Breaking News
अजीत साहनी, फ़ाइल फ़ोटो

Almora: पहली पुण्य तिथि पर याद किए गए रंगकर्मी अजीत साहनी.. उपपा ने दी श्रद्धांजलि

उपपा ने कहा- स्वास्थ्य सेवाओं को धंधा नहीं सेवा बनाओ, कोरोना काल में जान गंवाने वाले लोगों को दी श्रद्धांजलि

अल्मोड़ा। उत्तराखंड परिवर्तन पार्टी ने उत्तराखंड के जाने माने संस्कृति कर्मी अजीत साहनी की पहली बरसी पर उन्हें याद करते हुए कहा कि कोरोना काल में बदहाल स्वास्थ्य सेवाओं, सरकार की बदइंतजामी के चलते हज़ारों लोगों ने अपने प्रियजनों, समाज के विशिष्ट व्यक्तियों को खोया है जिन्हें उपपा हार्दिक श्रद्धांजलि अर्पित करती है।

ज्ञात हो कि राष्ट्रीय स्तर पर जन संस्कृतिकर्मी की पहचान बनाने वाले रामनगर के सक्रिय साथी अजीत साहनी की बीते वर्ष 24 अप्रैल को सुशीला तिवारी अस्पताल हल्द्वानी में मृत्यु हो गई थी। आज तमाम क्षेत्रों में सामाजिक व राजनीतिक कार्यकर्ता उनकी बरसी पर उन्हें याद कर रहे हैं।

पार्टी के केंद्रीय अध्यक्ष पी. सी. तिवारी ने कहा कि इसके बावजूद सरकारों का रवैया स्वास्थ्य सेवाओं और जनता की मूलभूत ज़रूरतों को लेकर केवल जबानी जमा ख़र्च करने तक है। उपपा के केंद्रीय कार्यालय में हुई पार्टी की बैठक में पार्टी के केंद्रीय अध्यक्ष पी. सी. तिवारी ने कहा कि स्वास्थ्य सेवाओं का बाज़ार बनाने वाली सरकारी नीतियों के चलते देश के लाखों लोगों को असमय अपना जीवन खोना पड़ा। हज़ारों लोगों को दवा, ऑक्सीजन, एम्बुलेंस, वेंटिलेटर तक नहीं मिला लेकिन हमारी सरकारों ने इससे कोई सबक नहीं लिया।

बैठक में पार्टी की केंद्रीय सचिव आनंदी वर्मा, पार्टी के वरिष्ठ नेता एडवोकेट नारायण राम ने कहा कि कोरोना महामारी में शहीद हुए लोगों को श्रद्धांजलि अर्पित करने के लिए स्वास्थ्य सेवाओं को व्यापार बनाने वाली सरकारी नीतियों को बदलने की ज़रूरत है।

बैठक में एडवोकेट गोपाल राम, चम्पा सुयाल, उत्तराखंड छात्र संगठन की भारती पांडे, जगदीश चन्द्र, अनीता बजाज, किरन आर्या, नीतू टम्टा, श्रीमती हीरा आर्या, राजू गिरी आदि मौजूद रहे।

 

Check Also

उक्रांद ने मुजफ्फरनगर कांड के शहीदों को किया याद, दोषियों को सजा नहीं मिलने पर कही यह बात

🔊 इस खबर को सुने अल्मोड़ाः उक्रांद एवं राज्य आंदोलनकारियों द्वारा रविवार को गांधी पार्क …