Breaking News
Featured Video Play Icon

आसमानी आफतः अल्मोड़ा में 4 भवन क्षतिग्रस्त, 8 ग्रामीण सड़कें बंद, डीएम ने अफसरों को दिए अलर्ट रहने के निर्देश

अल्मोड़ाः जिले में लगातार हो रही बारिश ने कहर बरपाना शुरू कर दिया है। बारिश से जिले में अब नुकसान की खबरें सामने आने लगी है। जिले में 4 आवासीय भवन क्षतिग्रस्त हो गए है। जिसमें 3 भवन तीक्ष्ण तो एक भवन आंशिक रूप से क्षतिग्रस्त हो गया है। इसके अलावा शनिवार शाम तक जिले में 8 ग्रामीण मोटर मार्ग मलबा आने से बंद हो गए है। लगातार हो रही बारिश के बाद लोगों में भय की स्थिति उत्पन्न होने लगी है।

जिला आपदा कंट्रोल रूम से मिली जानकारी के मुताबिक जैंती तहसील में दो आवासीय भवन तीक्ष्ण रूप से क्षतिग्रस्त हो गए है। जबकि भनोली तहसील में एक आवासीय भवन तीक्ष्ण तो दूसरा आंशिक रूप से क्षतिग्रस्त हो गया है। राहत की बात यह है कि इसमें कोई हताहत नहीं हुआ है।

8 ग्रामीण सड़कें बंद

शनिवार शाम तक जिले के अलग-अलग क्षेत्रों में कुल 8 ग्रामीण मोटर मार्ग मलबा आने से बंद हो गई है। जिसमें प्रांतीय खंड अल्मोड़ा की 2, पीएमजीएसवाई सल्ट की 3, पीएमजीएसवाई द्वाराहाट की 2 व पीएमजीएसवाई सिंचाई खंड की एक सड़क शामिल हैं।

लक्ष्मेश्वर में मकान का एक हिस्सा ढहा

जिले के ग्रामीण क्षेत्रों के साथ ही नगर क्षेत्र में भी बारिश का दौर जारी है। बीती रात नगर के लक्ष्मेश्वर बाइपास के पास स्थित विवेक साह के भवन का एक हिस्सा ढह गया। अचानक दीवार गिरने की आवाज सुन लोग बाहर आए। मकान का एक हिस्सा पूर्ण रूप से क्षतिग्रस्त हो गया। लक्ष्मेश्वर वार्ड के सभासद अमित साह मोनू ने आरोप लगाया है कि नाला बंद होने की वजह से पानी विवेक साह के भवन क ओर आ रहा था। उन्होंने कहा कि कुछ लोगों द्वारा यहां पर जेसीबी द्वारा खुदान किया जा रहा है और मलबा नालों में फेख दिया जा रहा है। उन्होंने जिला प्रशासन से नगर पालिका एवं लोक निर्माण विभाग के संयुक्त रूप से निरीक्षण कराकर मामले में आवश्यक कार्यवाही करने की मांग की है। वही, जिला प्रशासन का कहना है कि यह भवन आपदा मानकों के अंतर्गत नहीं आता है।

डीएम ने अधिकारियों को दिए अलर्ट रहने के निर्देश

मौसम विभाग के अलर्ट व लगातार हो रही बारिश के चलते जिलाधिकारी वंदना ने जिले के सभी उप जिलाधिकारियों व तहसीलदारों समेत अन्य अधिकारियों को अलर्ट मोड में रहने के निर्देश दिए है। डीएम ने निर्देश दिये है कि खतरे वाले घरों से तत्काल भवन स्वामियों को सुरक्षा के दृष्टिगत शिफ्ट करा दिया जाय साथ ही सभी सड़कों में लगी जेसीबी मशीनों का सत्यापन करते हुए यह सुनिश्चित करें कि मशीनें वास्तविक रुप से लगी है या नहीं। उन्होंने निर्देश दिये है कि ग्रामीण क्षेत्रों में किसी भी आपदा की घटना की सूचना पर राजस्व टीम तत्काल मौके पर पहुंचे साथ ही अपने.अपने क्षेत्र के थानों के सम्पर्क में रहें।

डीएम ने मुख्य चिकित्साधिकारी को निर्देश दिये कि जनपद से सभी विकास खण्डों की समस्त गर्भवती महिलाओं जिनकी डिलीवरी 3 से 4 दिन के भीतर होनी तय है उनको आशा के माध्यम से तत्काल अस्पतालों में भर्ती कराया जाय। साथ ही गंभीर रोगियों को भी विशेष रुप से दूरस्थ ग्रामों के प्रधानों से तहसीलदार स्वयं फोन करते हुए उनकी कुशलता प्राप्त करे लें।

डीएम ने सभी अधिकारी को निर्देश दिये है कि किसी भी स्थिति में व अपना मोबाइल फ़ोन स्विच ऑफ नही करे। तथा बिना अनुमति के मुख्यालय नही छोड़ें। किसी भी अपरिहार्य घटना घटित होने पर ज़िला आपातकालीन परिचालन केंद्र अल्मोड़ा के दूरभाष संख्या 05962-237874 व 237875 मोबाइल व व्हाट्सएप नंबर 7900433294 पर सूचना दे।

 

हमसे व्हाट्सएप पर जुड़ें

https://chat.whatsapp.com/IZeqFp57B2o0g92YKGVoVz

हमसे यूट्यूब पर जुड़ें

https://youtube.com/channel/UCq06PwZX3iPFsdjaIam7DiA

 

Check Also

1 इंच की चूक… नहीं तो चली जाती ट्रंप की जान, रैली में अमेरिका के पूर्व राष्ट्रपति पर ताबड़तोड़ गोलीबारी

इंडिया भारत न्यूज डेस्क: अमेरिका के पूर्व राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रम्प पर जानलेवा हमला हुआ है। …