Breaking News
Featured Video Play Icon

हाय रे सिस्टम! स्कूल में पीने को पानी तक नहीं, छात्रों व अभिभावकों ने अल्मोड़ा-हल्द्वानी एनएच में लगाया चक्काजाम

अल्मोड़ा। एक ओर जहां केंद्र और राज्य सरकार हर घर को नल से जोड़ने के लिए योजना चला रही है। वहीं, जिले के स्कूल पानी की उपलब्धता से महरूम हो रहे है। सरकारी स्कूलों में पीने का पानी भी नसीब नहीं हो रहा। हालत यह है कि बच्चों को स्कूल आने से पहले अपने लिए पानी की व्यवस्था करनी पड़ती है।

नगर से लगे राजकीय इंटर कॉलेज लोधिया में भी यही आलम है। लंबे समय से स्कूल में पेयजल की किल्लत बनी हुई है। कई बार स्कूल प्रशासन, अभिभावक संघ द्वारा मामले में अधिकारियों को अवगत करा दिया गया है। लेकिन हालात जस के तस है। कोई भी अधिकारी छात्रों की समस्या सुनने को तैयार नहीं है। पेयजल किल्लत से परेसान छात्रों व उनके अभिभावकों को आखिरकार मजबूरन प्रदर्शन व चक्काजाम का रास्ता अपनाना पड़ा। गुस्साएं छात्र—छात्राओं व अभिभावकों ने गुरुवार यानि आज अल्मोड़ा-हल्द्वानी हाईवे में लोधिया के पास चक्काजाम लगाकर प्रदर्शन किया। इस दौरान छात्रों व अभिभावकों ने जिला प्रशासन व जल संस्थान विभाग के खिलाफ जमकर नारेबाजी की।

अभिभावकों का कहना है कि लंबे समय से राजकीय इंटर कॉलेज लोधिया में पेयजल की किल्लत बनी हुई है। स्कूल तक पहुंची पेयजल लाईन सिर्फ शोपीस बनी हुई है। हालत यह है कि मिड डे मिल बनाने के लिए भोजनमाताओं को स्कूल से आधा किमी दूर जाकर पानी लाना पड़ता है। वही, छात्र-छात्राएं पीने के लिए घरों से पानी लेकर स्कूल आते है। अभिभावकों ने कहा है कि यदि पेयजल समस्या का समाधान जल्द नहीं किया गया तो वह आंदोलन तेज करने के लिए बाध्य होंगे। स्पष्ट तौर पर कहा कि अपने पाल्यों के हितों की अनदेखी वह किसी भी दशा में बर्दाश्त नहीं करेंगे।

वही, एनएच में चक्काजाम तथा छात्र-छात्राओं व अभिभावकों के आक्रोश को देख जिला प्रशासन व पुलिस प्रशासन के हाथ पांव फूल पड़े। आनन-फानन मे सीओ फोर्स के साथ मौके पर पहुंचे। जलसंस्थान के अधिकारी भी प्रदर्शन स्थल पहुंचे। इस दौरान अधिकारियों को अभिभावकों के तीखे विरोध का सामना करना पड़ा। हालांकि, बाद में आश्वासन के बाद अभिभावक व छात्र मान गए। इस दौरान दोनों ओर वाहनों की लंबी कतारें लग पड़ी।

जल संस्थान के सहायक अभियंता मंजुल मेहता ने कहा कि समस्या के समाधान को उपाय किए जा रहे हैं। इसके लिए जल संस्थान निरंतर प्रयासरत है। उन्होंने कहा कि जल्द ही स्कूल मे पेयजल किल्लत को दूर करने का प्रयास किया जाएगा।

इस दौरान स्कूली छात्र-छात्राओं, अभिभावकों के अलावा ग्राम सभा देवली, बर्शिमी, लाट, माल, चौसली व सरसो क्षेत्र के जनप्रतिनिधि भी चक्काजाम में पहुंचे। चक्काजाम करने वालों में अभिभावक संघ के अध्यक्ष राजेंद्र सिंह लटवाल, हरीश रावत, विनोद लटवाल, हरीश कनवाल, राजेंद्र बिष्ट, भोपाल बिष्ट, नवीन बिष्ट, मनोज लटवाल, विक्रम खोलिया, दिनेश लटवाल, मोहित लटवाल, पुष्कर लटवाल, राजेश खोलिया, प्रिंस मटेला, जोगा रावत, जगदीश लटवाल, मंजू देवी, नीमा रावत, जानकी रावत, गीता रावत, गोविंद लटवाल समेत कई लोग मौजूद रहे।

Check Also

अल्मोड़ा-(बिग ब्रेकिंग): गीतकार के मकान में लगी आग… 6 लाख से अधिक कीमत का सामान चढ़ा आग की भेंट

🔊 इस खबर को सुने मकान में आग लगने से मची अफरा तफरी, ग्रामीणों ने …