Breaking News
murder
murder p.c-jagran

अल्मोड़ा-(बड़ी खबर): अवैध संबंधों के शक में रिश्तों का कत्ल… बेटी ने भाई व प्रेमी के साथ मिलकर बुजुर्ग पिता को मार डाला

अल्मोड़ा: ​जिले में दिल को दहला देने वाली एक खबर सामने आई है। बेटी ने अपने भाई व प्रेमी के साथ मिलकर बुजुर्ग पिता की हत्या कर दी। इस हत्याकांड की चौथी आरोपी मृतक की नाबालिग बेटी है। बताया जा रहा है कि आरोपी बेटी व बेटे को अपने पिता पर अवैध संबंधों का शक था। जिसके चलते उन्होंने लाठी-डंडों से पीटकर व दराती से वार कर पिता को मौत के घाट उतार दिया। इस हत्याकांड से गांव समेत पूरे इलाके में सनसनी फैल गई। पुलिस ने हत्याकांड में शामिल नाबालिग छोटी बेटी को बाल संप्रेक्षण गृह और अन्य को जेल भेज दिया है।

 

पुलिस की गिरफ्त में हत्याकांड के आरोपी, फोटो- इंडिया भारत न्यूज

 

मामला अल्मोड़ा जिले के लमगड़ा थाने से करीब 30 किमी दूर स्थित भांगादेवली गांव का है। प्राप्त जानकारी के मुताबिक सुंदर लाल उम्र 60 वर्ष पुत्र दुर्गाराम आईटीबीपी से कुछ माह पहले ही सेवानिवृत्त हुए थे। सेवानिवृत्ति के बाद वह रहने के लिए गांव आ गए, जबकि उनकी बड़ी बेटी डिंपल (25), बेटा रितिक (21) और छोटी नाबालिग बेटी देहरादून में पिता के सरकारी क्वाटर मे रहते थे। 28 दिसम्बर को दोनों बेटियां, बेटा और बड़ी बेटी का प्रेमी हर्षवर्धन पुत्र प्रसादी लाल निवासी संगम विहार दिल्ली गांव पहुंचे।

पुलिस के मुताबिक बीती शाम चारों ने मृतक के भाई को परिवार सहित मारपीट कर घर से भगा दिया। कुछ ही देर में घर से चिल्लाने की आवाज आने लगी। जिसके बाद ग्रामीण मौके पर घटनास्थल पहुंचे। जहां सुंदर लाल का शव पड़ा हुआ था। आरोपियों ने भागने का प्रयास किया, लेकिन गांव वालों ने उन्हें दबोचकर कमरे में बंद कर दिया। शनिवार तड़के पुलिस ने गांव पहुंचकर आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया।

 

पूछताछ में आरोपियों ने क्या कहा

मामले की विवेचना कर रहे थानाध्यक्ष लमगड़ा दिनेश नाथ महंत ने बताया कि पूछताछ में आरोपी के बेटा-बेटी ने बताया कि, ‘हमारे पिता ITBP से रिटायर आकर हमारे चाचा के परिवार के साथ गांव भांगादेवली लमगड़ा में रह रहे थे, हम लोग देहरादून में पढाई करते है, उनके पिता उनको पढाई व रहने खाने का कोई पैसा नही दे रहे थे। जिस कारण डिम्पल द्वारा अपने दोस्त हर्षवर्द्धन को दिल्ली से बुलाया और चारों ने योजना बनाकर 29 दिसंबर की शाम अपने पिता सुन्दर लाल की घर में हाथ बांधकर हत्या कर दी।’

एसओ दिनेश नाथ महंत ने बताया कि आरोपी बेटा-बेटी ने पूछताछ के दौरान यह भी बताया कि उनके पिता के अवैध संबंध थे। जिस कारण उनकी मां (मृतक की पत्नी) अकसर टेंशन में रहा करती थी। 2018 में उनकी मां का निधन हो गया था।

थानाध्यक्ष महंत ने बताया कि मृतक की बड़ी बेटी देहरादून में एक निजी स्कूल में शिक्षिका के पद पर कार्यरत है। छोटी बेटी कक्षा 9वीं की छात्रा है। जबकि आरोपी बेटा जिम ट्रेनर है। बड़ी बेटी का प्रेमी गाजियाबाद में प्राइवेट जॉब करता है।

पुलिस ने मृतक के भाई सुन्दर लाल पुत्र दुर्गा राम, निवासी ग्राम भांगादेवली थाना लमगड़ा की तहरीर पर आरोपियों के खिलाफ हत्या का मुकदमा दर्ज कर लिया है। विधि विवादित नाबालिग छोटी बेटी को बाल संप्रेक्षण गृह और अन्य आरोपियों को जेल भेज दिया है।

पुलिस टीम में थानाध्यक्ष लमगड़ा दिनेश नाथ महंत, एसआई सुनील कुमार, एएसआई विक्रम सिंह, हेड कांस्टेबल दीवान राम, देवराज सिंह व कांस्टेबल अर्जुन लाल आदि शामिल थे।

 

हमसे whatsapp पर जुड़े

हमसे youtube पर जुड़ें

https://youtube.com/channel/UCq06PwZX3iPFsdjaIam7Di

Check Also

बिनसर हादसा अपडेट:: पल भर में खत्म हुई 4 जिंदगियां, ऐसे आग की चपेट में आए कर्मचारी.. जानिए अफसरों ने क्या कहा

अल्मोड़ा: बिनसर वन्य जीव विहार में गुरुवार शाम हुई दर्दनाक हादसे ने लोगों को झकझोर …