Breaking News

महिला की बच्चेदानी में था 8 किलो का ट्यमूर… अल्मोड़ा जिला अस्पताल के डॉक्टरों ने भगवान बनकर ऐस बचाई जान

अल्मोड़ा: अकसर आपने यह कहावत सुनी होगी कि डॉक्टर भगवान का दूसरा रूप होते है।  शुक्रवार को यह कहावत 60 वर्षीय पार्वती देवी के लिए उस वक्त चरितार्थ हो गई, जब जिला अस्पताल में डॉक्टरों ने उसके बच्चेदानी से एक आठ किलो का ट्यूमर (8 kg tumor) निकाल कर सफल ऑपरेशन को अंजाम दिया। सरकारी अस्पतालों की स्थिति किसी से छिपी नहीं है इसलिए खास बात यह है कि सीमित संसाधनों में ही डॉक्टरों ने यह कारनामा कर दिखाया।

दरअसल, धौलादेवी विकास खंड के कोटमहरबिंद दुनाड़ निवासी पार्वती देवी (60) को लंबे समय से पेट दर्द की समस्या थी। जांच में पता चला कि उसकी बच्चेदानी में गांठ बन गई है।, जो धीरे-धीरे बढ़ती जा रही है। महिला करीब 10 साल से इस समस्या से परेशान थी।

डॉक्टरों के मुताबिक बीते दिन पार्वती देवी अपनी समस्या लेकर महिला अस्पताल पहुंची। जहां जांच के बाद डॉक्टरों ने आपरेशन के लिए हाथ खड़े कर दिए और महिला को रेफर कर दिया। जिसके बाद वह जिला अस्पताल पहुंची। जहां जांच के बाद डॉक्टरों ने महिला को एडमिट कर दिया और डॉक्टरो की टीम ने ट्यूमर निकालने की तैयारी की। इसके बाद शुक्रवार को करीब 1 घंटे के आपरेशन कर महिला के बच्चेदानी से 8 किलो का ट्यूमर निकाला। इस ऑपरेशन को जिला अस्पताल के पी.एम.एस व सर्जन डॉक्टर पी.के.सिन्हा व जनरल सर्जन डॉक्टर सौरभ सिंह (PMS and surgeon Dr. P.K. Sinha and General Surgeon Dr Saurabh singh) ने लीड किया।

 

महिला बोली, ‘डॉक्टरों ने उसे दूसरा जन्म दिया’

इस सफल आपरेशन के बाद पार्वती देवी व उसके परिजनों ने ऑपरेशन करने वाली डॉक्टरों की टीम का आभार जताया है। पार्वती देवी ने कहा कि, डॉक्टरों ने उसे आज दूसरा जन्म दिया है। आज सच में उन्हें विश्वास हो गया कि डॉक्टर धरती में भगवान का दूसरा रूप होते हैं। फिलहाल वह जिला अस्पताल में भर्ती है। जहां डॉक्टर लगातार उन पर निगरानी रखे हुए हैं।

एक दर्जन से अधिक सफल आपरेशन कर चुके है डॉ. सिन्हा

जिला अस्पताल में पी.एम.एस के पद पर तैनात डॉक्टर पी.के. सिन्हा एक मिसाल बन कर सामने आए है। अपने मूल कार्य के अलावा वह अस्पताल के प्रशासनिक कार्यो का भी जिम्मेदारी के साथ निर्वहन कर रहे है। जिला अस्पताल में तैनाती के बाद वह अब तक 15 सफल ऑपरेशन कर चुके हैं।

ऑपरेशन में यह रहे मौजूद-

पी.एम.एस व सर्जन डॉक्टर पी.के सिन्हा, जनरल सर्जन डॉ. सौरभ सिंह, एनेस्थेटिस्ट डॉक्टर मनोरंजन पंत, एनेस्थेटिस्ट डॉक्टर कविता पोखरिया के अलावा सिस्टर इंचार्ज एलविना, प्रियंका, नेहा, राजेश, गणेश, अमित, मनोज आदि मौजूद रहे।

 

हमसे व्हाट्सएप पर जुड़ें

https://chat.whatsapp.com/IZeqFp57B2o0g92YKGVoVz

हमसे यूट्यूब पर जुड़ें

https://youtube.com/channel/UCq06PwZX3iPFsdjaIam7DiA

Check Also

कुमाउं में बड़ा सड़क हादसा, पर्यटकों की कार गहरी खाई में गिरी, मची चीख-पुकार

-हादसे की जांच में जुटी पुलिस, घायलों की स्थिति गंभीर   नैनीताल: उत्तराखंड के नैनीताल …