Breaking News

अंकिता भंडारी हत्याकांड मामले में कांग्रेस ने राज्यपाल को भेजा ज्ञापन, कहा- दोषियों को बचा रही भाजपा सरकार

 

अल्मोड़ा: कांग्रेस जिला अध्यक्ष भूपेंद्र सिंह भोज के नेतृत्व में मंगलवार को कांग्रेस कार्यकर्ताओं ने जिलाधिकारी के माध्यम से राज्यपाल को ज्ञापन भेजा। कांग्रेसजनों ने अंकिता भंडारी प्रकरण में अंकिता के माता पिता द्वारा कथित वीआईपी के नाम के खुलासे को गंभीरता से लेकर संबंधित व्यक्ति को शीघ्र जांच के दायरे में लेने की मांग की है।

राज्यपाल को संबोधित ज्ञापन में कांग्रेस कार्यकर्ताओं ने बीजेपी सरकार पर अंकिता केस में पैरवी कर रहे अधिवक्ताओं को प्रताड़ित करने का आरोप लगाते हुए राज्यपाल से त्वरित संज्ञान लेने की मांग की है।

 

 

जिला अध्यक्ष कांग्रेस भूपेंद्र सिंह भोज ने कहा कि अंकिता हत्याकांड में रिजॉर्ट से अहम सबूत मिटाने में भाजपा की स्थानीय विधायक और एसडीएम की भूमिका रही है, जिस पर धामी सरकार चुप्पी साधे है। कांग्रेस ने कहा कि सरकार निरंतर इस मामले को दबाने में जुटी हुई है। लेकिन कांग्रेस पार्टी इस मुद्दे को लेकर प्रदेशव्यापी आंदोलन चलाकर दोषियों और उनको बचाने वाली बीजेपी सरकार के खिलाफ सड़कों पर संघर्ष करती रहेगी।

 

 

ज्ञापन देने वालों में जिला अध्यक्ष भूपेंद्र सिंह भोज के अलावा नगर अध्यक्ष तारा चंद्र जोशी, जिलाध्यक्ष महिला कांग्रेस राधा बिष्ट, पूर्व दर्जा राज्य मंत्री केवल सती, जिला उपाध्यक्ष मनोज सनवाल, बार एसोसिएशन उपाध्यक्ष कविंद्र पंत, नगर महिला अध्यक्ष दीपा साह, महिला जिला महामंत्री जया जोशी, तारा तिवारी, एन डी पांडे, जिला प्रवक्ता निर्मल रावत, शरद चंद्र साह, अरविंद रौतेला, बिशन सिंह बिष्ट, चंदन सिंह भोज, विक्रम सिंह बिष्ट, रमेश लटवाल, ललित पंत, परितोष जोशी, एडवोकेट कुंदन भंडारी, एडवोकेट जमन सिंह बिष्ट, विनोद फुलारा, हिमांशु मेहता, धनंजय साह, मोहन सिंह देवली, रुचि कुटौला, रोहन कुमार, राजेन्द्र बोरा, पुष्पा पांडे, निर्मला कांडपाल, तारा भंडारी, रोहित सत्याल, प्रदीप बिष्ट, पवन मेहरा, ललित सतवाल, अमित बिष्ट मुन्ना, नितिन रावत, गौरव सतवाल, संदीप तड़ागी, वीरेंद्र बंगारी आदि शामिल रहे।

 

Check Also

बिनसर हादसा अपडेट:: पल भर में खत्म हुई 4 जिंदगियां, ऐसे आग की चपेट में आए कर्मचारी.. जानिए अफसरों ने क्या कहा

अल्मोड़ा: बिनसर वन्य जीव विहार में गुरुवार शाम हुई दर्दनाक हादसे ने लोगों को झकझोर …