Breaking News

पिथौरागढ़: मुंशी प्रेमचंद की जयंती पर स्कूली बच्चों ने किया बूढ़ी काकी नाटक का मंचन

पिथौरागढ़ सहयोगी: डी.डी. पंत बाल विज्ञान खोजशाला, बेरीनाग में हिंदी के कालजयी साहित्यकार, कथा सम्राट मुंशी प्रेमचन्द की 143 वीं जयंती धूमधाम के मनाई गई। इस अवसर पर बच्चों ने द्वारा पोस्टर प्रदर्शनी, कथा वाचन और नाटक का मंचन किया गया। साथ ही एक पुस्तक प्रदर्शनी का भी आयोजन किया गया।

कार्यक्रम की शुरुआत में खोजशाला की संस्थापक स्व. लीला उपाध्याय के योगदान को याद करते हुए उन्हें श्रद्धांजलि दी। कार्यक्रम स्थल में आस पास के विद्यालयों के बच्चों के बनाएं 100 से अधिक पोस्टरों की प्रदर्शनी लगाई गयी थी। जिनमें बच्चों के प्रेमचंद के जीवन और कहानियों पर आधारित चित्र बनाये थे। इस आयोजन में बच्चों ने प्रेमचंद की कहानी बूढ़ी काकी पर आधारित नाटक का मंचन किया। प्रेमचंद की विभिन्न कहानियों का भी वाचन किया। इस अवसर पर प्रेमचंद की कहानी ईदगाह पर आधारित फिल्म का प्रदर्शन भी किया गया।

प्रथम एजुकेशन फाउंडेशन के तत्वधान में आयोजित इस कार्यक्रम में आरंभ स्टडी सर्किल और किताबघर पिथौरागढ़ की ओर से पुस्तक प्रदर्शनी लगाई गयी थी।

कार्यक्रम का संचालन विनोद उप्रेती ने किया। इस दौरान खोजशाला टीम के हरीश, गौरव, कमलेश, सेवानिवृत्त शिक्षिका सुनीता पांडेय, शिक्षक बलवंत राठौर, नरेश कुमार, विजय पन्त, प्रदीप बोरा, दीपमाला, मयंक के अलावा स्कूली छात्र-छात्राएं, अभिभावक व शिक्षक-शिक्षिकाएं मौजूद रही।

Check Also

अल्मोड़ा के जन्मेजय अंतर्राष्ट्रीय युवा नेतृत्व शिविर में भाग लेने के लिए नॉर्थ मैसेडोनिया रवाना

अल्मोड़ा: नगर निवासी जन्मेजय तिवारी नॉर्थ मैसेडोनिया (North Macedonia) की राजधानी स्कोप्जे में इस हफ्ते …