Breaking News

Dussehra mahotsav 2023: ‘रावण’ समेत 15 पुतलों का होगा दहन, अल्मोड़ा में दशहरा महोत्सव में इस बार ये होगा खास

अल्मोड़ा: देश में अपनी अलग पहचान रखने वाले अल्मोड़ा का ऐतिहासिक ‘दशहरा महोत्सव’ मंगलवार को धूमधाम से मनाया जाएगा। दशहरा महोत्सव को भव्य व यादगार बनाए जा सके, इसके लिए दशहरा महोत्सव समिति प्रयाासों में जुटी हैं। महोत्सव की तैयारियों को अंतिम रूप दिया जा रहा है।

मंगलवार को नगर पालिका के स्व. विजय जोशी सभागार में आयोजित प्रेस वार्ता में समिति के अध्यक्ष अजीत कार्की ने कार्यक्रम की रूपरेखा बताते हुए कहा कि इस बार रावण परिवार के कुल  15 कलात्मक पुतलों का दहन किया जाएगा। 3 बजे नगरपालिका पार्किंग में उद्धघाटन के बाद पुतलों को एसएसजे कैंपस के जूलॉजी ग्राउंड को रवाना किया जाएगा। जहां पुतलों का दहन कार्यक्रम किया जाएगा।

कार्की ने कहा कि जिला प्रशासन ने अगले वर्ष तक जीआईसी मैदान तक सड़क का निर्माण करने का आश्वासन दिया गया है। जिसके बाद अगले साल जीआईसी मैदान में ही पुतला दहन व अन्य कार्यक्रम आयोजित किए जाएंगे। उन्होंने कहा कि जिला प्रशासन द्वारा हर साल सड़क निर्माण का आश्वासन दिया जाता है लेकिन सड़क का निर्माण नहीं हो सका। उन्होंने कहा कि अल्मोड़ा का दशहरा महोत्सव देश में अपनी विशिष्ट पहचान रखता है। इसलिए इस महोत्सव को छोटे स्तर पर आयोजित नहीं किया जा सकता। अगर अगले साल सड़क नहीं बनाई तो नैनीताल हाईकोर्ट के 2016 के आदेश के अनुसार स्थानीय स्टेडियम में ही दशहरा महोत्सव मनाया जाएगा।

 

जीआईसी खेल मैदान में होंगे सांस्कृतिक कार्यक्रम

अजीत कार्की ने बताया कि जीआईसी अल्मोड़ा के खेल मैदान में शाम 7 बजे के बाद सांस्कृतिक कार्यक्रम आयोजित किए जाएंगे। नगर के स्कूलों की छात्राओं की ‘बेटी बचाओ बेटी पढ़ाओ’ थीम पर डांस प्रतियोगिता कराई जाएगी। जिसमें प्रथम पुरस्कार 15 हजार, द्वितीय पुरस्कार 11 हजार तथा तृतीय पुरस्कार की धनराशि साढ़े 7 हजार रुपये रखी गई है। इसके अलावा अन्य सांस्कृतिक कार्यक्रम आयोजित होंगे। इसके अलावा खास कार्यक्रमों में रुद्रपुर की मलंग बैंड की टीम अपनी प्रस्तुति देगी और भव्य आतिशबाजी की जाएगी।

 

प्रथम स्थान वाली पुतला कमेटी को​ 21 हजार रुपये का ईनाम

अजीत कार्की ने कहा कि इस वर्ष कुल 15 कलात्मक पुतलों का निर्माण हो रहा है। प्रत्येक पुतला कमेटी को आर्थिक सहायता के तौर पर 3100 रुपये की धनराशि दी जाएगी। इसके अलावा अनुशासन में रहने वाले व आकर्षक पुतले का निर्माण करने वाली कमेटियों को प्रथम पुरस्कार के रूप् में 21 हजार रुपये का ईनाम जबकि द्वितीय स्थान वाले को 11 हजार तथा तृतीय स्थान वाले को 5 हजार के नगद ईनाम से पुररूकृत किया जाएगा। उन्होंने कहा कि अनुशासन तोड़ने वाले व अभद्रता करने वाली कमेटी के पुतले को बाहर कर दिया जाएगा।

कार्की ने कहा कि समिति के पूर्व सदस्य स्व. सचिन टम्टा के आकस्मिक निधन के बाद समिति ने सर्वसम्मति से निर्णय लिया गया है इस बार स्व. सचिन टम्टा की धर्मपत्नी शैफाली टम्टा को कार्यक्रम में मुख्य अतिथि के रूप में आमंत्रित किया जाएगा। जबकि पूर्व वर्षो में सांसद, विधायक व अन्य लोगों को अतिथि​ के रूप में आमंत्रित किया जाता था।

प्रेस वार्ता में दशहरा महोत्सव समिति के अध्यक्ष अजीत कार्की के अलावा सचिव वैभव पांडे, मनोज जोशी, कैलाश गुरुरानी, अमरनाथ सिंह नेगी, दीप पांडे आदि मौजूद रहे।

 

हमसे whatsapp पर जुड़े

हमसे youtube पर जुड़ें

https://youtube.com/channel/UCq06PwZX3iPFsdjaIam7Di

Check Also

बिनसर हादसा अपडेट:: पल भर में खत्म हुई 4 जिंदगियां, ऐसे आग की चपेट में आए कर्मचारी.. जानिए अफसरों ने क्या कहा

अल्मोड़ा: बिनसर वन्य जीव विहार में गुरुवार शाम हुई दर्दनाक हादसे ने लोगों को झकझोर …