Breaking News

बड़ी खबर: शिक्षकों के आंदोलन से खेल महाकुंभ पर लगा ब्रेक, खेल मंत्री रेखा आर्य ने दिया यह बड़ा बयान

अल्मोड़ा: शिक्षकों के आंदोलन के चलते शिक्षा विभाग व खेल विभाग के सामने बड़ी मुसीबत खड़ी हो गई है। जिले के 11 विकासखंडों में से अधिकांश ब्लाकों में इस साल खेल महाकुंभ का आयोजन नहीं हो सका है। जनपद दौरे पर पहुंची खेल मंत्री रेखा आर्या ने इसे दुर्भाग्यपूर्ण बताते हुए कहा कि इस मामले का समाधान निकालने के लिए उन्होंने मुख्य सचिव को पत्र लिखा है। साथ ही मुख्यमंत्री से भी आग्रह किया है।

 

गौरतलब है कि लंबित मांगों को लेकर राजकीय शिक्षक संघ प्रदेशव्यापी चरणबद्ध आंदोलन पर है।​ शिक्षकों ने मांगें पूरी होने तक शैक्षिक कार्य से इतर कोई भी कार्य नहीं करने का ऐलान किया है। शिक्षकों के आंदोलन से शिक्षा विभाग में व्यवस्थाएं चरमराने लगी है। वही, छात्र-छात्राओं के लिए आयोजित होने वाले खेल महाकुंभ पर भी इसका असर पड़ रहा है। हालांकि, खेल महाकुंभ कराने की जिम्मेदारी युवा कल्याण विभाग के पास है। लेकिन इस आयोजन में शिक्षकों की काफी महत्वपूर्ण भूमिका रहती है।

 

खेल मंत्री ने क्या कहा?

गुरुवार को अल्मोड़ा पहुंची खेल मंत्री रेखा आर्य ने कहा कि शिक्षक शैक्षिक कार्य तो कर रहे है लेकिन उन्होंने अन्य कार्यों के लिए धरना दिया है। शिक्षकों के आंदोलन से खेल महाकुंभ में न्याय पंचायत, ब्लाक, जनपद हर स्तर पर देरी हो रही है। मंत्री ने कहा कि खेल शिक्षा का अभिन्न हिस्सा है। उन्होंने शिक्षकों से आग्रह करते हुए कहा कि शिक्षकों को यहां पर संवेदनशीलता बरतने तथा विवेकपूर्ण व मार्मिक दृष्टिकोण अपनाने की जरूरत है। मंत्री ने कहा कि उन्होंने इस मामले में मुख्य सचिव को पत्र लिख शीघ्र इसका समाधान करने की बात कही है।

सफलता की ओर बढ़ रहा रेस्क्यू आपरेशन

उत्तरकाशी टनल हादसे पर मंत्री रेखा आर्य ने कहा कि मुख्यमंत्री धामी घटना की लगातार समीक्षा कर रहे हैं जबकि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी इस घटना पर निगरानी रखे हुए हैं। मंत्री ने कहा कि जल्द ही टनल से सभी 41 मजदूरों को सुरक्षित बाहर निकाल दिया जाएगा। फिलहाल सभी एजेंसिया तेजी से रेस्क्यू में जुटी है। सरकार की मंशा है जल्द से जल्द मजदूरों को टनल से बाहर निकाला जाए। इसके लिए केंद्र व राज्य सरकार कोशिश में जुटी है।

 

38 वें राष्ट्रीय खेलों के लिए उत्तराखंड सरकार तैयार

खेल मंत्री रेखा आर्या ने कहा कि राष्ट्रीय खेलों की मेजबानी उत्तराखंड को मिलना हर उत्तराखं​डवासी के लिए गौरव का क्षण है। खेल मंत्री ने कहा कि अगले साल उत्तराखंड में होने वाले 38 वें राष्ट्रीय खेलों के लिए प्रदेश सरकार तैयार है। खेल, खिलाड़ी, संसाधन सभी को विकसित करने के लिए सरकार प्रतिबद्ध है। संसाधनों के विकास में 90 से 95 फीसदी तक सरकार ने तैयारी कर ली है। राष्ट्रीय खेलों के आयोजन में कोई दिक्कत न आए इसके लिए मुख्यमंत्री द्वारा हायर पॉवर कमेटी का गठन ​कर लिया गया है। भव्य और बेहतरीन तरह से आयोजन किया जाएगा। उत्तराखंड अब उस ऐतिहासिक क्षण का इंतजार कर रहा है।

 

हमसे whatsapp पर जुड़े

हमसे youtube पर जुड़ें

https://youtube.com/channel/UCq06PwZX3iPFsdjaIam7Di

Check Also

अल्मोड़ा-(बिग ब्रेकिंग):: एक स्मैक खरीदकर लाता था तो दूसरा पुड़िया बनाकर बेचता था; लाखों रुपये कीमत की स्मैक के साथ दो तस्कर गिरफ्तार

अल्मोड़ा: पहाड़ में नशे का कारोबार तेजी से बढ़ रहा है। आलम ये है कि …