Breaking News

राबामावि देवायल में आयोजित दो दिवसीय संस्कृत प्रतियोगिता संपन्न, कई स्कूलों ने किया प्रतिभाग

अल्मोड़ा: उतराखण्ड संस्कृत अकादमी द्वारा आयोजित विकासखंड सल्ट की दो दिवसीय संस्कृत छात्र प्रतियोगिता का संपन्न हो गई। कनिष्ठ वर्ग की विभिन्न प्रतियोगिताओं में विकास खंड क्षेत्र के 14 विद्यालयों ने प्रतिभाग किया। जबकि वरिष्ठ वर्ग में 12 विद्यालयों की उपस्थिति रही।

कार्यक्रम में मुख्य अतिथि​ के रूप में सेवानिवृत्त जिला विद्यालय निरीक्षक दीवान सिंह नेगी, विशिष्ट अतिथि राजकीय इंटर कॉलेज टोटाम के प्रधानाचार्य दिनेश चन्द्र फुलोरिया व सेवानिवृत्त प्रधानाध्यापक बासवाानंद खर्कवाल तथा समापन समारोह की मुख्य अति​थि प्रधान ग्राम पंचायत देवायल हेमा देवी और विशिष्ट अतिथि के रूप में संस्कार भारती संस्कृत विद्यालय झीपा के प्रधानाचार्य महेश चन्द्र सुयाल ने मौजूद रहे। कार्यक्रम की अध्यक्षता खण्ड शिक्षा अधिकारी हरेन्द्र शाह ने की।

प्रतियोगिता के प्रथम दिवस में कनिष्ठ वर्ग की छह प्रतियोगिता हुई। जिसमें संस्कृत समूह गान में राजकीय कन्या इण्टर कॉलेज देवायल ने प्रथम तथा राजकीय इण्टर कॉलेज नैकणा, पैसिया ने द्वितीय स्थान प्राप्त किया। संस्कृत नाटक प्रतियोगिता में शक्तिपीठाश्रम संस्कृत विद्यालय मानिला ने प्रथम और संस्कार भारती संस्कृत विद्यालय झीपा ने द्वितीय स्थान प्राप्त किया। संस्कृत समूह नृत्य में राजकीय उच्चतर माध्यमिक विद्यालय कफल्टा ने प्रथम तथा राजकीय कन्या इण्टर कॉलेज देवायल ने द्वितीय स्थान प्राप्त किया। संस्कृत श्लोकोच्चारण में संस्कार भारती संस्कृत विद्यालय झीपा ने प्रथम और राजकीय इण्टर कॉलेज देवायल द्वितीय स्थान प्राप्त किया।

संस्कृत आशुभाषण में संस्कार भारती संस्कृत विद्यालय झीपा ने प्रथम और शक्तिपीठाश्रम संस्कृत विद्यालय मानिला ने द्वितीय स्थान प्राप्त किया। संस्कृत वाद-विवाद प्रतियोगिता में संस्कार भारती संस्कृत विद्यालय झीपा प्रथम और शक्तिपीठाश्रम संस्कृत विद्यालय मानिला ने द्वितीय स्थान पर रहा।

वरिष्ठ वर्ग की प्रतियोगिताओं में श्लोकोच्चारण में शक्तिपीठाश्रम संस्कृत विद्यालय मानिला ने पहला व अटल उत्कृष्ट राजकीय इण्टर कॉलेज क्वैराला ने दूसरा स्थान प्राप्त किया। वाद-विवाद प्रतियोगिता में संस्कार भारती संस्कृत विद्यालय झीपा ने प्रथम और शक्तिपीठाश्रम संस्कृत विद्यालय मानिला द्वितीय स्थान प्राप्त ​किया।

समूहगान प्रतियोगिता में राजकीय कन्या इण्टर देवायल प्रथम तथा शक्तिपीठाश्रम संस्कृत विद्यालय मानिला ने द्वितीय स्थान पर रहा। नाटक प्रतियोगिता में संस्कार भारती संस्कृत विद्यालय झीपा प्रथम शक्तिपीठाश्रम संस्कृत विद्यालय मानिला द्वितीय स्थान पर रहा।

आशुभाषण प्रतियोगिता में संस्कार भारती संस्कृत विद्यालय झीपा ने प्रथम और शक्तिपीठाश्रम संस्कृत विद्यालय मानिला ने द्वितीय स्थान प्राप्त किया। संस्कृत नृत्य में राजकीय कन्या इण्टर कॉलेज देवायल ने पहला और राजकीय इण्टर कॉलेज सोली ने दूसरा स्थान प्राप्त किया।

कार्यक्रम में मौजूद अतिथियों ने कहा कि विकास खंड सल्ट के सन्दर्भ में संस्कृत भाषा की बुनियाद को मजबूत करने और संस्कृत प्रतियोगिताओं को प्रतिस्पर्धात्मक बनाने में विकास क्षेत्र के दोनों संस्कृत विद्यालय संस्कार भारती संस्कृत विद्यालय, झीपा और शक्तिपीठाश्रम संस्कृत विद्यालय, मानिला का महत्वपूर्ण योगदान है।

शिक्षकों ने सफल कार्यक्रम के लिए राजकीय बालिका माध्यमिक विद्यालय, देवायल की प्रधानाचार्या अनुराधा और पूरे विद्यालय परिवार आभार जताया। शिक्षकों ने कहा कि विद्यालय परिवार ने जिस प्रकार एक टीम वर्क की तरह से अपनी जिम्मेदारियों का निर्वहन किया वह प्रशंसा के योग्य है।

शिक्षकों ने बताया कि इस बार आयोजित सभी प्रतियोगिताओं में प्रतिभागी विद्यालयों में आपस में कठिन प्रतिस्पर्धा देखने को मिली, जो भविष्य के लिए द्वितीय राजभाषा देववाणी संस्कृत के संवर्द्धन और संरक्षण के लिए अच्छे संकेत है।

 

हमसे whatsapp पर जुड़े

हमसे youtube पर जुड़ें

https://youtube.com/channel/UCq06PwZX3iPFsdjaIam7DiA

Check Also

School Admission News: विवेकानंद इंटर कॉलेज में नए सत्र में प्रवेश प्रक्रिया शुरू, जल्द कराए पंजीकरण

  अल्मोड़ा: अगर आप भी नये सत्र में अपने बच्चों का एक अच्छे स्कूल में …