकर कोतवाली पहुंची। महिलाओं ने कहा कि 2017 मार्च माह में उन्होंने स्थानीय महिला एजेंट के माध्यम से जनशक्ति मल्टीस्टेट मल्टी को-आपरेटिव सोसायटी में निवेश किया। जिसका कार्यालय माल रोड स्थित भैरव मंदिर के पास स्थित था। महिलाओं ने कहा कि एफडी की मैच्योरिटी 2021 में यानि 4 साल में पूरी होने थी। बाद निवेश की गई धनराशि मांगने पर एजेंट व कंपनी के कर्मचारी उन्हें बरगलाते रहे और उनकी एफडी भी जमा करवा ली गई। जिसके बाद 2021 में कंपनी के कर्मचारी कार्यायल बंद कर निवेशकों के लाखों रूपये लेकर यहां से फरार हो गए।

 

कंपनी में कुल 36 महिलाओं ने किया था निवेश

खत्याड़ी गांव की कुल 36 महिलाओं ने अपने एजेंट के माध्यम से जनशक्ति मल्टीस्टेट मल्टी को-आपरेटिव सोसायटी में पैसा जमा कराया। कंपनी की एजेंट बीना महाजन ने बताया कि साल 2017 के मार्च में 23 महिलाओं ने कंपनी में निवेश किया। जिसकी अवधि चार साल थी। 2021 में एफडी की मैच्योरिटी पूरी होनी थी। इसके अलावा 2017 के मई माह में 13 अन्य महिलाओं ने कंपनी में 5 साल के लिए निवेश किया। कुल 36​ निवेशकों ने 8 लाख से अधिक की रकम कंपनी में जमा कराई।

 

कमीशन व दोगुना पैसे का लालच पड़ा भारी

कंपनी की एजेंट बीना महाजन ने बताया खत्याड़ी में उनकी दुकान है। एक व्यक्ति के माध्यम से उनकी कंपनी के कर्मचारियों से बातचीत हुई। कंपनी के कर्मचारियों ने उन्हें महिलाओं की एफडी खोलने पर अच्छा कमीशन मिलने की बात कही। आश्ववासन के चलते उन्होंने गांव की महिलाओं की एफडी खोली। इधर, कोतवाली आई हेमा देवी व बिमला देवी ने बताया कि एजेंट द्वारा उन्हें कंपनी में निवेश करने पर पैसा दोगुना, तीन गुना करने का लालच दिया गया। जिसक बाद उन्होंने अपनी गाढ़ी कमाई कंपनी में निवेश कर दी।

पुलिस ने क्या कहा?

कंपनी की एजेंट बीना महाजन की ओर से इस संबंध में कोतवाली में तहरीर सौंपी गई है। प्रभारी निरीक्षक कोतवाली, अरूण कुमार ने कहा कि कई निवेशकों के लाखों रुपये लेकर जनशक्ति मल्टीस्टेट मल्टी को-आपरेटिव सोसायटी के फरार होने की शिकायत मिली है। मामले की जांच बेस चौकी इंचार्ज को सौंपी गई है। जांच में जो भी तथ्य सामने आएंगे उस आधार पर अग्रिम कार्रवाई अमल में लाई जाएगी।

कोतवाल अरूण कुमार ने बताया कि निवेशकों से ही जानकारी मिली है कि कंपनी के खिलाफ उत्तरकाशी, बागेश्वर समेत अन्य जिलों में पहले से मुकदमें दर्ज हैं।

 

ये लोग रहे मौजूद-

कोतवाली में एजेंट बीना महाजन, बिमला देवी, मोहनी देवी, भावना जलाल, सीमा आर्या, खष्टी आर्या, राधा देवी, हेमा देवी, दीपा बिष्ट, देबा सतवाल, नारायणी देवी, मीना कनवाल, बसंती देवी, मुन्नी देवी, पूजा देवी, लीला देवी, गंगा कनवाल, लीला देवी, हेमा, पूनम देवी, ललीता देवी, चंपादेवी, आशा बिष्ट, रामेश्वरी, भावना अधिकारी, ममता पोखरियाल, आनंद सिंह समेत अन्य निवेशक मौजूद रहे।

 

हमसे whatsapp पर जुड़े

हमसे youtube पर जुड़ें

https://youtube.com/channel/UCq06PwZX3iPFsdjaIam7DiA

Check Also

Almora breaking:: कोसी नदी में दो युवकों की डूबकर मौत, एक हफ्ते पहले हुई थी शादी

अल्मोड़ा: कोसी नदी में गहराई का सही अंदाजा न होने से दो जिंदगियां खत्म हो …