Breaking News
Featured Video Play Icon

अल्मोड़ा- (बिग ब्रेकिंग): खतरे में नौनिहालों की जान, पौष्टिक आहार के नाम पर भेजे जा रहे खराब व कीड़े पड़े अंडे

अल्मोड़ा। पौष्टिक आहार के नाम पर नौनिहालों व गर्भवती महिलाओं की जान से खिलवाड़ किया जा रहा है। जिले में एक ऐसा ही मामला प्रकाश में आया है। आंगनबाड़ी के बच्चों व गर्भवती महिलाओं को पौष्टिक आहार बांटने के नाम पर खराब अंडे ​भेज दिए गए। यही नहीं अंडों में कीड़े भी पड़े हुए है। इस मामले की भनक जब अफसरों को लगी तो हड़कंप मच गया। आनन—फानन में अंडो के वितरण पर रोक लगा दी गई है। वही, इस मामले के बाद आंगनबाड़ी कार्यकर्तियों में खासा नाराजगी देखने को मिली।

दरअसल, सरकार की योजना के तहत केंद्रों में हर महीने गर्भवती, धात्री महिलाओं के साथ ही 3 से 6 साल की आयु के आंगनबाड़ी के बच्चों को अंडे दिए जाते हैं। शनिवार को यहां खत्याड़ी आंगनबाड़ी केंद्र से हवालबाग विकासखंड के 44 आंगनबाड़ी व मिनी आंगनबाड़ी केंद्रों को पौष्टिक आहार का वितरण होना था। लेकिन जैसे ही अंडे के वितरण को लेकर पेटियां खोली गई तो कई अंडे खराब पाए गए और कई अंडों में कीड़े रेंग रहे थे। ऐसे ही कुछ अन्य पेटियों में भी अंडो में कीड़े पड़े हुए थे। विभाग ने जिस कंपनी को अंडों की सप्लाई का ठेका दिया है, अब उस पर सवाल खड़े हो रहे हैं। वही, सोशल मीडिया में भी कीड़े पड़े अंडों का वीडियो वायरल हो रहा है।

आंगनबाड़ी केंद्रों को बांट दिए गए अंडे

आंगनबाड़ी केंद्र की सुपरवाजर वसु पांडे ने मामले की जानकारी डीपीओ पीतांबर प्रसाद को दी गई। बावजूद इसके बल्क में पहुंचे अंडे आंगनबाड़ी व मिनी आंगनबाड़ी केंद्रों को वितरित कर दिए गए। हालांकि, विभागीय अधिकारियों का कहना है आंगनबाड़ी कार्यकर्तियों व सहायिकाओं को लाभार्थियों को अंडो का वितरण नहीं किए जाने के निर्देश दिए गए है। लेकिन सवाल यह है कि अगर अंडे वितरित करने ही नहीं थे तो फिर आंगनबाड़ी केंद्रों को वितरित क्यों किए गए। जबकि वितरण से पहले ही मामला प्रकाश में आ चुका था।

1860 आंगनबाड़ी केंद्रों में बांटा जाता है पौष्टिक आहार

अल्मोड़ा जिले में कुल 1860 आंगनबाड़ी केंद्र है। जिसमें 1190 पूर्ण तथा 670 मिनी आंगनबाड़ी केंद्र है। जहां हर महीने गर्भवती, धात्री महिलाओं के साथ ही 3 से 6 साल की आयु के आंगनबाड़ी के बच्चों को पौष्टिक आहार वितरित किया जाता है। डीपीओ पीतांबर प्रसाद ने बताया कि अधिकांश आंगनबाड़ी व मिनी आंगनबाड़ी केंद्रों में पौष्टिक आहार वितरित कर दिया गया है।

निदेशालय को रिपोर्ट भेजने की तैयारी

मामले में डीपीओ पीतांबर प्रसाद ने बताया कि फिलहाल अंडों ​के वितरण पर रोक लगा दी गई है और यह बात सप्लायर को बता दी गई है। सप्लायर से अंडों की दूसरी खेप भेजने को कहा गया है। डीपीओ ने बताया कि मामले को लेकर निदेशालय को भी अवगत करा दिया गया है। जल्द ही निदेशालय को रिपोर्ट भेजी जाएगी।

Check Also

School Admission News: विवेकानंद इंटर कॉलेज में नए सत्र में प्रवेश प्रक्रिया शुरू, जल्द कराए पंजीकरण

  अल्मोड़ा: अगर आप भी नये सत्र में अपने बच्चों का एक अच्छे स्कूल में …